top menutop menutop menu

Sushant Singh Rajput Case: डीसीपी परमजीत बोले, मुझे नहीं मिली सुशांत के पिता की शिकायत

Sushant Singh Rajput Case: डीसीपी परमजीत बोले, मुझे नहीं मिली सुशांत के पिता की शिकायत
Publish Date:Wed, 05 Aug 2020 04:54 PM (IST) Author: Sachin Kumar Mishra

मुंबई, एएनआइ। Sushant Singh Rajput Case:  मुंबई के डीसीपी परमजीत सिंह दहिया ने बुधवार को कहा है कि बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के पिता ने उन्हें 25 फरवरी को वॉट्सएप पर संदेश भेजा था। मैंने सुशांत के पिता से स्पष्ट कहा कि वह लिखित शिकायत दें। वह चाहते थे कि मिरांडा नाम का व्यक्ति पुलिस हिरासत में रहे। हमें कभी कोई लिखित शिकायत नहीं मिली। गौरतलब है कि सुशांत 14 जून को रहस्यमय परिस्थितियों में मृत पाए गए थे। मुंबई पुलिस ने तत्काल इसे आत्महत्या का मामला करार दे दिया, लेकिन कोई भी आत्महत्या की कहानी को पचा नहीं पाया। इस बीच, महाराष्ट्र भाजपा के वरिष्ठ नेता नारायण राणे ने सुशांत सिंह राजपूत और उनकी पूर्व मैनेजर दिशा सालियान की मौत के मामले में मुंबई पुलिस एवं महाराष्ट्र सरकार पर कई सनसनीखेज आरोप लगाए हैं।

उनका कहना है कि सुशांत और दिशा, दोनों की हत्या हुई है। दिशा ही हत्या से पहले उसके साथ दुष्कर्म किया गया। इन दोनों मामलों की जांच एक-दूसरे से जोड़कर ही की जानी चाहिए।सुशांत और दिशा सालियान की मौत को लेकर मुंबई पुलिस पहले से सवालों के घेरे में है। दिशा की मौत सुशांत की मौत से छह दिन पहले हुई थी। महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि मेरी जानकारी के अनुसार दिशा की पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चला है कि उसकी दुष्कर्म के बाद हत्या हुई है। रिपोर्ट में उसके प्राइवेट पा‌र्ट्स पर चोट के निशान मिले हैं।

वहीं, सुशांत मामले में महाराष्ट्र सरकार के एक मंत्री का नाम उछलता देख मंगलवार को शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे के पुत्र और महाराष्ट्र के पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे खुद सफाई देने मैदान में आ गए। नारायण राणे के आरोपों से तिलमिलाए आदित्य ने एक प्रेसनोट जारी कर कहा कि भद्दे आरोपों से सरकार और ठाकरे परिवार को बदनाम किया जा सकेगा, इस भ्रम में कोई न रहे। हालांकि अब तक किसी ने खुलकर आदित्य का नाम नहीं लिया है। इसके बावजूद उन्होंने कहा कि सुशांत की आत्महत्या के साथ कई लोग मेरा और ठाकरे परिवार का नाम जोड़ रहे हैं। अपने दादा एवं शिवसेना संस्थापक बाला साहब ठाकरे की दुहाई देते हुए उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र, शिवसेना और ठाकरे परिवार की गरिमा को ठेस पहुंचे, ऐसा कृत्य उनके हाथों से कभी नहीं होगा।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.