New Medicine for Breast Cancer: जल्दी आ सकती है ब्रेस्ट कैंसर की नई दवा, रिसर्च में आए चौंकाने वाले परिणाम

New Medicine for Breast Cancer वैज्ञानिकों ने एक नई दवा बनाई है जो कैंसर को फैलने से रोकती है। इस दवा को ErSO नाम दिया गया है। यह दवा उस तंत्र को अधिक सक्रिय कर देती है जिससे शरीर में कैंसर कोशिकाओं से रक्षा होती है।

Shahina NoorSat, 31 Jul 2021 07:27 PM (IST)
सभी अंगों की कैंसर कोशिकाओं को खत्म करती हैं यह कैंसर की दवा।

नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। कैंसर लाइलाज बीमारी है, अगर इसका शुरुआती चरण में पता चल जाए तो मरीज को मौत के मुंह से बचाया जा सकता है। इस बीमारी में दूसरे या तीसरे चरण के बाद मरीज़ का बचना मुश्किल हो जाता है। आमतौर पर दुनिया भर में सबसे ज्यादा ब्रेस्ट कैंसर सामने आ रहे हैं, हाल के दिनों में ब्रेस्ट कैंसर की बीमारी फैलती जा रही है। कैंसर कोशिकाएं ब्रेस्ट को प्रभावित करने के बाद शरीर के दूसरे अंगों में पहुंच जाए तो इससे बचना नामुमकिन हो सकता है। ब्रेस्ट कैंसर पर काबू पाने के लिए दुनिया भर में कई रिसर्च की जा रही है, हाल ही में एक रिसर्च में चौकाने वाले परिणाम सामने आए हैं। अगर रिसर्च के परिणाम इंसानों पर भी सफल हो जाए तो बहुत जल्दी ब्रेस्ट कैंसर को भी आम बीमारी की तरह इलाज कर मरीज को इस बीमारी से मुक्ति दिलाई जा सकती है।

रिसर्च में हुआ खुलासा:

यह रिसर्च अमेरिका में University of Illinois Urbana के वैज्ञानिकों ने की है। वैज्ञानिकों ने एक नई दवा बनाई है जो कैंसर को फैलने से रोकती है। इस दवा को ErSO नाम दिया गया है। यह दवा उस तंत्र को अधिक सक्रिय कर देती है जिससे शरीर में कैंसर कोशिकाओं से रक्षा होती है। वैज्ञानिकों ने चूहों पर किए गए शोध में पाया है कि वर्तमान में जो कैंसर की दवा है उसके कैंसर कोशिकाएं मरती नहीं है, लेकिन यह ErSO ऐसी दवा है जिससे कैंसर की कोशिकाओं को मारा जा सकता है। इस रिसर्च का सबसे चौंकाने वाला परिणाम यह था कि जब कैंसर से पीड़ित चूहों में इस दवा को प्रतिरोपित किया गया तो न सिर्फ इसने प्राइमिरी कैंसर सेल्स से बने ट्यूमर को खत्म किया बल्कि कैंसर की दूसरी स्टेज में पनपने वाले ट्यूमर को भी खत्म कर दिया। दिलचस्प बात यह थी कि कैंसर कोशिकाओं को खत्म करने की इसकी प्रभावकारिता 95 से 100 प्रतिशत तक है।

सभी अंगों की कैंसर कोशिकाओं को खत्म करती हैं दवा:

एक अन्य चूहों में यह भी देखा गया कि कैंसर कोशिकाएं लीवर, ब्रेन, लंग्स और बोन में भी पहुंच गई थी। ErSO दवा ने इन सभी जगहों कैंसर कोशिकाओं का खात्मा कर दिया। यानी इसका मतलब यह हुआ कि चाहे शरीर के किसी भी अंग में कैंसर कोशकाएं क्यों न पनप जाएं, हर जगह से इस दवा से इसका खात्मा किया जा सकता है। बायोकेमिस्ट्री के प्रोफेसर डेविड सापिरो ने बताया कि अगर कुछ कैंसर सेल ब्रेस्ट में कुछ महीनों के बाद फिर से ट्यूमर बनाने में सक्षम हो जाती है तो भी ErSO देकर इस ट्यूमर को खत्म किया जा सकता है। यानी अगर ब्रेस्ट कैंसर फिर से पनप जाए तो भी इसका खात्मा कर दिया जाएगा। 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.