सर्दियों के कपड़ों से भी हो सकती है स्किन एलर्जी, इन 8 बातों का रखें ख़्याल!

सर्दियों के कपड़े गर्मी के मौसम में पहनने वाले कपड़ों से अलग होते हैं यह हमारी त्वचा को रूखे मौसम और सर्द हवाओं से बचाते हैं। हालांकि सर्दी के कपड़ों की वजह से त्वचा से जुड़ी एलर्जी हो सकती हैं।

Ruhee ParvezWed, 08 Dec 2021 09:00 AM (IST)
सर्दियों के कपड़ों से भी हो सकती है स्किन एलर्जी, इन 8 बातों का रखें ख़्याल!

नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। यह मौसम है हॉट चॉकलेट पीने का, छुट्टियों की थीम वाली फिल्में देखने का और सबसे स्टाइलिश कपड़े पहनने का। हम सभी सर्दियों के मौसम में लेयर करके कपड़े पहनते हैं, जिसका मज़ा ही अलग है। लेकिन गर्मियों के कपड़ों से सर्दियों के कपड़ों पर आने में कई तरह की एलर्जी का भी सामना करना पड़ता है। जीं, हां यह सच है।

एलर्जी का अटैक

सर्दियों के कपड़े गर्मी के मौसम में पहनने वाले कपड़ों से अलग होते हैं, यह हमारी त्वचा को रूखे मौसम और सर्द हवाओं से बचाते हैं। हालांकि, सर्दी के कपड़ों की वजह से त्वचा से जुड़ी एलर्जी हो सकती हैं। जिसमें रूखी त्वचा, चकत्ते, खुजली और यहां तक कि छाले और सूजन भी पैदा कर सकते हैं। ऐसा अक्सर सही तरीके से इनकी देखभाल न करने की वजह से होता है। गंदे कपड़े, रज़ाई, टोपी और स्कार्फ पहनने की वजह से होता है।

हम में से ज़्यादातर लोग सर्दियों के अपने कपड़ों में मॉथ बॉल्स का उपयोग करते हैं, ताकि उनमें कीड़े न लगें। नैप्थलीन बॉल्स में कैमिकल होता है, जो कपड़ों को बचाता है, लेकिन इन्हें बिना धोए पहनने से त्वचा पर रिएक्शन हो सकता है।

सर्दियों से जुड़ी स्किन एलर्जी का एक अन्य अपराधी पराग यानी पोलन है। पराग एलर्जी को शरीर द्वारा घुसपैठियों के रूप में माना जाता है, और रक्षा तंत्र शरीर की रक्षा के लिए कदम उठाता है। जिसकी वजह से एक्ने और डर्माटाइटिस के अलावा पूरे शरीर में सूजन भी हो सकती है। मॉथ बॉल्स और पोलन के लगातार संपर्क में आने से आपकी त्वचा का रंग पीला पड़ने लगता है। यहीं वजह है कि सर्दियों में स्किन बेजान, पीली और मुरझाई लगती है।

इस समस्या का समाधान क्या है?

- जब आप सर्दियों के कपड़ों को निकालें, तो हमेशा इन्हें कम से कम एक दिन के लिए धूप में छोड़ें।

- इन्हें पहनने से पहले ज़रूर धोएं, एंटी-एलर्जन और सोफ्ट करने वाला डिटर्जेंट का इस्तेमाल करें। पहनने से सर्दियों के कपड़ों को धो लेने से कैमिकल्स और बदबू ख़त्म हो जाती है।

- कंफर्टर्ज़ और रज़ाइयों को भी धोएं और धूप में सुखाएं।

- सनग्लासेज़ और हैट पहनकर अपने चेहरे को पोलन से बचाएं।

- पोलन यानी पराग से होने वाले नुकसान से बचने के लिए चेहरे पर स्किन प्रोडक्ट्स की लेयर लगाएं। एक अच्छा सीरम, मॉइश्चराइज़र और सनस्क्रीन ज़रूर लगाएं।

- गर्म कपड़ों के अंदर हमेशा कॉटन के कपड़े की लेयर पहनें। इससे वूल त्वचा से सीधे तौर पर संपर्क में नहीं आएगा।

- कपड़े पहनने से पहले पूरे शरीर पर लोशन लगाएं। बॉडी लोशन लगाने का बेस्ट समय है जब आप नहाकर निकलते हैं।

- अगर आपको एलर्जी आसानी से और लगातार होती रहती है, तो अपने डॉक्टर से ज़रूर सलाह करें। घर पर आप त्वचा को शांत करने के लिए नारियल तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं। अगर जलन है तो त्वचा को रगड़ें नहीं। कैमिकल युक्त साबुन का इस्तेमाल न करें, प्रकृतिक साबुन को ही चुनें। त्वचा को मुलायम और स्वस्थ बनाए रखने के लिए आप नहाने के बाद ओलिव ऑयल यानी ज़ैतून के तेल से भी मालिश कर सकते हैं।

Disclaimer: लेख में उल्लिखित सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य सूचना के उद्देश्य के लिए हैं और इन्हें पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। कोई भी सवाल या परेशानी हो तो हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.