Russian Vaccine: रूसी वैक्सीन Sputnik V सभी वैक्सीनों में सबसे सुरक्षित, रिसर्च

Russian Vaccine अर्जेंटीना की हेल्थ मिनिस्ट्री ने अपने अध्ययन में पाया है कि Sputnik V सबसे ज्यादा सुरक्षित है और सफल वैक्सीन है इसे लगाने से अभी तक एक भी मौत नहीं हुई है। इससे लोगों में बेहद कम साइड इफेक्ट देखने को मिले हैं।

Shahina Soni NoorFri, 25 Jun 2021 12:10 PM (IST)
रूसी वैक्सीन Sputnik V सभी वैक्सीनों में सबसे सुरक्षित, रिसर्च

नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। कोरोना वायरस से बचाव के लिए सभी देश अपनी-अपनी वैक्सीन के निर्माण में जुटे हैं। सौ से ज्यादा वैक्सीन पर दुनिया भर के वैज्ञानिक काम कर रहे हैं। भारत, चीन, अमेरिका, ब्रिटेन और रूस कोरोना से बचाव के लिए सफल वैक्सीन का निर्माण कर चुके हैं। इन सभी देशों की वैक्सीन में सबसे ज्यादा कारगर रूस की स्पूतनिक वैक्सीन है। अब तक की रिपोर्ट के अनुसार कोरोना संक्रमण से बचाव में रूसी वैक्सीन सबसे अधिक असरदार है जिसकी सफलता की दर 96.6 फीसद मानी गई है।

रूस की वैक्सीन सुरक्षा की दृष्टि से सबसे आगे:

ब्यूनस आयर्स में हुए अध्ययन में यह बात सामने आई है कि रूस की वैक्सीन सुरक्षा की दृष्टि से सबसे आगे है। अर्जेंटीना की हेल्थ मिनिस्ट्री ने अपने अध्ययन में पाया है कि Sputnik V अभी तक निर्मित सभी वैक्सीन में सबसे ज्यादा सुरक्षित है। इस वैक्सीन को लगाने से अभी तक एक भी मौत होने का मामला सामने नहीं आया है। इस वैक्सीन को लगवाने के बाद लोगों में बेहद कम साइड इफेक्ट देखने को मिले हैं।

हेल्थ मिनिस्ट्री द्वारा किया गया अध्ययन:

स्पूतनिक वी कितनी कारगर है इसकी सत्यता को परखने के लिए अर्जेंटीना की हेल्थ मिनिस्ट्री ने एक अध्ययन के आधार पर यह दावा किया है कि रूस की वैक्सीन Sputnik V सबसे कारगर वैक्सीन है। इस वैक्सीन को लगाने के बाद लोगों में मामूली से साइड इफेक्ट नोट किए गए है साथ ही इससे एक भी मौत होने का मामला सामना नहीं आया है।

मंत्रालय के मुताबिक अर्जेंटीना के ब्यूनस आयर्स प्रांत में लगाए जा रहे सभी कोविड-19 टीकों में स्पूतनिक-वी सबसे सुरक्षित बनकर उभरा है। अध्ययन के मुताबिक वैक्सीन लेने वाले 47 फीसदी लोगों को बुखार, 45 फीसदी को सिरदर्द, 39.5 फीसदी को मांसपेशियों व जोड़ों में दर्द और 46.5 फीसदी को टीके वाली जगह पर दर्द, जबकि 7.4 फीसदी को सूजन जैसे मामूली साइड इफेक्ट देखने को मिले हैं।

28 लाख को दी गई रूसी वैक्सीन:

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि अध्ययन 29 दिसंबर 2020 से तीन जून 2021 के बीच किए गए जो वैक्सीनेशन के रिकॉर्ड पर आधारित है। इस अवधि में ब्यूनस आयर्स में स्पूतनिक-वी की 28 लाख, साइनोफार्म की 13 लाख और एस्ट्राजेनेका के टीके की नौ लाख खुराक लगाई गई थी। तीनों वैक्सीन से प्रति दस लाख लाभार्थियों में गंभीर दुष्प्रभाव उभरने के क्रमश: 0.7, 0.8 और 3.2 मामले सामने आए है।

भारत में भी लग रही है रूसी वैक्सीन:

रूस की कोरोना वैक्सीन स्पुतनिक V को भारत में आपातकाल इस्तेमाल की मंजूरी दी गई है। रूसी वैक्सीन देश के नौ शहरों में उपलब्ध है। ये शहर हैं- बेंगलुरु, दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, कोलकाता, विशाखापटनम, बद्दी, कोल्हापुर और मिरयालागुडा।  

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.