Motherhood से जुड़ी बातों के लिए मदर ब्लॉगर Saru Mukherjee ने शुरू की एक खास पहल

मां बनने के बाद भी कई चीजों का ध्यान रखना पड़ता है और मन में हर दिन मदरहुड से जुड़ा एक नया सवाल होता है कभी ब्रेस्टफीडिंग तो कभी वेट बढ़ने की फ़िक्र माँ को सताने लगती हैं। सामान्य रूप में इस तरह की प्रॉब्लम सभी मदर फेस करती हैं।

Ruhee ParvezSat, 27 Nov 2021 11:00 AM (IST)
Motherhood से जुड़ी बातों के लिए मदर ब्लॉगर Saru Mukherjee ने शुरू की एक खास पहल

नई दिल्ली, ब्रांड डेस्क। यूं तो माँ बनना खूबसूरत अहसास होता है, लेकिन एक बहन बेटी और पत्नी से माँ बनने तक का सफर काफी चुनौती भरा होता है। या यूं कहिए कि यह एक पूरी ट्रांसफॉर्मेशन जर्नी हैं, जिसमें न केवल फिजिकल चेंज होते हैं, बल्कि मॉम बनने तक आप कई तरह के मेंटल और इमोशनल फेज से भी गुजरती हैं। कितनी बार विटामिन्स टाइम पर न लेना, या किस न्यूट्रिएंट्स की कितनी मात्रा लेनी है, प्रेग्नेंसी में कौन सी एक्सरसाइज करनी है ,मेरा बेबी ठीक से ग्रो हो रहा है, इस तरह के सवाल भी आपको परेशान कर देते हैं। मां बनने के बाद भी बहुत सी चीजों का ध्यान रखना पड़ता है और मन में हर दिन मदरहुड से जुड़ा एक नया सवाल होता है कभी ब्रेस्टफीडिंग तो कभी वेट बढ़ जाने की फ़िक्र माँ को सताने लगती हैं। सामान्य रूप में इस तरह की प्रॉब्लम सभी मदर फेस करती हैं, लेकिन इनको लेकर कभी खुलकर चर्चा नहीं करती। कभी पर्सनल लाइफ की उलझनें, कभी अपनी बात को कहने के लिए माध्यम की कमी, तो कभी इन टॉपिक्स पर बात करने में शर्म महसूस करने की वजह से, अपनी समस्या को दूसरों से शेयर नहीं करतीं। महिलाओं की इस सोच में बदलाव करने के लिए फेमस Motherhood और Lifestyle ब्लॉगर Saru Mukherjee इस टॉपिक पर कुछ कहना चाहती हैं। चलिए देखते हैं इस वीडियो में उन्होंने क्या कहा –

 

फेमस ब्लॉगर Saru Mukherjee अपना एक्सपीरियंस शेयर करते हुए बताती हैं कि प्रेग्नेंसी से लेकर माँ बनने तक एक महिला अनेक पड़ावों से गुजरती हैं। अपनी जिन्दगी के इस दौर में उनका अनुभव भी कुछ अलग तरह का रहा। उन्होंने महसूस किया है कि महिलाएं प्रेग्नेंसी से जुड़े सवालों को एक-दूसरे से पूछने में थोड़ा हेजिटेट करती हैं। Saru Mukherjee ने माँ बनने वाली या माँ बन चुकी महिलाओं की इस झिझक को समझते हुए इस दिशा में एक ख़ास पहल करने का मन बनाया है। वो चाहती हैं कि अपने जीवन के इस खूबसूरत फेज को कम्फर्ट के साथ शेयर किया जाए। प्रेग्नेंसी और उसके बाद होने वाले बदलाव सामान्य हैं, जिनको आसानी से बात किया जा सकता है। Blogger Saru Mukherjee ने Koo ऐप पर पोल फीचर द्वारा एक खास पहल शुरू की है जहां वो सभी माताओं से जुड़ना चाहती हैं। उनकी इस पहल के जरिए सभी मांए मातृत्व से जुड़े मुद्दों पर खुलकर चर्चा कर सकेंगी। Koo ऐप को माध्यम बनाकर वह देश की महिलाओं को एक साथ लाना चाहती हैं, ताकि सभी माताएं अपने मातृत्व से जुड़े अनुभवों के आधार पर एक दूसरे का मार्गदर्शन कर सकें। Saru इसी दिशा में आगे बढ़ते हुए Koo App पर 9 अलग भाषाओं में पोल रन करेंगी, जहां वोट करके हर एक माँ अपनी राय दे सकेंगी। Saru Mukherjee भारतीय सोशल मीडिया ऐप Koo पर अपनी भाषा और अपने अंदाज में Koo करने वाली हैं। उनके इस तरीके को फॉलो करते हुए अब एक माँ Koo App पर Koo करके दूसरी माँ की मदरहुड से जुड़ी बातों को न केवल जान पाएंगी, बल्कि उसका समाधान भी दे सकेंगी।

Koo ऐप एक ऐसा ऐप है, जो भारत की आवाज बनकर हम सभी को अपनी बात कहने की आजादी दे रहा है। इस ऐप पर 9 भारतीय भाषाओं में Koo किया जा सकता है। अब Koo ऐप के जरिए हर कोई अपनी बात अपनी जुबानी दूसरों तक पहुंचा सकता है।

इसके अलावा आप देश-दुनियां, लाइफस्टाइल और हेल्थ जैसी न्यूज पर अपडेट रहने के लिए Koo ऐप पर Dainik Jagran को फॉलो करना न भूलें।

Note - यह आर्टिकल ब्रांड डेस्‍क द्वारा लिखा गया है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.