International Yoga Day 2021: योग करने से पहले इन 5 नियमों का रखें ध्यान, कहीं हो न जाएं बीमार!

International Yoga Day 2021 हर साल जून महीने के तीसरे रविवार को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है ताकि लोगों को इसके फायदों में बारे में जागरूक किया जा सके। इस साल योग दिवस 20 जून को मनाया जाएगा।

Ruhee ParvezTue, 15 Jun 2021 11:06 AM (IST)
योग करने से पहले इन 5 नियमों का रखें ध्यान, कहीं हो न जाएं बीमार!

नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। International Yoga Day 2021: कोरोना वायरस महामारी ने हम सभी को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक कर दिया है। लोग अब अपनी डाइट के साथ फिटनेस पर भी काफी ध्यान दे रहे हैं। ज़ाहिर है इस दौरान जिम जाना मुमकिन नहीं है, लेकिन घर पर रहकर भी आप वर्कआउट कर सकते हैं। जैसे योग, ध्यान, स्किपिंग, हल्का कार्डियो। इनमें से सबसे आसान है घर पर योग करना। हर साल जून महीने के तीसरे रविवार को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है, ताकि लोगों को इसके फायदों में बारे में जागरूक किया जा सके। इस साल योग दिवस 20 जून को मनाया जाएगा।

पिछले कुछ समय में सेहत को देखते हुए खासतौर पर योग का प्रचलन काफी तेज़ी से बढ़ा है। योग सदियों पुराना विज्ञान है, जिसका उद्देश्य इंसान को आत्म साक्षात्कार तक ले जाकर खुद को पहचानने में मदद करना है। योग करने से शरीर को कई तरह के फायदे पहुंचते हैं। इसे रोज़ाना करने से आप अंदर से शांत महसूस करते हैं।

योग भले ही आपके शरीर को अंदर और बाहर से मज़बूत बनाता हो, लेकिन इसे करते वक्त ज़रूरी नियमों को ध्यान में रखना ज़रूरी है। कई मामले ऐसे देखे गए हैं जहां लोग योग में ज़रूरी नियमों का पालन न करने की वजह से बीमार पड़े हैं। आइए जानते हैं योग करते वक्त किन बातों का ध्यान रखना ज़रूरी है।

1. योग आप तभी अच्छी तरह कर पाएंगे, जब आपका शरीर तरोताज़ा हो इसलिए सुनिश्चित करें कि आपकी नींद पूरी हो और सुबह जल्दी उठें। सुबह योग करने से पहले दांतों के साथ जीभ की सफाई भी करें, नहाएं और फिर अपना योग शुरू करें।

2. योग का बेहतर अभ्यास करने के लिए सुबह जल्दी उठकर नहाएं और खाली पेट इसे करें। आप नहाने से पहले भी योग कर सकते हैं, लेकिन योग करने के बाद, फौरन न नहाएं, कुछ देर इंतज़ार ज़रूर करें।

3. अगर आपके पास योग करने के टैरेस या फिर लॉन नहीं है, तो इसे एक साफ-सुथरे कमरे में ही करें। कमरे की खिड़कियां खुली रखें।

4. योग का अभ्यास धीमा, लयबद्ध और झटकों के बिना होना चाहिए। योग आसन बिना किसी तनाव के शांति से किया जाना चाहिए।

5. योग करने के दौरान, शरीर के अंगों में जमा टॉक्सिन्स आमतौर पर मूत्राशय की ओर निर्देशित होती हैं, इसलिए बहुत से लोग योग करने के बाद पेशाब करने की इच्छा का अनुभव करते हैं। मूत्र को लंबे समय तक रोकें नहीं, इसके अलावा, छींकने, खांसने आदि को भी दबाने की कोशिश न करें। योग करते समय आपके प्यास लगती है, तो आप थोड़ा-सा पानी भी पी सकते हैं, लेकिन बहुत ज़्यादा न पिएं।

Disclaimer: लेख में उल्लिखित सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य सूचना के उद्देश्य के लिए हैं और इन्हें पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। कोई भी सवाल या परेशानी हो तो हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.