दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

World Earth Day 2021: इन छोटी-छोटी आदतों के जरिए भी आप कर सकते हैं धरती की हिफ़ाजत

शॉवर के नीचे नहाता हुआ छोटा बच्चा

World Earth Day 2021 अगर हम वास्तव में पृथ्वी को खुशहाल देखना चाहते हैं तो पृथ्वी दिवस प्रतिदिन मनाए जाने की आवश्यकता है। रोजमर्रा के काम और आदतों में बदलाव लाकर काफी हद तक हम धरती को बचा सकते हैं।

Priyanka SinghThu, 22 Apr 2021 09:13 AM (IST)

धरती की हिफाजत करने, एनर्जी कंजर्वेशन, बिजली-पानी और आबोहवा की सुरक्षा करने के लिए आमतौर पर सोचा जाता है कि इसमें हम क्या ही योगदान दे सकते हैं ये तो सरकार का काम है लेकिन अगर अवेयर हैं तो एक मिनट का समय देकर छोटी-छोटी आदतों के जरिए भी धरती को सुरक्षित कर सकते हैं।

1. लंबे वक्त तक बाल्टी भर कर नहाने के बजाय छोटे शावर से काम चलाएं। इससे पानी की बचत के साथ ही बिजली का बिल भी कम आएगा।

2. घर में एयरकंडीशनिंग या हीटिंग के वक्त कोशिश करें कि जहां आप कूलिंग करना चाहते हैं वहां दरवाजे व फ्रिंजेस से हवा स्केप न हो। ऐसा करने से बिजली की बचत होती है।

3. फ्रिज के दरवाजे को बंद रखें। केवल एक बार खोलने से ही उसके अंदर के एक क्वॉर्टर से ज्यादा ठंडी हवा बाहर चली जाती है। साथ ही, कहीं शहर से बाहर जा रहे हो तो बेहतर है उसे बंद कर दें।

4. अगर आप हॉब पर खाना बना रहे हैं तो कोशिश करें कि सॉसपैन उतना बड़ा हो जितना हीटिंग एलिमेंट है। इससे पैन जल्दी गर्म होगा और ऊर्जा खपत कम होगी।

5. दांतों को ब्रश करते वक्त या फिर शेविंग करते वक्त वॉश बेसिन का नल खुला न रखें। एक मिनट तक नल से बहते पानी के कारण एक लीटर पानी बर्बाद हो सकता है।

6. जिन नलों में से पानी रिसता रहता है उन्हें ठीक कराएं। एक रिसते नल में से औसतन 5500 लीटर पानी बर्बाद हो सकता है।

7. गार्डन होज व स्प्रिंकलर्स एक हजार लीटर प्रति घंटे तक पानी बर्बाद कर सकते हैं जो कि किसी एरवेज फैमिली की वॉटर डेली यूज से भी ज्यादा है।

8. अगर आप कोई बेहद स्टेन्ड चीज को धो रहे हैं तो ही डिश वॉशर या वॉशिंग मशीन को फुल एबिलिटी पर ऑपरेट करें। हाथ से धोना बेहतर ऑप्शन हो सकता है।

9. अगर संभव हो सके तो अपनी वॉशिंग मशीन में कोल्ड साइकल का इस्तेमाल करें। हर बार हॉटवॉश से बचने पर ऊर्जा समय और पैसा तीनों की बचत होती है।

10. घर में एनर्जी एफिशिएंट लाइट बल्ब लगाएं। इससे ऊर्जा तो बचेगी ही आपके बिजली का बिल भी 90 परसेंट कम आएगा।

11. लो एनर्जी इंकजेट प्रिंटर का इस्तेमाल करें। लेजर प्रिंटर की अपेक्षा यह कम ऊर्जा खपत करता है।

12. क्या आप अब भी फुल साइज्‍ड कंप्यूटर यूज करते हैं। इसके बजाय लैपटॉप या अल्ट्राबुक का इस्तेमाल करके आप ऊर्जा खपत को आधा कर सकते हैं।

13. बेहतर होगा फ्रिज को खाली रखने के बजाय उसे भरकर रखें। इससे उसे कूलिंग में कम ऊर्जा लगेगी। मगर, बेवजह की चीज़ों को भी फ्रिज में स्टॉक करने से बचें।

14. डिशवॉशर को तभी चालू करें जब यह फुल हो। हाफ लोड होने में भी उतनी ही ऊर्जा खपत होती है जितना की आधे में, इसलिए बेहतर है कि एक बार में ही सारे बर्तन साफ कर लें।

15. वॉशिंग मशीन पर भी यही प्रिंसिपल लागू होता है। हालांकि, अगर उसमें इकोनॉमी फंक्शन है तो बेहतर है क्योंकि वह कम लोड में भी काम कर सकता है। कपड़े तब ही धोएं जब ड्रम फुल हो जाए।

16. इलेक्ट्रिकल एप्लाएंसेस को स्टैंड बाय मोड पर न छोड़ें। ऐसा करके आप ऊर्जा खपत और बिजली बिल दोनों में कटौती कर सकते हैं।

17. स्टैंडबाय सेवर में इनवेस्ट करें। ये आपके सभी डिवाइसेज को एक बार में स्टैंडबाय मोड से ऑफ करने में मदद करता है।

18. घर में जब रूम से बाहर निकल रहे हों तो लाइट, फैन व अन्य जरूरी एप्लाइंसेज को बंद कर दें। ऐसा करके आप एनर्जी और पैसा दोनों बचा सकते हैं।

19. किचन और बाथरूम में लगे एग्जॉस्ट फैन को बेवजह हमेशा ऑन न रखें बल्कि जरूरत के हिसाब से ही यूज करें।

20. अगर आप अपने कंप्यूटर, लैपटॉप, मोबाइल या अन्य गैजेट का यूज नहीं करने वाले हैं तो उसे बजाय स्क्रीनसेवर मोड में रखने के बंद करना बेहतर होगा। वहीं, वॉल सॉकेट में लगे चार्जर्स को निकाल कर यूज करने के बाद स्विच को ऑफ कर दें। इससे एनर्जी बचाने में आपको मदद मिलेगी।

Pic credit- freepik

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.