Health Benefits of Flaxseeds: गंभीर बीमारियों में भी असरदार हैं अलसी के बीज, जानिए कब और किस तरह करें सेवन

Health Benefits of Flaxseeds अलसी के बीज ना सिर्फ मोटापा कंट्रोल करते हैं बल्कि कई बीमारियों का उपचार भी करते हैं। इसका नियामित और समय पर सेवन किया जाए तो इससे बॉडी को कई फायदे पहुंचते हैं। दिल के मरीज़ों के लिए इसका सेवन बेहद उपयोगी है।

Shilpa SrivastavaThu, 23 Sep 2021 12:06 PM (IST)
अलसी के बीज का सेवन खाली पेट करें तो वो आपकी बॉडी को ज्यादा फायदा पहुंचाएगा।

नई दिल्ली,लाइफस्टाइ डेस्क। औषधीय गुणों से भरपूर अलसी के बीज ना सिर्फ खाने में कुरकुरे और स्वादिष्ट लगते हैं, बल्कि बॉडी को जरूरी पोषक तत्व भी देते है। अलसी में प्रोटीन, फैट, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर, कैल्शियम, मैग्‍नीशियम, फास्‍फोरस, पोटैशियम, फोलेट और जीएक्‍सेंथिन होता है जो हमारी अच्छी सेहत के लिए बेहद जरूरी है। अलसी के बीज ना सिर्फ मोटापा कंट्रोल करते हैं, बल्कि कई बीमारियों का उपचार भी करते हैं। इसका नियामित और समय पर सेवन किया जाए तो इससे बॉडी को कई फायदे पहुंचते हैं। दिल के मरीज़ों के लिए इसका सेवन बेहद उपयोगी है। अब सवाल यह उठता है कि अलसी का सेवन किस तरह करें और उसे कब खाएं ताकि सेहत के उससे ज्यादा फायदा पहुंचे। आइए जानते हैं कैसे और कब करें अलसी के बीज का सेवन।

अलसी का सेवन कब ज्यादा असरदार होगा

आप अलसी के बीज का सेवन खाली पेट करें तो वो आपकी बॉडी को ज्यादा फायदा पहुंचाएगा। आप चाहें तो रात को सोने से पहले भी अलसी का सेवन कर सकते है, क्योंकि यह अच्छी नींद लाने में मददगार है।

अलसी का सेवन करने का सही तरीका:

हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक साबुत अलसी के बीज खाने की बजाए उन्हें पीसकर उनका सेवन करें। साबुत अलसी के बीज में ऊपर भूरे रंग का एक कवर होता है, जिसे पचाना आंत के लिए काफी मुश्किल होता है जिसकी वजह से अलसी के पोषक तत्वों को शरीर अवशोषित नहीं कर पाता। असली को पीसकर खाने से ज्यादा फायदा होगा।

अलसी के फायदे

दिल के लिए बेहद फायदेमंद है:

ओमेगा-3 फैटी एसिड, प्रोटीन, फाइबर, विटामिन्स और मिनरल्स से भरपूर अलसी दिल के लिए बेहद उपयोगी है। अलसी के बीज पाचन को बेहतर बनाते हैं, साथ ही टाइप 2 डायबिटीज, कैंसर और दिल के रोगों के खतरे को भी कम करने में मदद करते हैं।

कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल करने में मददगार है:

रोजाना अलसी के बीज खाने से कोलेस्ट्रॉल का लेवल 6 से 11 प्रतिशत तक कम हो सकता है। इसमें हाइ फाइबर और लिगनेन कंटेंट होता है जो कोलोस्ट्रोल को कंट्रोल करता है।

पाचन ठीक रखते हैं:

अलसी का नियामति और रोज़ाना सेवन आपके पाचन को दुरुस्त रखता है। अलसी में पर्याप्त मात्रा में फाइबर होता है, जो पाचन शक्ति को बेहतर करके कब्ज से निजात दिलाता है।

झुर्रियों से निजात दिलाते हैं:

अलसी में एंटी-ऑक्सीडेंट्स और फाइटो कैमिकल्स गुण मौजूद होते हैं जो जो बढ़ती उम्र में चेहरे पर होने वाली झुर्रियों से निजात दिलाते हैं, साथ ही स्किन को जवां और खूबसूरत भी बनाते हैं।

डिस्क्लेमर: स्टोरी के टिप्स और सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन्हें किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर नहीं लें। बीमारी या संक्रमण के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.