top menutop menutop menu

Mumbai Rain: मुंबई-कोकण में भारी बारिश से सात की मौत

Mumbai Rain: मुंबई-कोकण में भारी बारिश से सात की मौत
Publish Date:Tue, 04 Aug 2020 07:28 AM (IST) Author: Babita kashyap

राज्य ब्यूरो, मुंबई। मुंबई सहित पूरे कोकण में सोमवार शाम से हो रही भारी बारिश में अब तक सात लोगों के मारे जाने की सूचना है। अर्द्धरात्रि से सुबह तक हुई 200 मिमी बारिश से मुंबई की यातायात व्यवस्था भी चरमरा गई है। मौसम विभाग के अनुसार, बुधवार और गुरुवार को भी बरसात की यही रफ्तार रहने की संभावना है।

ठाणे के घोड़बंदर रोड पर एक 15 वर्षीय बालक की बिजली का करंट लगने से व नई मुंबई के घनसोली क्षेत्र में एक महिला की डूबने से मौत हो गई। मुंबई के सांताक्रूज में एक दीवार के ढह जाने से चार लोग एक नाले में गिर गए। इनमें से सिर्फ डेढ़ वर्षीय बच्ची व एक महिला का शव बरामद किया जा सका है, बाकी लोग नाले के तेज बहाव में बह गए हैं। उनका अब तक पता नहीं चल सका है। कोकण के रत्नागिरी जनपद से भी एक व्यक्ति के डूब कर मरने की खबर आ रही है।

बृहन्मुंबई महानगरपालिका क्षेत्र में सोमवार रात से हो रही तेज बारिश को देखते हुए महाराष्ट्र सरकार ने आज मुंबई में सार्वजनिक अवकाश घोषित कर दिया था और लोगों को घरों में ही रहने की सलाह दी गई थी। मुंबई के कांदीवली क्षेत्र में वेस्टर्न एक्सप्रेस हाइवे पर पहाड़ी धंसने से इस प्रमुख मार्ग पर यातायात बिल्कुल ठप हो गए। जिसके कारण दक्षिण मुंबई की ओर जाने और आनेवाले वाहनों को ईस्टर्न एक्सप्रेस हाइवे से गुजारना पड़ा। तेज बारिश के कारण हमेशा की तरह मुंबई के किंग्स सर्कल, सायन, हिंदमाता, दादर, पोस्टल कॉलोनी, अंधेरी एवं मलाड सबवे, जोगेश्वरी तथा दहिसर आदि में भारी जलभराव हो गया। इससे उपनगरीय बसों एवं लोकल ट्रेनों की सेवाएं काफी प्रभावित हुई हैं। पश्चिम रेलवे तो कुछ समय के लिए बंद ही रही है। मुंबई से बाहर जाने वाली लंबी दूरी की कई ट्रेनों के टाइम टेबल में भी बदलाव करना पड़ा है।

महाराष्ट्र के पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे, मुंबई की महापौर किशोरी पेडणेकर व बीएमसी कमिश्नर इकबाल सिंह चहल ने एक साथ मध्य मुंबई के जलभराव वाले कुछ इलाकों का दौरा किया। आदित्य ठाकरे ने एक बयान में कहा कि 2005 के बाद संभवतः पहली बार मुंबई ने 12 घंटे के अंदर इतनी तेज बारिश देखी है। आदित्य के अनुसार सिर्फ हिंदमाता क्षेत्र में ही पांच घंटे के अंदर 198 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई है। मुंबई की मीठी नदी, ओशिवरा नदी, पोइसर एवं दहिसर नदियां पूरे बहाव के साथ बह रही हैं। इनके किनारे बसी झोपड़ पट्टियों के निवासियों को अतिरिक्त सावधानी बरतने के निर्देश दिए गए हैं। राहत की बात यह है कि मुंबई को पेयजल की आपूर्ति करने वाले बड़े बांधों व झीलों के इलाके में भी अच्छी बारिश हो रही है।

मुंबई में मंगलवार को भारी बारिश के चलते इमारत गिरने से तीन लोग बह गए। एनडीआरएफ की टीम ने मुंबई के सांताक्रूज के धोबीघाट इलाके में अग्रीपाड़ा में इमारत ढहने से नाले में बहे तीन लोगों में से दो शव बरामद किए हैं। इनमें एक शव महिला का है और दूसरा डेढ़ साल की बच्ची का है। सात साल की बच्ची को खोजने के लिए तलाशी अभियान जारी है। इधर, हाइटाइड के आते ही समुद्र में ऊंची लहरें उठनी शुरू हो गई हैं। साथ ही, भारी बारिश का दौर भी जारी है। मौसम विभाग ने मंगलवार और बुधवार को भारी बारिश की चेतावनी जारी की थी। अरब सागर के ऊपर सक्रिय मानसून के मजबूत होने से मुंबई में लगातार बारिश हो रही है।

मौसम विभाग ने अगले 48 घंटों में लगातार बारिश की संभावना को देखते हुए मुंबई, उत्तरी कोंकण और महाराष्ट्र के ठाणे जिले में रेड अलर्ट जारी किया है। मौसम का अनुमान लगाने वाली एजेंसियों का कहना है कि एक पखवाड़े के अंतराल पर मुंबई में भारी बारिश का यह दूसरा दौर होगा। 

महाराष्ट्र के मंत्री आदित्य ठाकरे और बीएमसी आयुक्त इकबाल चहल ने मुंबई में बारिश के कारण प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया।

सांताक्रूज़ पूर्व में त्रिमूर्ति चॉल के तीन कमरे बारिश के कारण ढह गए। इन कमरों के पीछे स्थित खुले नाले में गिरने से एक महिला व दो लड़कियां लापता हो गयी। हालांकि इस हादसे की शिकार हुई एक लड़की को बचा लिया गया है और उसे वी एन देसाई अस्पताल में भर्ती करवा दिया गया है जबकि अन्‍य दो कि तलाश जारी है।   

निजी मौसम एजेंसी स्काईमेट वेदर ने मुंबईवासियों को चार और पांच अगस्त को बाहर नहीं निकलने की सलाह दी है। इसके बाद छह अगस्त से बारिश की तीव्रता घटनी शुरु हो जाएगी। रात भर हुई भारी बारिश के कारण मुंबई के कुछ हिस्सों से भूस्खलन भी हुआ है।

पुणे के कुछ इलाकों में भी सुबह से बारिश हो रही है, सेनापति बापट (SB) रोड का एक दृश्य।

बीएमसी आयुक्त से मिली जानकारी के अनुसार, " मुंबई में बीते 10 घंटों में  230 मिमी बारिश हो चुकी है। सुबह से लगातार हो रही बारिश के कारण यहां बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गये हैं। भारी बारिश की वजह से मीठी नदी का जलस्‍तर बढ़ गया है, वह खतरे के निशान को पार कर चुकी है। जलस्‍तर को देखते हुए लोगों की आवाजाही रोक दी गयी है।   "

राजधानी मुंबई मे लगातार हो रही तेज बारिश के चलते किंग्स सर्कल इलाके में काफी पानी भर गया है जिससे यातायात की आवाजाही प्रभावित हो रही है। 

कई इलाकों में भरा पानी, हाइटाइड आने की संभावना

मुंबई में बारिश का दौर जारी है, पिछले 10 घंटों में यहां 230 मिमी से अधिक वर्षा दर्ज की गई है। बृहन्मुंबई नगर निगम ने चेतावनी जारी की है कि मुंबई में मंगलवार दोपहर हाइटाइड आने की संभावना है जिसके चलते समुद्र में 4.45 मीटर ऊंची लहरें उठेंगी। 

वेस्टर्न एक्सप्रेस हाइवे पर मराठा कॉलोनी के पास सांताक्रूज़ ईस्ट में लगातार बारिश के कारण पानी भर गया है।       

मुंबई में लगातार वर्षा के बाद कांदिवली क्षेत्र में लोगों के घरों के अंदर बारिश का पानी प्रवेश कर गया है।

अत्याधिक जलभराव से यातायात प्रभावित

बारिश के कारण पश्चिमी लाइन पूरी तरह से बंद हो गई और कुर्ला और छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस (CSMT) के बीच हार्बर लाइन भी बंद है। सेंट्रल लाइन धीमी गति से चल रही है। सड़कों पर अत्‍याधिक जलभराव की समस्‍या को देखते हुए मुंबई शहर और उपनगरों के विभिन्‍न हिस्‍सों में बसों के आठ रूट डायवर्ट कर दिये गये हैं। 

मानसूनी बारिश के कारण मुंबई के विभिन्‍न इलाकों में पानी भर गया है। मुंबई के लोअर परेल में भी वर्षा के कारण सड़कें जलमग्‍न हो गयी हैं। बता दें कि भारतीय मौसम विज्ञान विभाग  (आईएमडी) ने मुंबई और उसके उपनगरीय क्षेत्रों में मंगलवार व बुधवार को भारी वर्षा होने की चेतावनी जारी की है।  

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.