Milk cream benefits: मलाई खाकर कर सकते हैं पेट, हड्डियों और दिल से जुड़ी बीमारियों का खतरा कम

Milk cream benefits रात को सोने से तीन घंटे पहले 2 टीस्पून मलाई खाने से एसिड रिफ्लक्स की तकलीफ से राहत मिलती है। भैंस के दूध की मलाई 100 ग्राम में 300 किलोकैल एनर्जी होती है तो 3 ग्राम कार्ब्स 30 ग्राम फैट और 3 ग्राम प्रोटीन मिलता है।

Priyanka SinghTue, 22 Jun 2021 09:05 AM (IST)
बाउल में रखी हुई दूध की मलाई

गर्मियों की छुट्टियों में जब नानी के घर जाते थे, वे बड़े से दूध के ग्लास में ढेर सारी मलाई डालकर देती थी और हम उसे पी जाते थे। फिर जैसे-जैसे उम्र बढ़ी, हम सभी डाइट कॉन्शस से गए। अब हम अगर दूध लेते हैं तो वह डबल टोंड या लो फैट होता है और पीते समय भी इसे छानकर पीते हैं, लेकिन हम बिना सोचे-समझे जो अपनी डाइट का फैसला कर रहे हैं, वह कितना ठीक है या गलत, जानेंगे एक्सपर्ट से।

क्या डाइट में मलाई को शामिल करना चाहिए?

वर्कआउट के पहले कुछ खाना चाहते हैं तो एक छोटी कटोरी मलाई खा सकते हैं। यह प्रोटीन का अच्छा स्त्रोत माना गया है। मात्र 50 ग्राम मलाई में खासा कैल्शियम होता है, जो न केवल हड्डियों के लिए अच्छा है, बल्कि नाखूनों को भी स्वस्थ रखता है। साथ ही प्रोटीन मसल्स के लिए फायदेमंद होता है। इसे बिना शक्कर के लेना ज्यादा बेहतर है। कोशिश करें इसे प्लेन ही खाएं।

कितनी मलाई खाना फायदेमंद है?

फैटी फूड्स जैसे घी, मक्खन और मलाई को दिल के रोगों का कारण माना जाता रहा है, लेकिन हाल ही में हुए एक नए अध्ययन से यह बात सामने आई है कि जिस डाइट में सैचुरेटेड फैट्स ज्यादा होते हैं, वह वास्तव में स्वास्थ्य को लाभ पहुंचाते हैं। हर दिन दूध में 2 से 3 टीस्पून मलाई लेकर देखें। उसके अपने फायदे हैं, इससे वजन नहीं बढ़ेगा। नार्वे की एक यूनिवर्सिटी ने हाल ही में यह खुलासा किया कि प्राक़तिक रूप से हाई फैट वाला आहार, जिसमें कार्ब्स कम हो, वह बैड कोलेस्ट्रॉल की बजाय गुड कोलेस्ट्रॉल बढ़ाते हैं और दिल संबंधी रोग का खतरा नहीं बढ़ने देते। सबसे जरूरी बात यह है कि इसे अधिक मात्रा में लेने से बचें।

मलाई क्यों और किस तरह सेहतमंद है?

मलाई प्राकृतिक प्रोबायोटिक है, जो पाचन के लिए अच्छी है। इससे आंतों का स्वास्थ्य अच्छा रहता है। प्रोटीन का अच्छा स्त्रोत होने के साथ यह रोगों को रोकती है। जिस प्रकार से यह त्वचा पर लगने पर चमक देती है, उसी प्रकार से शरीर के भीतर जाने पर भी यह भीतर जो गदंगी है, उसे खत्म करने का कार्य करती है। जोड़ों का दर्द है तो मलाई से अच्छा लुब्रिकेंट नहीं हो सकता। इसके खाने से जोड़ों का दर्द कम होगा और वह फ्लेक्सिबल बनेंगे। पुरुषों के स्वास्थ्य के लिए मिश्री और मलाई को मिलाकर खाना उत्तम माना गया है। अगर दो टीस्पून मलाई का सेवन किया तो यह एसिड रिफ्लक्स की तकलीफ से राहत पहुंचाएगा।

यह रोगों से कैसे बचाती है?

मलाई में लैक्टिक फर्मेंटेशन प्रोबायोटिक होता है, यह सूक्ष्मजीव आंतों को सेहतमंद रखते हैं, जिससे पेड़ से जुड़े रोग दूर रहते हैं। इसके अलावा इसमें मौजूद विटामिन-ए और प्रोटीन होता है, जो इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाते हैं और रोगों से लड़ने की क्षमता बढ़ती है।

(डॉ. गीता ग्रेवाल, वेलनेस एक्सपर्ट और कॉस्मेटिक सर्जन से बातचीत पर आधारित)

Pic credit- freepik

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.