Katichakrasana Steps: कमर की चर्बी कम करने के साथ ही पाचन भी दुरुस्त रखेगा कटिचक्रासन, जानिए फायदे

ये योगा किडनी, लीवर, आंतों व पैन्क्रियाज की सेहत का भी ख्याल रखता है।

Katichakrasana Steps कटिचक्रासन एक ऐसा योगा है जो ना सिर्फ कमर को पतला करता है बल्कि गर्दन और पीठ की जकड़न को भी दूर करता है। इस योगा को करने से ना सिर्फ आलस दूर होता है बल्कि शरीर में हल्कापन भी महसूस होता है।

Shilpa SrivastavaFri, 26 Feb 2021 01:29 PM (IST)

नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। फैट बॉडी के किसी भी हिस्से में हो खूबसूरती को कम ही करता है। बढ़ता फैट ना सिर्फ देखने में भद्दा लगता है, बल्कि सेहत के लिए यह नुकसानदायक है। वज़न को कम करने के लिए हम लोग तरह-तरह के फंडे अज़माते हैं। लेडीज हो या जेंट्स पतली कमर हर किसी को अच्छी लगती है। पतली कमर और मजबूत कंधे आप योग के जरिए हासिल कर सकते है। कटिचक्रासन एक ऐसा योगा है जो ना सिर्फ कमर को पतला करता है बल्कि गर्दन और पीठ की जकड़न को भी दूर करता है। इस योगा को करने से ना सिर्फ आलस दूर होता है बल्कि शरीर में हल्कापन भी महसूस होता है। यह योगा कमर की चर्बी को कम करता है, बल्कि कब्ज व गैस की समस्या भी दूर करता है। ये किडनी, लीवर, आंतों व पैन्क्रियाज की सेहत का भी ख्याल रखता है। आइए जानते हैं कि कटिचक्रासन क्या है और इसे किस तरह किया जाएं और इसके कौन-कौन से फायदे हैं।

कटिचक्रासन क्या है?

कटिचक्रासन एक योग है जोकि तीन शब्दों से मिलकर बना है कटि + चक्र + आसन। इस आसने से दोनों भुजाओं, गर्दन और कमर की एक्सरसाइज होती है। यह आसन खड़े होकर किया जाता है। इस आसन को सुबह और शाम दिन में दो बार खाली पेट करें। आइए जानते हैं कि इस आसन को कैसे करें

पहला स्टैप :- सबसे पहले सावधान अवस्था में खड़े हो जाएं

दूसरा स्टैप:- इस तरह से खड़े हो ताकि दोनों पैरों के बीच डेढ़ से दो फुट की दूरी बन सके

तीसरा स्टैप :- अब अपने कंधों की सीध में दोनों हाथों को फैलाएं। इसके बाद बाएं हाथ को दाएं कंधे पर रखें और दाएं हाथ को पीछे से बाईं ओर लाकर धड़ से लपेटे।

चौथा स्टैप :- सांस क्रिया सामान्य रूप से करते हुए मुंह को घुमाकर बाएं कंधों की सीध में ले आएं।

पांचवा स्टैप :- अब इस स्थिति में कुछ समय तक खड़े रहें और फिर दाईं तरफ से भी इस क्रिया को इसी तरह से करें।

छटा स्टैप :- इस क्रिया को दोनों हाथों से 4-4- बार करें।

कटिचक्रासन के फायदे

पेट और कमर की चर्बी को कम करता है ये आसन। कब्ज और एसिडिटी से निजात दिलाता है ये आसन। ये योगा शुगर और ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए बेहद फायदेमंद है। तनाव को कम करता है ये योगा। मानसिक तनाव से मुक्ति पाने के लिए ये आसन बहुत ही फायदेमंद है।

                           Written By: Shahina Noor

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.