Covid-19 & Myths: कोरोना से संक्रमित गर्भवती महिलाओं को नहीं है स्टिलबर्थ या गर्भपात का अधिक ख़तरा

कोरोना से संक्रमित गर्भवती महिलाओं को नहीं है स्टिलबर्थ या गर्भपात का अधिक ख़तरा

Covid-19 Myths गर्भवती महिलाओं में कोविड-19 संक्रमण का जोखिम ज़्यादा पाया गया है और इसकी वजह से कई तरह की मुश्किलें भी आ सकती हैं। कुछ लोगों का कहना है कि कोविड-19 से शिशु में असामान्यता का ख़तरा बढ़ सकता है।

Ruhee ParvezFri, 26 Feb 2021 12:30 PM (IST)

नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Covid-19 & Pregnancy: कोविड-19 संक्रमण के कई तरह के लक्षण दिखते हैं। साथ ही ये वायरस अलग-अलग लोगों को अलग-अलग तरह से प्रभावित करता है। इसे प्रभावित करने वाले कारकों में मौजूदा स्वास्थ्य स्थितियां, आयु, जातीयता और गर्भावस्था जैसे हालात शामिल हैं।

गर्भवती महिलाओं में कोविड-19 संक्रमण का जोखिम ज़्यादा पाया गया है, और इसकी वजह से कई तरह की मुश्किलें भी आ सकती हैं। कुछ लोगों का कहना है कि कोविड-19 से शिशु में असामान्यता का ख़तरा बढ़ सकता है, यहां तक कि मृत जन्म का जोखिम भी हो सकता है। 

ऑब्स्टेट्रिक्स में अल्ट्रासाउंड और गाइनेकोलॉजी जर्नल में प्रकाशित, लंदन के इम्पीरियल कॉलेज के वैज्ञानिकों के नेतृत्व में हुए नए शोध में पिछले साल के अमेरिका और ब्रिटेन के आंकड़ों को देखा।

उन्होंने अध्ययन में पाया कि शोध में शामिल किसी भी शिशु की मृत्यु कोविड-19 के कारण नहीं हुई। इसके साथ ही, स्टिलबर्थ या फिर जन्म के समय कम वज़न के जोखिम में भी किसी तरह की वृद्धि नहीं हुई। हालांकि, वक्त से पहले डिलिवरी की संभावना 57 प्रतिशत से 60 प्रतिशत तक बढ़ गई। इनमें से हर 50 बच्चों में से एक शिशु की मां को कोविड-19 संक्रमण भी था।

स्टिलबर्थ या शिशु मृत्यु के पीछे कोविड-19 नहीं

प्रोफेसर क्रिसटोफ लीस का कहना है कि इस शोध से साबित होता है कि कोविड संक्रमण स्टिलबर्थ या शिशु मृत्यु के जोखिम में नहीं बढ़ा रहा है। हालांकि, अगर मां को कोविड-19 है, तो इसकी वजह से शिशु के वक्त से पहले जन्म का जोखिम ज़रूर बढ़ जाता है। इसकी वजह भी साफ नहीं है।

यह अध्ययन उन महिलाओं के लिए कोरोना वैक्सीन की प्राथमिकता का समर्थन करता है, जो गर्भवती हैं या जो गर्भवती होने की योजना बना रही हैं, और मौजूदा उपाय जो गर्भावस्था से महिलाओं को संक्रमण से बचाते हैं, ताकि पूर्व-जन्म को कम किया जा सके।

Disclaimer: लेख में उल्लिखित सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य सूचना के उद्देश्य के लिए हैं और इन्हें पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। कोई भी सवाल या परेशानी हो तो हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.