Low Hemoglobin: कहीं आपकी बॉडी में हीमोग्लोबिन की कमी तो नहीं? जानिए कारण और उपचार

महिलाओं में हीमोग्लोबिन की कमी का सबसे बड़ा कारण उनका खान-पान है।

Low Hemoglobin हीमोग्लोबिन शरीर को ऑक्सीजन की आपूर्ति करता है। रक्त में हीमोग्लोबिन की मात्रा कम होने पर एनीमिया होता है। हीमोग्लोबिन हमारे शरीर की सभी प्रक्रियाओं को सुचारू रूप से काम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

Shilpa SrivastavaFri, 26 Feb 2021 11:00 AM (IST)

नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। महिलाओं में हीमोग्लोबिन की कमी होना आम समस्या बनती जा रही है। खान-पान और पोषक तत्वों की कमी होने से महिलाओं में ये परेशानी तेजी से पनप रही है। हीमोग्लोबिन में कमी रक्त में लोहे की मात्रा में कमी को कहते हैं। हीमोग्लोबिन शरीर को ऑक्सीजन की आपूर्ति करता है। रक्त में हीमोग्लोबिन की मात्रा कम होने पर एनीमिया होता है। हीमोग्लोबिन हमारे शरीर की सभी प्रक्रियाओं को सुचारू रूप से काम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। हीमोग्लोबिन की कमी के कारण कई प्रकार की शारीरिक गतिविधियों में रुकावट पैदा हो सकती है। हीमोग्लोबिन की कमी से शारीरिक और मानसिक स्वास्थ पर भी असर पड़ सकता है। आइए जानते हैं कि हीमोग्लोबिन की कमी का कारण क्या है और उसका उपचार कैसे किया जाए।

महिलाओं में हीमोग्लोबिन कम होने के कारण

प्रेग्नेंसी की वजह से कम हो सकता है हीमोग्लोबिन डाइट में आयरन की कमी होने से भी हीमोग्लोबिन कम हो सकता है। प्रेग्नेंसी या पीरियड के दौरान अत्याधिक ब्लीडिंग होने से भी ये परेशानी हो सकती है। जंक फूड और अनियमित खान-पान की वजह से बॉडी में हीमोग्लोबिन कम हो सकता है। विटामिन, कैल्शियम इत्यादि की कमी भी इस परेशानी का कारण बन सकता है।

महिलाओं में हीमोग्लोबिन कम होने के लक्षण भी जान लें

अत्याधिक थकान रहना स्किन में पीलापन आना, दिल की धड़कनों का तेज होना कमजोरी और थकान महसूस होना सांस लेने में तकलीफ होना छाती में दर्द होना लगातार सिर में दर्द रहना

इस समस्या का उपचार कैसे करें

डाइट में आयरन का सेवन करें:

अगर आप डाइट के जरिए हीमोग्लोबिन का स्तर बनाए रखना चाहते हैं तो डाइट में आयरन युक्त आहार शामिल करें। इन फूड्स से आपके शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं की मात्रा बढ़ सकती है। आप अपनी डाइट में मांस, मछली, सोयाबीन, टोफू, अंडे, नट्स, ब्रोकोली, हरी पत्तेदार सब्जियां, बीट्स, गाजर को शामिल करके लोहे की मात्रा बढ़ा सकती हैं।

विटामिन सी और विटामिन बी कॉम्प्लेक्स लें:

अपनी डाइट में विटामिन सी की कमी को पूरा करने के लिए आप अंगूर, संतरा, नींबू, ब्रोकोली, आम, कीवी जैसे खाद्य पदार्थों को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। विटामिन बी कॉम्प्लेक्स की कमी को किशमिश पूरा करती है। इसके अलावा आप चाहें तो विटामिन बी कॉम्प्लेक्स का सप्लीमेंट भी ले सकते हैं।

फोलिक एसिड को डाइट में करें शामिल:

फोलिक एसिड की कमी को पूरा करने के लिए अपनी डाइट में पालक, चावल, मूंगफली, छोले, किडनी बीन्स, एवोकाडो और लेटस को शामिल करके हीमोग्लोबिन का स्तर बढ़ा सकते हैं।

रोजाना एक्सरसाइज करें:

हीमोग्लोबिन की कमी का इलाज एक्सराइज़ से भी किया जा सकता है। एक्सराइज़ हीमोग्लोबिन की कमी से पीड़ित शख्स में रोग-प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में सहायक साबित होती है।

हीमोग्लोबिन बढ़ाने के लिए इन चीजों का करें सेवन

हीमोग्लोबिन बढ़ाने के लिए आप चुकंदर, टमाटर, शहद,पालक, केला,ड्राई फ्रूट्स, अंडा, पनीर बटर, अनार और डार्क चॉकलेट का सेवन करें।

                       Written By: Shahina Noor 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.