विटामिन बी-12 की कमी को दूर करने के लिए रोजाना खाएं ये चीजें

विटामिन बी-12 शरीर के लिए बेहद जरूरी है। यह विटामिन-सी और डी के समतुल्य होता है। अंग्रेजी में इसे कोबालमीन कहते हैं। इसमें कोबाल्ट पाया जाता है जो अन्य विटामिन में नहीं पाया जाता है। यह लाल रक्त कोशिकाओं के लिए बहुत जरूरी है।

Umanath SinghSat, 22 May 2021 05:52 PM (IST)
डाइट में रेड मीट, मछली और शेलफिश, फलियां, अंडे, बीन्स और सूखे मेवे को जरूर शामिल करें।

नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। सेहतमंद रहने के लिए शरीर को आवश्यक पोषक तत्वों की जरूरत होती है। ये आवश्यक पोषक तत्व आहार से प्राप्त होते हैं।  इसके लिए डाइट में रोजाना विटामिन, मिनरल, प्रोटीन्स, कार्बोहाइड्रेट्स समेत आवश्यक तत्वों को शामिल करना चाहिए। इनमें एक विटामिन बी-12 है, जो सेहत के लिए बेहद जरूरी है। इसकी कमी से कई तरह की बीमारियां होती हैं। इन बीमारियों से बचने के लिए रोजाना संतुलित आहार लें। साथ ही विटामिन बी-12 की कमी को दूर करने के लिए डाइट में इन चीजों को जरूर शामिल करें। इनके सेवन से शरीर में  विटामिन बी-12 की कमी नहीं होती है। डाइट चार्ट की मानें तो पुरुषों को रोजाना 2.4mcg और महिलाओं को 2.6mcg विटामिन बी1 का सेवन करना चाहिए। आइए, विटामिन बी-12 के बारे में विस्तार से जानते हैं-

विटामिन बी-12 क्या है

विटामिन बी-12 शरीर के लिए बेहद जरूरी है। यह विटामिन-सी और डी के समतुल्य होता है। अंग्रेजी में इसे कोबालमीन (Cobalamin) कहते हैं। इसमें कोबाल्ट पाया जाता है, जो अन्य विटामिन में नहीं पाया जाता है। यह लाल रक्त कोशिकाओं (Red Blood cells) के लिए बहुत जरूरी है। साथ ही इससे ब्रेन हेमरेज का भी खतरा कम रहता है। आइए, अब इसके लक्षणों को जानते हैं-

विटामिन बी-12 की कमी के लक्षण

-थकान

-कमजोरी

-शरीर में खून की कमी

-सरदर्द

-भूख न लगना

-त्वचा में पीलापन

-मुंह में छाले

-तनाव

क्या खाएं

इसके लिए डाइट में  रेड मीट, मछली और शेलफिश, फलियां, अंडे, बीन्स और सूखे मेवे को जरूर शामिल करें। साथ ही दूध और दूग्ध उत्पादों जैसै दूध, दही, पनीर, छाछ आदि चीजों को जरूर शामिल करें। इनमें विटामिन बी-12 पाया जाता है। लाल रक्त कोशिका के निर्माण में विटामिन बी-12 अहम भूमिका निभाता है। रक्त में विटामिन बी-12 की कमी से आरबीसी की संख्या भी घटने लगती है। इन चीजों के सेवन से शरीर में विटामिन बी-12 की कमी नहीं होती है।

डिस्क्लेमर: स्टोरी के टिप्स और सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन्हें किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर नहीं लें। बीमारी या संक्रमण के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.