Salt Intake Guidelines: दिनभर में कितना नमक खाना चाहिए,WHO ने जारी की नई गाइडलाइन्स

Salt Intake Guidelines नमक से मरने वालों का आंकड़ा कम करने के लिए WHO ने नमक का सेवन कम करने पर जोर दिया है। नमक का अत्याधिक इस्तेमाल करने से दिल की बीमारियों हाई बीपी स्ट्रोक और किडनी की समस्याओं का खतरा बढ़ सकता है।

Shilpa SrivastavaMon, 10 May 2021 02:43 PM (IST)
हर व्यक्ति के लिए दिन में मात्र 5 ग्राम नमक का सेवन करना ही पर्याप्त है।

नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। नमक के बिना हम खाने में स्वाद की कल्पना भी नहीं कर सकते। लेकिन कभी आपने यह सोचा है कि नमक का अधिक इस्तेमाल करने से आपकी बॉडी पर कैसा असर पड़ सकता है। हाल ही में WHO द्वारा किए गए एक अध्ययन में यह बात सामने आई है कि हर साल 30 लाख से ज्यादा लोगों की नमक का ज्यादा सेवन करने से मौत होती है। नमक से मरने वालों का आंकड़ा कम करने के लिए WHO ने नमक का सेवन कम करने पर जोर दिया है। इसके साथ खाद्य पर्यावरण में सुधार और जीवन को बचाने के लिए 60 से ज्यादा फूड कैटेगरीज में सोडियम लेवल के लिए नए मानदंड तैयार किए हैं। माना जा रहा है कि ये बेंचमार्क 2025 तक नमक की खपत में 30 प्रतिशत तक कमी लाएगा।

कितना नमक का सेवन जरूरी:

WHO के आंकड़ों के अनुसार, ज्यादातर लोग औसतन हर दिन 9-12 ग्राम नमक का सेवन करते हैं। WHO ने पूरे देश में सोडियम यानि नमक की खपत के लिए नए मानक जारी किए हैं। संगठन ने हर व्यक्ति के लिए दिन में मात्र 5 ग्राम नमक का सेवन करने की सिफारिश की है।

नमक के फायदे और नुकसान:

हम सभी जानते हैं कि सोडियम हमारे दैनिक आहार का एक अहम हिस्सा है, क्योंकि यह शरीर को हाइड्रेटेड रखने में मदद करता है, साथ ही बॉडी को कामकाज करने में भी मदद करता है। नमक के सेवन से थायराइड का स्तर ठीक रहता है। नमक लो ब्लड प्रेशल के मरीज़ों का बीपी नॉर्मल करता है। सिस्टिक फाइब्रोसिस के लक्षणों में भी सुधार करता है।

लेकिन जब नमक का अत्याधिक इस्तेमाल किया जाए तो इससे दिल की बीमारियों, हाई बीपी, स्ट्रोक और किडनी की समस्याओं का खतरा बढ़ सकता है।

नए बेंचमार्क के पीछे की वजह:

संगठन के नए दिशा-निर्देशों के अनुसार, 60 से ज्यादा फूड कैटेगरीज में सोडियम लेवल के लिए बनाए गए मानदंड, लोगों को नमक का सेवन कम करने और लोगों के जीवन को बचाने में मदद करेंगे। संगठन का विचार उन जगहों पर सोडियम का सेवन कम करने का है, जहां प्रोसेस्ड फूड आइटम्स की खपत ज्यादा होती है।

फूड कैटेगरीज और सोडियम की मात्रा:

WHO सोडियम बेंचमार्क अलग-अलग पैक्ड और प्रोसेस्ड फूड आइटम्स जैसे पैक ब्रेड, नमकीन स्नैक्स, मीट प्रोडक्ट्स और पनीर में सोडियम सामग्री की कमी के बारे में 5 मई को प्रकाशित हुआ है। दिशा-निर्देशों के अनुसार, 100 ग्राम के आलू के चिप्स में ज्यादा से ज्यादा 100 ग्राम सोडियम होना चाहिए। जबकि पाई और पेस्ट्री में 120 ग्राम तक और प्रोसेस्ड मीट में 340 मिग्रा तक सोडियम होना अच्छा है।

डब्ल्यूएचओ का अवलोकन

डब्ल्यूएचओ द्वारा किए गए अध्ययन से पता चलता है कि लोग प्रतिदिन नमक की 5 ग्राम से दोगुनी मात्रा का सेवन कर रहे हैं, जिसकी वजह से उनको दिल की बीमारियों का खतरा बढ़ रहा है। नमक की वजह से हर साल लगभग 3 मिलियन लोगों की मौत हो जाती है। अध्ययन में यह भी पाया गया है कि अधिक नमक के सेवन से हाई ब्लड प्रेशर, दिल के दौरे और स्ट्रोक को बढ़ावा मिलता है।

                     Written By: Shahina Noor 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.