जानें कौन थीं मधुलिका रावत, जनरल बिपिन रावत जिनपर छिड़कते थे जान, देखें उनकी अनदेखी तस्‍वीरें

Know who was Madhulika Rawat भारत के पहले सीडीएस जनरल बिपिन रावत की पत्‍नी मधुलिका सिंह रीवा राज घराने से ताल्‍लुक रखतीं थीं। मधुलिका के पिता मृगेंद्र सिंह सोहागपुर क्षेत्र के इलाकेदार थे। मृगेंद्र सिंह की बेटी मधुलिका की शादी बिपिन रावत से 1986 में हुई थी।

Vijay KumarWed, 08 Dec 2021 07:56 PM (IST)
भारत के पहले सीडीएस जनरल विपिन रावत की पत्‍नी मधुलिका सिंह

शहडोल/ जेएनएन। भारत के पहले सीडीएस जनरल बिपिन रावत की पत्‍नी मधुलिका सिंह रीवा राज घराने से ताल्‍लुक रखतीं थीं। मधुलिका सिंह के पिता मृगेंद्र सिंह सोहागपुर क्षेत्र के इलाकेदार थे। मृगेंद्र सिंह की बेटी मधुलिका की शादी बिपिन रावत से 1986 में हुई थी। बिपिन रावत को अपनी पत्‍नी मधुलिका से वे बेहद लगाव था। अंतिम पलों में भी वे साथ रहे और दुखद हादसे में एक साथ ही जिंदगी को अलविदा कह गए।

शहडोल को सैनिक स्कूल देने का था सपना

सीडीएस बिपिन रावत के छोटे साले हर्षवर्धन सिंह ने बताया कि अभी दशहरा के समय उनकी दीदी और जीजा बिपिन रावत से मुलाकात हुई थी। वो जनवरी में शहडोल आने वाले थे और उन्होंने कहा था कि वो शहडोल को एक सैनिक स्कूल देना चाहते हैं।

मधुलिका रावत के भाई यशवर्धन सिंह ने बताया कि कल दीदी ने बताया था कि किसी महत्वपूर्ण कार्यक्रम में जा रहे हैं। यह नहीं बताया की कहां जा रहे हैं, क्योंकि सेना के कार्यक्रमों को गोपनीय रखा जाता है। लोगों ने जब टेलीविजन पर हेलीकाप्टर के क्रैश होने की खबर देखी तब से लोग इस हादसे को लेकर काफी बेचैन थे। जनरल बिपिन रावत के साले साहब यशवर्धन सिंह से जब उनके फोन पर बात की तो उन्होंने कहा कि दीदी और जीजाजी हेलीकाप्टर में सवार थे और वह हेलीकाप्टर क्रैश हो गया है।

अभी ज्यादा कुछ हमें भी पता नहीं है। शहडोल वाले घर पर सिर्फ नौकर है, जो बात नहीं कर रहा है। हादसे की जानकारी लगते ही मधुलिका के भाई यशवर्धन भोपाल से दिल्ली रवाना हो गए। हादसे की वजह खराब मौसम बताई जा रही है। वहीं, दुर्घटना के कारणों का पता लगाने के लिए भारतीय वायु सेना ने जांच के आदेश दिए हैं।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, दुर्घटनास के वक्त हेलीकाप्टर में कुल 14 लोग सवार थे। इनमें सीडीएस जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी मधुलिका रावत, ब्रिगेडियर एलएस लिद्दर, लेफ्टिनेंट कर्नल हरजिंदर सिंह, नायक गुरसेवक सिंह, नायक जितेंद्र कुमार, लांस नायक विवेक कुमार, लांस नायक बी साई तेजा और हवलदार सतपाल शामिल थे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.