Ahmadnagar Hospital Fire: अहमदनगर के सिविल अस्पताल में आग लगने से 11 मरीजों की मौत, पीएम मोदी ने जताया दुख

Fire in Hospital Ahmednagar Maharashtra अहमदनगर जिले में सिविल अस्पताल के आइसीयू में शनिवार सुबह आग लगने के कारण 11 मरीजों की मौत हो गई है। आग लगने का कारण शार्ट सर्किट माना जा रहा है लेकिन सही कारण का पता विस्तृत जांच के बाद ही चल सकेगा।

Babita KashyapSat, 06 Nov 2021 01:36 PM (IST)
अहमदनगर जिला अस्पताल में आग लगने से 11 लोगों की मौत

मुंबई, राज्य ब्यूरो महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले में सिविल अस्पताल के आइसीयू में शनिवार सुबह आग लगने के कारण 11 मरीजों की मौत हो गई है। आग लगने का कारण शार्ट सर्किट माना जा रहा है, लेकिन सही कारण का पता विस्तृत जांच के बाद ही चल सकेगा। महाराष्ट्र के कोविड अस्पतालों में इसके पहले भी आग लगने की कई घटनाएं हो चुकी हैं। सिविल अस्पताल के कोविड आइसीयू वार्ड पर शनिवार सुबह करीब 10.30 बजे जब आग लगी तो वार्ड में कुल 17 मरीज भर्ती थे। बताया जा रहा है कि शार्ट सर्किट से लगी आग के बाद सिर्फ सात मरीजों को वार्ड से बाहर लाया जा सका। बाकी दस मरीजों की आईसीयू में ही मौत हो चुकी थी। एक मरीज ने बाद में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

शहर के जिलाधिकारी राजेंद्र भोसले के अनुसार आग लगने के बाद आइसीयू से सुरक्षित बाहर निकाले गए कोविड मरीजों को एक अन्य अस्पताल में इलाज के लिए भेजा गया है। उनके अनुसार अस्पताल का फायर आडिट किया गया था। आग लगने की प्रारंभिक वजह शार्टसर्किट मानी जा रही है। राज्य के वरिष्ठ मंत्री व राकांपा प्रवक्ता नवाब मलिक ने भी घटना पर खेद जताते हुए कहा है कि अस्पताल के आइसीयू का निर्माण हाल ही में कोरोना मरीजों के इलाज के लिए किया गया था। नए बने आइसीयू में आगजनी की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अग्निकांड पर दुख जताते हुए मारे गए लोगों को परिजनों को सांत्वना दी है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मारे गए लोगों के परिजनों को पांच-पांच लाख की सहायता की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि घटना की जांच में जो भी दोषी पाए जाएंगे, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने अहमदनगर के प्रभारी मंत्री हसन मुश्रिफ व राज्य के मुख्य सचिन सीताराम कुंटे को स्थिति पर नजर बनाए रखने के निर्देश दिए हैं। महाराष्ट्र के कोविड अस्पतालों में आग लगने की यह पहली घटना नहीं है। पिछले वर्ष से अब तक करीब आधा दर्जन कोविड अस्पताल आग की चपेट में आ चुके हैं।

इसी वर्ष अप्रैल में मुंबई से 70 किमी दूर विरार के एक कोविड अस्पताल के आइसीयू में आग लगने से 15 लोग मारे गए थे। अप्रैल में ही ठाणे के एक अस्पताल में शार्ट सर्किट से लगी आग में चार मरीजों की मौत हो गई थी। उससे एक महीने पहले मुंबई के ही भांडुप में एक माल में विशेष अनुमति के साथ चल रहे कोविड अस्पताल में आग लगने से 10 मरीजों के अपनी जान गंवानी पड़ी थी। इसके अलावा नासिक के डा. जाकिर हुसैन कोविड अस्पताल में आक्सीजन का प्रवाह टूटने से 25 मरीज मारे गए थे।

इस बीच, पीएम नरेन्द्र मोदी ने कहा कि महाराष्ट्र के अहमदनगर के एक अस्पताल में आग लगने से हुई लोगों की मृत्यु से दुखी हूं। पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदना। घायल लोग जल्द से जल्द स्वस्थ हों।

इधर, सीएमओ के मुताबिक, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने अहमदनगर जिला अस्पताल के आइसीयू वार्ड में लगी आग पर शोक व्यक्त किया है और घटना की जांच के आदेश दिए हैं।

वहीं, अहमदनगर ज़िला अस्पताल में लगी आग की घटना पर महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि प्रत्येक मृतक के परिजन को पांच-पांच लाख रुपये देने की घोषणा की गई है। डीसी को घटना की जांच करने और एक सप्ताह में रिपोर्ट देने का आदेश दिया गया।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.