VIDEO: मोहन भागवत बोले-भारत हिंदू राष्ट्र, हिंदू के बिना भारत और भारत के बिना हिंदू का कोई अस्तित्व नहीं

Mohan Bhagwat in Gwalior आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि हिंदू और भारत अलग नहीं हो सकते हैं। भारत को भारत रहना है तो भारत को हिंदू रहना ही पड़ेगा। हिंदू को हिंदू रहना है तो भारत को अखंड बनना ही पड़ेगा।

Sachin Kumar MishraSat, 27 Nov 2021 08:18 PM (IST)
मध्य प्रदेश के ग्वालियर में शनिवार को आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत। फोटो एएनआइ।

ग्वालियर, जेएनएन। मध्य प्रदेश के ग्वालियर में शनिवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सरसंघचालक डा. मोहन भागवत ने कहा कि भारत हिंदू राष्ट्र है। हिंदू के बिना भारत और भारत के बिना हिंदू का कोई अस्तित्व नहीं है। जब-जब हिंदुत्व की भावना कमजोर हुई, तब-तब हम संख्या में कम हुए हैं और हमारा विखंडन भी हुआ है। भारत की अखंडता को बनाए रखने के लिए आवश्यक है कि हिंदुओं में हिंदुत्व की भावना प्रबल हो। इस मौके पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थे। संघ प्रमुख ने इजरायल का उदाहरण देते हुए कहा कि यहूदियों का सांस्कृतिक इतिहास इजरायल से जुड़ा हुआ है। यहूदियों को भी पूर्व में अन्यत्र भूभाग देने की कई प्रयास हुए, लेकिन उन्होंने अपनी जमीन नहीं छोड़ी। यही वजह है दुनिया में यहूदियों का अस्तित्व आज भी बना हुआ है। उन्होंने कहा कि भारत के लोग मन और विचारों से दूसरों से जुड़े होते हैं। हमारे बीच संबंध बनाने के लिए व्यापार का होना जरूरी नहीं है। उन्होंने भारत और अमेरिका के बीच संबंधों पर कहा कि अमेरिका हमेशा से ही भारत से अपने रिश्ते सुदृढ़ करना चाहता है, लेकिन उनके संबंधों में व्यापारिक मूल्य अधिक होते हैं और वे अमेरिकियों के हित को सर्वोपरि रखते हैं। इसमें कोई बुराई नहीं है।

पाकिस्तान चाहता तो हिंदुस्तान नाम रख सकता था

संघ प्रमुख ने कहा विभाजन के बाद पाकिस्तान चाहता तो अपने देश का नाम हिंदुस्तान रख सकता था, लेकिन उसे पता था कि जब भी हिंदुस्तान का नाम लिया जाएगा तो उस नाम से हिंदू और भारत को अलग नहीं कर पाएंगे। इसी वजह से उसने पाकिस्तान नाम रखना उचित समझा। उल्लेखनीय है कि ग्वालियर के केदारधाम में 25 नवंबर से शुरू हुए मध्य भारत प्रांत के स्वर साधक संगम (घोष शिविर) में शामिल होने के लिए मोहन भागवत शुक्रवार रात यहां पहुंचे थे। वे 28 नवंबर तक यहीं रहेंगे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.