Maharashtra: नाना पटोले बोले, कांग्रेस दोबारा धोखा नहीं खाना चाहती

Maharashtra नाना पटोले ने कहा कि कांग्रेस के साथ 2014 में धोखा हो चुका है। अब वह दोबारा धोखा नहीं खाना चाहती। इसलिए वह खुद को हर परिस्थिति के लिए तैयार कर रही है। 2024 में वह पूरी तैयारी के साथ चुनाव में उतरेगी।

Sachin Kumar MishraWed, 14 Jul 2021 07:34 PM (IST)
नाना पटोले बोले, कांग्रेस दोबारा धोखा नहीं खाना चाहती। फाइल फोटो

राज्य ब्यूरो, मुंबई। महाराष्ट्र कांग्रेस के अध्यक्ष नाना पटोले ने कहा कि कांग्रेस के साथ 2014 में धोखा हो चुका है। अब वह दोबारा धोखा नहीं खाना चाहती। इसलिए वह खुद को हर परिस्थिति के लिए तैयार कर रही है। 2024 में वह पूरी तैयारी के साथ चुनाव में उतरेगी। नाना पटोले प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष की जिम्मेदारी संभालने के बाद से ही अपने बयानों के कारण चर्चा में हैं। पहले उन्होंने अगला विधानसभा चुनाव कांग्रेस द्वारा अकेले लड़ने की बात कहकर सरकार में अपने दोनों सहयोगी दलों शिवसेना व राकांपा की नाराजगी मोल ले ली। पिछले शनिवार को उन्होंने मुख्यमंत्री व उपमुख्यमंत्री द्वारा खुद पर नजर रखने की बात कहकर इस नाराजगी को और बढ़ा दिया। बुधवार को उन्होंने 2014 के चुनावों का उल्लेख करते हुए कांग्रेस के दोबारा धोखा नहीं खाने की बात कही है।

उनका इशारा 2014 के विधानसभा चुनाव से ठीक पहले राकांपा द्वारा गठबंधन तोड़ दिए जाने की ओर है। दरअसल, कांग्रेस उससे पहले 2004 और 2009 के विधानसभा चुनाव राकांपा के साथ मिलकर लड़ी थी। लेकिन 2014 में सीटों के समझौते पर बात नहीं बनने के कारण अचानक गठबनधन टूट गया था। जिसके कारण कांग्रेस को नुकसान उठाना पड़ा था। तब कांग्रेस 2009 की तुलना में 40 सीटें कम जीतकर 42 पर सिमट गई थी। क्योकि जिन सीटों पर पिछले एक दशक से राकांपा लड़ती आई थी, वहां उसका संगठन ही नहीं था। नाना पटोले प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद से ही पूरे राज्य में कांग्रेस कार्यकर्ताओं की सभाएं कर रहे हैं। ऐसी ही एक सभा में बोलते हुए शनिवार को उन्होंने कहा था कि राज्य में कांग्रेस पुनः खड़ी हो रही है।

यह देखकर शिवसेना व राकांपा के पैरों तले की जमीन खिसकने लगी है। इसलिए मुख्यमंत्री व उपमुख्यमंत्री हम पर नजर रख रहे हैं। बाद में नाना ने स्पष्टीकरण दिया था कि सरकार चलाना व पार्टी चलाना, दोनों अलग-अलग काम हैं। हम अपने कार्यकर्ताओं का उत्साहवर्द्धन करने के लिए सभाएं कर रहे हैं। नाना ने यही बात बुधवार को भी दोहराई है कि वे कांग्रेस को 2024 के विधानसभा चुनाव के लिए तैयार कर रहे हैं। ताकि उसे दोबारा धोखा नहीं खाना पड़े। 2014 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस 42 सीटों के साथ तीसरे स्थान पर थी। जबकि 2019 में वह 44 सीटों के साथ चौथे स्थान पर आ गई है। इन दिनों नाना पटोले द्वारा दिए जा रहे बयानों व कांग्रेस को मजबूत करने के लिए उनके द्वारा किए जा रहे प्रयासों से शिवसेना और राकांपा तो परेशान हैं ही, कांग्रेस का भी वह गुट असहज महसूस कर रहा है, जो शांति से महाविकास अघाड़ी सरकार में बने रहना चाहता है। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.