Koo बना भारत की आवाज, विचार और अनुभव साझा करने के लिए कई महान हस्तियों ने इस स्वदेशी ऐप को चुना

आम लोगों से लेकर सेलिब्रिटी तक हर कोई इस लोकप्रिय भारतीय ऐप का तेजी से इस्तेमाल कर रहा है। कुछ बेहतरीन फीचर्स ने इस ऐप की लोकप्रियता को और बढ़ा दिया है। इसका ‘टॉक टू टाइप’ फीचर एक अनोखा फीचर है।

Ruhee ParvezMon, 15 Nov 2021 11:42 AM (IST)
Koo बना भारत की आवाज, कई महान हस्तियों ने इस स्वदेशी ऐप को चुना

नई दिल्ली, ब्रांड डेस्क। सामाजिक, राजनीतिक, आर्थिक, सांस्कृतिक, मनोरंजन और क्रिकेट पर अपने विचार और अनुभव साझा करने के लिए माइक्रो ब्लॉगिंग ऐप Koo- Bharat Ki Awaaz बन चुका है। आम लोगों से लेकर सेलिब्रिटी तक हर कोई इस लोकप्रिय भारतीय ऐप का तेजी से इस्तेमाल कर रहा है। कुछ बेहतरीन फीचर्स ने इस ऐप की लोकप्रियता को और बढ़ा दिया है। इसका ‘टॉक टू टाइप’ फीचर एक अनोखा फीचर है। इसका इस्तेमाल करके यूजर्स बोलकर अपनी भाषा में विचार जाहिर कर रहे हैं।

सेलिब्रिटी और राजनेताओं की बढ़ रही है संख्या

आपको बता दें कि वीरेंद्र सहवाग, पीयूष चावला, चेतेश्वर पुजारा, रॉबिन उथप्पा, उमेश यादव, कुलदीप यादव जैसे बड़े क्रिकेटर, कंगना रनोट, श्रद्धा कपूर, टाइगर श्रॉफ जैस बड़े फिल्मी स्टार और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, पीयूष गोयल, रवि शंकर प्रसाद, स्मृति ईरानी तथा और भी कई लीडर्स व मंत्री Koo पर सक्रिय हैं। ये सेलिब्रिटी नियमित रूप से Koo करके अपने फैन्स को अपने विचारों से अवगत करा रहे हैं। इन सेलिब्रिटी की तरह आपके भी मन में क्रिकेट और भारतीय फिल्म से संबंधित कोई विचार है, तो उसे Koo पर साझा करें।

वीरेंद्र सहवाग के अलावा और भी कई भारतीय क्रिकेटरों ने क्रिकेट और T20 वर्ल्ड कप 2021 पर अपने विचार जाहिर करने के लिए Koo को चुना है। इसमें पीयूष चावला, हनुमा विहारी, बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा, रॉबिन उथप्पा, उमेश यादव, कुलदीप यादव, शुभमन गिल, वेंकटेश प्रसाद, वसीम जाफर, विनोद कांबली, प्रवीण कुमार, संजय बांगर, संजय मांजरेकर, हेमंग बदानी, मोहम्मद अजहर, सैयद सबा करीम आदि। इसके अलावा इस माइक्रो ब्लॉगिंग ऐप से जुड़ने वालों में ऑस्ट्रेलियाई और पाकिस्तानी खिलाड़ी भी हैं। इसमें ब्रैड हॉज, शेन वॉटसन, वसीम अकरम, दानिश कनेरिया जैसे बड़े क्रिकेटर भी हैं।

अपनी भाषा और अपने अंदाज में रखें Koo पर अपने विचार

Koo के इस्तेमाल करने की एक सबसे बड़ी वजह इसका यूजर फ्रेंडली इंटरफेस है, जिसे हर कोई अपनी सुविधा अनुसार इस्तेमाल करके अपने विचार जाहिर कर सकता है। Koo लोगों को न केवल अपने भाव को साझा करने का प्लेटफॉर्म देता है, बल्कि भारत की आवाज बनकर सबको एक साथ जोड़ भी रहा है। ऐसा इसलिए क्योंकि यह कई भाषाओं में उपलब्ध है। आपको बता दें कि यह 9 भाषाओं में उपलब्ध है। अगर आप हिंदी, इंग्लिश, कन्नड, तमिल, तेलुगु, मराठी, बंगला, असमी, गुजराती में से कोई सी भी भाषा जानते हैं तो आप Koo पर आसानी से लिखकर या बोलकर अपने विचार दुनिया के सामने व्यक्त और साझा कर सकते हैं। इसका 'टॉक टू टाइप' फीचर बहुत ही बेहतरीन फीचर है। इस फीचर की मदद से आपको ऐप पर टाइप करने की जरूरत नहीं है। आप जो भी बोलेंगे यह फीचर उसे आसानी से लिख देगा। इस तरह आप अपने विचारों और भावनाओं को Koo करके उसे जल्दी से पोस्ट भी कर सकते हैं। इस ऐप पर और भी भाषा जैसे उर्दू, पंजाबी, संस्कृत, उडिया, मलयालम, नेपाली आदि जल्द उपलब्ध होगा।

कम समय में बढ़े फॉलोअर्स की संख्या

एक आंकड़े के मुताबिक बॉलीवुड अभिनेत्री श्रद्धा कपूर, अभिनेता टाइगर श्रॉफ और पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने Koo पर 3 महीने से भी कम समय में 250k फॉलोअर्स को पार कर लिया है। अभिनेत्री कंगना रनौत ने फरवरी 2021 में Koo को ज्वाइन किया था। उन्होंने बहुत कम समय में 1 मिलियन फॉलोअर्स की सीमा को पार कर लिया। वर्तमान में उनके 1.1 मिलियन फॉलोअर्स हैं। बात करें राजनेताओं की तो उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के फॉलोअर्स की संख्या केवल 4 महीने के भीतर 1 मिलियन के पार पहुंच गई है। उन्होंने फरवरी में कू को जॉइन किया था और वर्तमान में 1.8 मिलियन फॉलोअर्स हैं। वहीं पूर्व केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद के फॉलोअर्स की संख्या 2.5 मिलियन हैं। उन्होंने अगस्त 2020 में इसे जॉइन किया था। कू पर सेलिब्रिटी की बढ़ती फॉलोअर्स की संख्या को देखते हुए यह कहा जा सकता है कि यह ऐप यूजर्स के लिए खुद को अपडेट्स रखने तथा विचार और अनुभव जाहिर करने के लिए पसंदीदा ऐप बन चुका है। यहां यूजर्स न केवल इस ऐप पर अपने विचार जाहिर कर रहे हैं, बल्कि अपने पसंदीद स्टार को फॉलो भी कर रहे हैं। सहवाग ने तो Koo को भारत का सबसे बड़ा स्टेडियम कहा है और फैंस को #IndiaKaSabseBadaStadium में आमंत्रित भी किया। यह Koo द्वारा शुरू किया गया एक तरह का अभियान है। इससे भारतीय और विदेशी खिलाड़ियों के अलावा फैन्स भी जुड़े हुए हैं।

हर भारतीय का गर्व है Koo

Koo हर भारतीय का गर्व है। इसने बहुत ही कम समय में अपनी एक पहचान बनाई है। इसी साल इस स्वदेशी ऐप ने आत्मनिर्भर ऐप चैलेंज का जीता था। आत्मनिर्भर ऐप चैलेंज भारत में स्टार्टअप्स और उद्यमियों के बीच डिजिटल इनोवेशन को बढ़ावा देने के लिए प्रधानमंत्री का एक निमंत्रण था, जो आठ कैटगरी में भारत और इसकी डिजिटल जरूरतों को पूरा कर सके। कू ऐप इस चैलेंज में विजेताओं में से एक था। इसके अलावा पिछले साल Google PlayStore ने कू को 2020 के सर्वश्रेष्ठ ऐप्स के विजेता के रूप में घोषित किया। भारत में प्लेस्टोर पर मौजूद हजारों ऐप्स में से कू को चुना गया था।

Koo ने बहुत कम समय में दुनिया में एक अलग पहचान बनाई है। प्लेटफॉर्म पर बढ़ती सेलिब्रिटी और यूजर्स की संख्या बहुत कुछ कहती है। देश की बड़ी सेलिब्रिटी की तरह आम यूजर्स ने अपने विचारों को जाहिर करने के लिए Koo को चुना है और सामाजिक, राजनीतिक, अर्थव्यवस्था, खेल, मनोरंजन और तकनीकी के बारे में अपने विचार रखें।

अपने विचार साझा करने के लिए हमेशा खबरों से जुड़े रहना बहुत ही जरूरी है। इसलिए लेटेस्ट खबरों के लिए Dainik Jagran को Koo पर फॉलो करना न भूलें।

Note - यह आर्टिकल ब्रांड डेस्‍क द्वारा लिखा गया है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.