औषधीय गुणों से भरपूर कलौंजी का तेल करेगा इन 4 बीमारियों का उपचार

कलौंजी के तेल का इस्तेमाल सिर में किया जाए तो बालों को कंडीशनिंग मिलती है। कलौंजी के तेल में एंटी-इंफ्लामेटरी एंटी फंगल और ऐंटी बैक्टीरियल गुण मौजूद होते हैं जो हर तरह के बैक्टीरिया और गंदगी से हिफ़ाज़त करते हैं।

Shahina NoorWed, 01 Dec 2021 11:30 AM (IST)
खांसी और दमा का इलाज करता है कलौंजी का तेल।

नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। औषधीय गुणों से भरपूर कलौंजी कई स्वास्थ्य समस्याओं का उपचार करने में बेहद असरदार है। कलौंजी एक ऐसा मसाला है जिसका सेवन करने से याददाश्त दुरुस्त रहती है, साथ ही ब्लड प्रेशर भी कंट्रोल रहता है। यह सिरदर्द और जोड़ों के दर्द को दूर करती है, साथ ही इम्यूनिटी भी इम्प्रूव करती है। कलौंजी से ही उसका तेल बनाया जाता है जिससे ज्यादातर बीमारियों का उपचार होता है।

कलौंजी के तेल का इस्तेमाल सिर में किया जाए तो बालों को कंडीशनिंग मिलती है। कलौंजी के तेल में एंटी-इंफ्लामेटरी, एंटी फंगल और ऐंटी बैक्टीरियल गुण मौजूद होते हैं, जो हर तरह के बैक्टीरिया और गंदगी से हिफ़ाज़त करते हैं। इतना उपयोगी कालौंजी का तेल स्किन से लेकर सेहत तक को फायदा पहुंचाता है, आइए जानते हैं कलौंजी का तेल किन-किन बीमारयों का उपचार कर सकता है।

खांसी और दमा का इलाज करता है कलौंजी का तेल:

कलौंजी का तेल खांसी और दमा के मरीज़ों के लिए बेहद असरदार है। कलौंजी के तेल से छाती और पीठ पर मालिश करने से खांसी से राहत मिलेगी। आप चाहें तो दो चम्मच कलौंजी का तेल पी भी सकते हैं। आप कलौंजी के तेल का इस्तेमाल पानी में तेल डालकर भाप लेने के लिए भी कर सकते हैं। कलौंजी के तेल से भांप लेने से वायुमार्ग को खोलने में मदद मिलेगी।

शुगर कंट्रोल करता है यह तेल:

अगर आपकी शुगर अनियंत्रित रहती है तो आप कलौंजी के तेल का सेवन करें। एक कप कलौंजी के बीज, एक कप राई, आधा कप अनार के छिलके को पीस कर उसका चूर्ण बना लेना है। अब इस चूर्ण को आधे चम्मच कलौंजी के तेल में मिलाकर रोज नाश्ते से पहले इसका सेवन करें। ऐसा करने से आपका ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल रहेगा।

किडनी स्टोन में बेहद असरदार है:

अगर आपको पथरी की शिकायत है तो आप 250 ग्राम कलौंजी को पीसकर शहद में अच्छी तरह से मिक्स कर लें। उसके बाद हर बार यूज से पहले 2 चम्मच मिश्रण में एक चम्मच कलौंजी का तेल मिलाएं और एक कप गर्म पानी के साथ रोज नाश्ते से पहले खाएं। इस नुस्खे से किडनी स्टोन के दर्द से राहत मिलेगी।

सफेद दाग करेगा कम:

अगर बॉडी पर सफेद दाग हैं तो आप 15 दिन तक लगातार पहले सेब का सिरका शरीर पर मलें उसके बाद कलौंजी का तेल। जब ये तेल शरीर पर सूख जाए तो साफ पानी से बॉडी को वॉश कर लें जिससे आपको स्किन की इस समस्या से निजात मिलेगी। 

डिस्क्लेमर: स्टोरी के टिप्स और सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन्हें किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर नहीं लें। बीमारी या संक्रमण के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.