Mumbai Local Train News: 29 जनवरी से पूरी क्षमता के साथ पटरियों पर दौड़ेगी मुंबई लोकल ट्रेन

29 जनवरी से मुंबई लोकल रेल सेवा पूरी क्षमता के साथ पटरियों पर दौड़ेगी

29 जनवरी 2021 से लोकल ट्रेन को पूरी क्षमता के साथ चलाने के लिए रेल मंत्रालय और महाराष्ट्र सरकार ने अनुमति दे दी है लेकिन इसमें आम लोगों को सफर के लिए अभी भी इजाजत नहीं दी गई है। इसका लाभ केवल आवश्‍यक सेवा से जुड़े लोग ही उठा पाएंगे।

Publish Date:Wed, 27 Jan 2021 09:52 AM (IST) Author: Babita Kashyap

मुंबई, एएनआइ। मुंबई की लाइफलाइन कही जाने वाली लोकल ट्रेन को लेकर एक बड़ी भरी खबर सामने आई है। मिली जानकारी के अनुसार 29 जनवरी 2021 से मुंबई लोकल रेल सेवा पूरी क्षमता के साथ पटरियों पर दौड़ सकेगी। हालांकि आम लोगों को इससे किसी प्रकार की राहत नहीं मिलेगी, दरअसल वेस्टर्न रेलवे की इन लोकल ट्रेनों में सिर्फ आवश्‍यक सेवाओं से जुड़े लोग ही सफर कर पाएंगे। बता दें कि ये लोकल ट्रेनें यात्रियों की सीमित संख्‍या के साथ चलायी जा रही थी लेकिन अब ये पूरी क्षमता के साथ चल सकेगी। 

 पश्चिम रेलवे और मध्य रेलवे ने 29 जनवरी से मुंबई उपनगरीय नेटवर्क पर मौजूदा 2,781 सेवाओं को बढ़ाकर 2,985 सेवाओं के साथ सभी उपनगरीय सेवाओं को शुरू करने का निर्णय लिया है। मध्य रेलवे ने उपनगरीय सेवाओं को मौजूदा 1,580 से 1,685 सेवाओं तक बढ़ाने का फैसला किया है और पश्चिमी रेलवे ने 29 जनवरी से प्रभावी 1,201 उपनगरीय सेवाओं को 1,300 सेवाओं तक बढ़ाने का फैसला किया है, दोनों क्षेत्रों के सीपीआरओ ने ये जानकारी साझा की है। 

 गौरतलब है कि रेल मंत्रालय और महाराष्ट्र सरकार द्वारा अनुमति प्राप्त यात्रियों को केवल उपनगरीय ट्रेनों से सफर करने की अनुमति है। जबकि अन्य लोगों से रेलवे स्टेशनों पर न जाने का अनुरोध किया गया है। यात्रियों को बोर्डिंग, यात्रा और गंतव्य पर यात्रा के दौरान COVID-19 से संबंधित सभी मानदंडों, मानक संचालन प्रक्रियाओं (SOPs) का पालन करने की सलाह दी गई है।

 मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने दिया था आश्‍वासन

 कोरोना संक्रमण के कारण लोकल ट्रेन सेवा पर ये प्रतिबंध लगाया गया था। हालांकि कुछ दिन पहले हुई बैठक में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा था कि जल्‍द ही ये प्रतिबंध हटा लिया जाएगा और आम आदमी लोकल रेल सेवा का लाभ उठा सकेगा। बैठक में ये भी चर्चा हुई थी कोरोना महामारी के बीच रेल सेवा पुन: कैसे शुरू की जाये। सरकार  ने कोरोना महामारी के कारण अभी आम लोगों को रेल में यात्रा की छूट नहीं दी है लेकिन रेल को पूरी क्षमता के साथ चलाने का फैसला किया है।   

यूं ही नहीं कहलाती मुंबई की लाइफलाइन 

मुंबई की लाइफलाइन कहलाने वाली लोकल रेल सेवा से प्रतिदिन 85 लाख यात्री सफर करते हैं। प्रतिदिन 3200 रेल अपनी सेवा देती है। मुंबई महानगरीय क्षेत्र (MMR) 157 स्टेशनों को मिलाकर 390 किलोमीटर तक फैला हुआ है। मुंबई के मशहूर डब्‍बावालों से लेकर अपने घर से ऑफिस तक का सफर तय करने के लिए लोग इस पर निर्भर रहते हैं। कोरोना काल में बंद ही हुई लोकल सेवा को आम लोगों के लिए शुरु करने की मांग यहां के नागरिक लगातार कर रहे हैं। लेकिन कोरोना संक्रमण के कारण अभी भी आम लोगों को इसमें सफर की इजाजत नहीं दी गई है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.