ओमिक्रोन के खतरे को देख बीएमसी का बड़ा फैसला, कक्षा 1 से 7वीं तक के स्‍कूल खोलने की तारीख आगे बढ़ी

Mumbai School Reopen Newsओमिक्रोन वायरस के खतरे को देखते हुए बीएमसी ने मुंबई में कक्षा 1 से 7वीं तक के स्‍कूलों को खोलने की तारीख को आगे बढ़ाते हुए 15 दिसंबर तय की है। पहले ये स्‍कूल आज 1 दिसंबर से खोले जा रहे थे।

Babita KashyapPublish:Wed, 01 Dec 2021 09:38 AM (IST) Updated:Wed, 01 Dec 2021 10:03 AM (IST)
ओमिक्रोन के खतरे को देख बीएमसी का बड़ा फैसला, कक्षा 1 से 7वीं तक के स्‍कूल खोलने की तारीख आगे बढ़ी
ओमिक्रोन के खतरे को देख बीएमसी का बड़ा फैसला, कक्षा 1 से 7वीं तक के स्‍कूल खोलने की तारीख आगे बढ़ी

मुंबई, मिड डे। कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रोन के खतरे को देखते हुए बीएमसी ने स्‍कूल खोलने की तारीख आगे बढ़ा दी है अब कक्षा 1 से 7वीं तक के स्‍कूल 15 दिसंबर से खोले जाएंगे। बता दें कि इससे पहले कक्षा 1 से 7वीं तक के स्‍कूल 1 दिसंबर से खुलने वाले थे जबकि कक्षा 8 से 12वीं तक के स्‍कूल 4 अक्‍टूबर से खुले हुए हैं।

बीएमसी के के अलावा पुणे नगर निगम (Pune Municipal Corporation) ने भी स्कूलों को खोलने की तारीख 15 दिसंबर तक बढ़ा दी है। वहीं नागपुर में भी स्कूलों को 10 दिसंबर तक नहीं खोलने का निर्णय लिया गया है। वहीं मुंबई के स्कूलों को खोलने की तारीख आगे बढ़ा दी गई है। नवी मुंबई के स्कूलों को भी 15 दिसंबर को खोला जाएगा। हालांकि पहले आज 1 दिसंबर से ही स्‍कूल खोलने का फैसला लिया गया था।

मुंबई में ओमिक्रॉन का खतरा लगातार मंडरा रहा है, बीते 15 दिनों में यहां दक्षिण अफ्रीकी देशों से लगभग एक हजार यात्री आए हैं और जिनमें से मात्र 100 लोगों की ही जांच हो पायी है। बीएमसी के पास अभी 466 लोगों की ही सूची है, जबकि 534 लोगों की जानकारी अभी नहीं मिल पायी है।गौरतलब है कि ओमिक्रॉन संस्करण (बी.1.1.529), कोरोनावायरस का एक नया संस्करण, पहली बार बोत्सवाना में 11 नवंबर, 2021 को रिपोर्ट किया गया था, और 14 नवंबर को दक्षिण अफ्रीका में दिखाई दिया। इसे विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने चिंताजनक घोषित किया है। विश्‍व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की ओर से सोमवार को आगाह किया गया था कि प्रारंभिक साक्ष्य के आधार पर वायरस के नए स्वरूप 'ओमीक्रोन' से विश्व को काफी खतरा पैदा हो सकता है और इसके 'गंभीर परिणाम' सामने आ सकते हैं। वहीं संयुक्त राष्ट्र की स्वास्थ्य एजेंसी ने सदस्य देशों को एक तकनीकी ज्ञापन जारी कर कहा था कि नए वैरिएंट को लेकर काफी अनिश्चितता' बनी हुई है।