जानें, पुरुषों की तुलना में महिलाओं के लिए वजन कम करना क्यों कठिन है

बढ़ते वजन को कम करना एक बड़ी चुनौती है
Publish Date:Sun, 27 Sep 2020 04:00 PM (IST) Author: Umanath Singh

नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। आधुनिक समय में बढ़ते वजन को कम करना एक बड़ी चुनौती है। एक बार वजन बढ़ने के बाद इसे कम करने में लंबा वक्त लग जाता है। इसके लिए लोग खानपान और वर्कआउट पर विशेष ध्यान देते हैं। तब जाकर बढ़ते वजन से निजात मिल पाता है। आमतौर पर इस काम में उन लोगों को सफलता मिलती है जो पूरी तरह से समर्पित होते हैं।

वहीं, महिलाओं के लिए एक मैराथन जैसा है। महिलाओं को वजन कम करने के लिए पुरुषों की तुलना में दुगुनी मेहनत करनी पड़ती है। इसके बाद ही उन्हें मोटापे से छुटकारा मिल पाता है। जहां पुरुषों को महज वर्क आउट कर मोटापे से निजात मिल सकता है, तो महिलाओं को खानपान, वर्क आउट, हार्मोन्स और फैट इन सभी चीज़ों पर ध्यान देने के बाद  मोटापे से छुटकारा मिलता है। आइए जानते हैं कि पुरुषों की तुलना में महिलाओं के लिए वजन कम करना क्यों मुशिकल है-

हार्मोन्स में अंतर

पुरुषों और महिलाओं में अलग-अलग हार्मोन्स होते हैं जो वजन कम करने में सहायक होते हैं। पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन अधिक और एस्ट्रोजन कम होता है। जबकि महिलाओं में एस्ट्रोजन अधिक और टेस्टोस्टेरोन कम होता है। इस वजह से महिलाओं को वजन घटाने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ती है। ऐसा माना जाता है कि टेस्टोस्टेरोन वजन कम करने में सहायक होता है। जबकि महिलाओं में घ्रेलिन हार्मोन भी होता है, जिससे भूख बढ़ती है। ऐसे में जब महिलाएं वर्कआउट करती हैं, तो उसके तुरंत बाद उन्हें भूख लग जाती है। ऐसा घ्रेलिन (Ghrelin) हार्मोन की वजह से होता है।

फैट अधिक होना

पुरुषों की तुलना महिलाओं में तकरीबन 11 फीसदी अधिक फैट होता है। यह एक जैविक कारक है, जो गर्भावस्था के दौरान उनकी मदद करता है। जबकि पुरुषों में फैट कम रहता है। फैट वजन बढ़ाने का मुख्य घटक है।

मांसपेशी ऊतक

विशेषज्ञों की मानें तो महिलाओं की तुलना में पुरुषों में दुबला मांसपेशी ऊतक (muscle tissue) होता है जो कैलोरीज बर्न करने में सहायक है। नियमित एक्सरसाइज करने और संतुलित आहार लेने के बाद भी महिलाओं की तुलना में पुरुषों का वजन तेजी से घटता है। इसके लिए जरूरी है कि महिलाएं अपनी डाइट पर विशेष ध्यान दें। जबकि वर्कआउट भी अधिक करें।

डिस्क्लेमर: स्टोरी के टिप्स और सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन्हें किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर नहीं लें। बीमारी या संक्रमण के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.