Mumbai Rain: मुंबई में भारी बारिश, पीएम मोदी ने की सीएम उद्धव से बात

Mumbai Rain: मुंबई में भारी बारिश, पीएम मोदी ने की सीएम उद्धव से बात

Mumbai Rain मुंबई में तेज हवा के साथ हो रही बारिश के कारण 100 से ज्यादा वृक्ष गिरने व करीब छह स्थानों से दीवारें या घरों के हिस्से ढहने की खबरें आ चुकी हैं।

Publish Date:Wed, 05 Aug 2020 09:20 AM (IST) Author: Babita kashyap

मुंबई, ब्यूरो/एजेंसियां। मुंबई व तटवर्ती कोंकण क्षेत्र में भारी बारिश का दौर बुधवार को भी जारी रहा। जिसके कारण मुंबई के कई ऐसे क्षेत्रों में भी बुधवार को जलभराव देखा गया, जहां अमूमन जलभराव नहीं होता। मौसम विभाग के अनुसार, गुरुवार को भी मुंबई, कोंकण, ठाणे और पालघर क्षेत्रों में भारी बारिश जारी रह सकती है। मुंबई में बारिश का दौर सोमवार शाम से ही जारी है। बुधवार शाम तक 170 मिमी से ज्यादा बारिश दर्ज की जा चुकी है। तेज हवा के साथ हो रही बारिश के कारण 100 से ज्यादा वृक्ष गिरने व करीब छह स्थानों से दीवारें या घरों के हिस्से ढहने की खबरें आ चुकी हैं। गनीमत है कि कहीं से किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। शाम के बाद से बारिश का दौर और तेज हो गया है।

पीएम मोदी ने की सीएम उद्धव से बात, दिया मदद का आश्वासन 

प्रधानमंत्री कार्यालय के मुताबिक, पीएम नरेंद्र मोदी ने फोन पर महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे से भारी बारिश के कारण मुंबई और आसपास के इलाकों में व्याप्त स्थिति के बारे में बात की। पीएम ने हर संभव मदद का आश्वासन दिया है। 

रेलवे ट्रैक में पानी भर जाने से दो ट्रेनें फंसी, एनडीआरएफ ने 40 लोगों को बचाया

मुंबई में भारी बारिश की वजह से रेलवे ट्रैक में पानी भर जाने से मस्जिद और भायखाला रेलवे स्टेशनों के बीच दो ट्रेनें फंस गईं। इन ट्रेनों में कई यात्री फंस गए हैं। एनडीआरएफ ने रेस्क्यू कर अभी तक 40 लोगों को बचाया है। बताया जाता है कि इन ट्रेनों में अभी कुछ अन्य यात्री भी फंसे हैं।

वहीं, मौसम विभाग ने चेतावनी दी है कि रात में स्थिति और गंभीर हो सकती है। लगातार बारिश के कारण दक्षिण मुंबई के उन इलाकों में भी जलभराव देखा गया, जहां कभी यह स्थिति नहीं आती थी। माना जा रहा है कि दक्षिण मुंबई में चल रहे मेट्रो के काम के कारण यह स्थिति पैदा हुई है। जलभराव के साथ-साथ जगह-जगह वृक्ष गिरने से भी महानगर का यातायात बाधित हुआ है। मध्य रेलवे की लोकल ट्रेनें सीएसएमटी से कुर्ला स्टेशनों के बीच बंद रहीं। हार्बर रेलवे की लोकल ट्रेनें सीएसएमटी से वाशी के बीच बंद रहीं। पश्चिम रेलवे की भी कई ट्रेनें दादर, मुंबई सेंट्रल एवं बांद्रा स्टेशनों तक ही चलाई जाती रहीं।

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे स्वयं स्थिति पर नजर रख रहे हैं। उनकी ओर से बीएमसी को सतर्क रहने के निर्देश दिए गए हैं एवं लोगों को आवश्यक काम न होने पर घर पर ही रहने की सलाह दी गई है। बीएमसी की ओर से लोकल ट्रेनें बंद होने के कारण अपने घरों से दूर फंसे यात्रियों को आसपास के बीएमसी स्कूलों में ठहराने की व्यवस्था की जा रही है। कोंकण से लगे पश्चिम महाराष्ट्र के कोल्हापुर, सांगली एवं सातारा आदि जिलों में भी भारी बारिश की आशंका को देखते हुए वहां एनडीआरएफ की टीमें तैनात कर दी गई हैं। पूरे महाराष्ट्र में एनडीआरएफ की कुल 15 टीमें तैनात की गई हैं। पिछले साल हुई भारी बारिश में कोल्हापुर एवं सांगली को बड़ी बाढ़ का सामना करना पड़ा था। कोंकण क्षेत्र कुछ माह पहले आए तूफान से भी बड़ा नुकसान उठा चुका है।

महाराष्ट्र में मुंबई के कुछ हिस्सों में बुधवार को भारी बारिश हुई। भारी बारिश की वजह से शहर के कुछ हिस्सों में सड़कों पर पानी भर गया। इस कारण आने-जाने वाले लोगों और वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ा। मुंबई में भारी बारिश के साथ तेज हवाएं भी चल रही हैं। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आइएमडी) ने छह अगस्त तक शहर में भारी बारी की संभावना जताई है। इधर, तेज हवाओं के चलते शहर में कई जगहों पर पेड़ गिर गए हैं। 

उद्धव ने अधिकारियों को सतर्क रहने और तैयार रहने का निर्देश दिया

मुख्यमंत्री कार्यालय के मुताबिक, महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने मुंबई और आसपास के क्षेत्रों में भारी बारिश के बाद स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने अधिकारियों को सतर्क रहने और तैयार रहने का निर्देश दिया क्योंकि भारत मौसम विज्ञान विभाग ने वीरवार को भारी बारिश का अनुमान लगाया है। 

सीएम उद्धव ठाकरे ने बीएमसी को हाई अलर्ट पर रहने के लिए कहा है क्योंकि लगातार दूसरे दिन मुंबई में भारी बारिश जारी है। चूंकि आईएमडी की भविष्यवाणी है कि कल तक भारी बारिश जारी रहेगी, सीएम ने नागरिकों से अपील की है कि यदि आवश्यक हो तो ही घर से बाहर निकलें और उद्यम करें: सीएमओ

मुंबई पुलिस ने कहा, घर के अंदर रहे लोग

पुलिस ने कहा कि हम मुंबई के लोगों से अनुरोध करते हैं कि वे घर के अंदर रहें और तब तक बाहर न निकलें, जब तक कि यह अत्यंत आवश्यक न हो। सभी आवश्यक सावधानियों का अभ्यास करें और किनारे या जलभराव वाले क्षेत्रों के पास उद्यम न करें।

पिछले 12 घंटे में शहर के अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश हुई। 150 मिमी से अधिक बारिश वाले पश्चिमी उपनगरों पर बारिश का ज्‍यादा प्रभाव पड़ा।मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में कोंकण में भारी बारिश होने की संभावना जताई है। दक्षिण मध्य महाराष्ट्र और मराठवाड़ा के आसपास के  हिस्सों में भी मूसलाधार बारिश होने की पूरी संभावना है।

अरब सागर के ऊपर मानसून के सक्रिय होने से सोमवार को मुंबई में भारी बारिश दर्ज की गयी थी। भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने मुंबई और उसके उपनगरीय क्षेत्रों में अगले दो दिनों तक भारी बारिश होने की चेतावनी जारी की है। मौसम पूर्वानुमान बताने वाली एजेंसियों का कहना है कि चार-पांच अगस्त को महानगर और महाराष्ट्र के अन्य इलाकों में तेज बारिश होगी। बीएमसी ने मौसम को देखते हुए मुबंईवासियों को घर में ही रहने की सलाह दी है। 

 मौसम का पूर्वानुमान बताने वाली निजी एजेंसी स्काईमेट वेदर का भी यही कहना है कि ने कहा कि मुंबईवासियों को चार और पांच अगस्त को बाहर जाने से बचने की सलाह दी जाती है, छह अगस्त से इसकी तीव्रता घटने लगेगी। समुद्र में हाइटाइड की आशंका को देखते हुए मौसम विभाग ने मछुआरों को भी सलाह दी है कि वे बंगाल की खाड़ी के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र बनने के कारण पूर्वी तट पर गहरे समुद्र में नहीं जाएं। जैसा कि मौसम विभाग ने चेतावनी जारी की थी मंगलवार दोपहर को समुद्र में हाइटाइड के चलते ऊंची लहरें उठती देखी गयी थी।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.