top menutop menutop menu

इस धूमकेतू को हजार साल बाद नग्न आंखों से फिर से देख सकेंगे लोग

नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। वैसे तो अंतरिक्ष अनगिनत रहस्यों से भरा पड़ा है, मगर कभी-कभी अंतरिक्ष की कुछ घटनाएं पृथ्वी पर भी अपना असर दिखाती हैं। अंतरिक्ष में अधिकतर ऐसी घटनाएं होती है, जिन्हें इनसान किसी भी तरह से देख ही नहीं सकते, लेकिन एक अपने किस्म की अद्भुत घटना 14 जुलाई से  घटने जा रही है। जिसे लोग नग्न आंखों से भी देख सकते हैं। हजार साल में एक बार दिखने वाला NEOWISE नाम का धूमकेतु 14 जुलाई से आसमान में स्पष्ट रूप से देखा जा सकेगा।

धरती के उत्तरी गोलार्द्ध पर रहने वाले लोग इस धूमकेतु को नग्न आंखों से देख सकेंगे। यानी भारत में भी यह NEOWISE धूमकेतु दिखाई देगा। 14 जुलाई से एक धूमकेतु, उत्तर-पश्चिमी आकाश में स्पष्ट रूप से दिखाई देगा। यह अगले 20 दिनों तक लगभग 20 मिनट तक सूर्यास्त के बाद दिखाई देगा। लोग इसे नग्न आंखों से देख सकते हैं।

बता दें कि अमेरिका की अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने मार्च में एक अजीब घटना अपने कैमरे में कैद की थी। नासा ने पता लगाया कि धरती से 200 मिलियन किलोमीटर दूर एक धूमकेतु स्थित है, जो काफी दूर होने की वजह से साफ-साफ दिखाई नहीं दे रहा था। एस्ट्रोनॉमर्स ने 5 जुलाई को इसे ऐरिजोना में देखा था। इस धूमकेतु की तस्वीर ऐस्ट्रोफटॉग्रफर क्रिस ने ली थी। 11 जुलाई की सुबह आसमान में सबसे ऊंचाई पर होने की वजह से यह दिखा नहीं।

वैज्ञानिकों के अनुसार, धूमकेतु NEOWISE सूर्य से 44 मिलियन किलोमीटर नजदीक से गुजर चुका है। तब से यह धूमकेतु धीरे-धीरे हर रोज क्षितिज के करीब पहुंचता रहा। जुलाई महीने के बीच में यह सूर्यास्त के तुरंत बाद दिखाई देगा। वैज्ञानिकों का कहना है कि यह धूमकेतु 22-23 जुलाई को धरती के सबसे नजदीक होगा। 22-23 जुलाई को इसकी धरती से दूरी सिर्फ 100 मिलियन किलोमीटर होगी। 

                 Written By Shahina Noor

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.