नहर की दरारों से झांक रहा भ्रष्टाचार

पश्चिम सिंहभूम जिले के मंझारी प्रखंड क्षेत्र की सिचाई परियोजना तोरलो डैम की नहर में किए गए घटिया निर्माण कार्य अब धीरे-धीरे उजागर होने लगा है।

JagranPublish:Fri, 03 Dec 2021 07:18 AM (IST) Updated:Fri, 03 Dec 2021 07:18 AM (IST)
नहर की दरारों से झांक रहा भ्रष्टाचार
नहर की दरारों से झांक रहा भ्रष्टाचार

संवाद सूत्र, तांतनगर : पश्चिम सिंहभूम जिले के मंझारी प्रखंड क्षेत्र की सिचाई परियोजना तोरलो डैम की नहर में किए गए घटिया निर्माण कार्य अब धीरे-धीरे उजागर होने लगा है। करोड़ों की लागत से दो साल पहले ही नहर निर्माण कार्य शुरू हुआ था लेकिन पूर्ण हुआ ही नहीं कि दूसरी ओर टूटना भी शुरू हो गया। नहर कई जगह क्षतिग्रस्त तो कई जगह दरारें पड़ गई है। इसमें अधिकारियों के संलिप्त होने की वजह निर्माण भष्ट्राचार की भेंट चढ़ गया। ठेकेदार ने बेहद ही घटिया तरीके से नहर का निर्माण किया है। इस कारण एक साल के भीतर ही जगह-जगह दरारें पड़ गई है। लेकिन अब किसानों की मांग उठने लगी है कि नहरों के निर्माण कार्य की वरिष्ठ अधिकारी जांच करें। दोषी ठेकेदार के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाए।

उल्लेखनीय है कि नहर के निर्माण में काफी अनियमितता बरती गई है। जिसे लेकर किसानों के द्वारा शुरू से ही विरोध जताया जाता रहा है। लेकिन अधिकारियों ने कभी भी इसकी सुध नहीं ली। जिसका नतीजा यह हुआ कि ठेकेदार मनमानी से घटिया निर्माण करता चला गया। नहरों के निर्माण के लिए जो मापदंड तय किए गए थे उनकी अनदेखी की गई है। घटिया निर्माण का अंदाजा नहर की हालत को देखकर आसानी से लगाया जा सकता है। पूर्ण होने से पहले ही दम तोड़ रही निर्माणाधीन नहर को देख मंझारी व तांतनगर प्रखंड के हजारों किसानों के मंसूबों पर पानी फेरने की संभावना बनी हुई है। - नाबालिग से भी कराया जा रहा काम

वर्तमान में तांतनगर प्रखंड के बिगबुरु गांव के पास नहर निर्माण का कार्य चल रहा है। निर्माण कार्य में अनियमितता तो बरती ही जा रही है, लेकिन काम को जल्द पूर्ण कराने के लिए निर्माण कंपनी के लोगों ने कार्य में नाबालिग से भी मजदूरी करा रही है। पूछताछ करने दौरान निर्माण कार्य देखरेख कर रहे कंपनी के लोगों ने बताया कि एक महिला मजदूर की तबीयत खराब हो जाने के कारण वह काम पर नहीं आई जिस कारण उस नाबालिग से काम लिया जा रहा है।

-----------

मानक के अनुरूप यह नहर बनाई जा रही है। यहां पथरीली मिट्टी होने के कारण कुछ जगह दरारें पड़ गई है। इसे ठीक कर लिया जाएगा।

-विजय कुमार, कनीय अभियंता, सिचाई विभाग। - नहर निर्माण कार्य ठीक-ठाक चल रहा है। कुछ जगह दरारें पड़ गई है। इसे ठीक कर लिया जाएगा।

-तुषार कुमार साहू, कनीय अभियंता, त्रिवेणी कंस्ट्रक्शन कंपनी। - मेरे संज्ञान में नहीं है। इसकी जांच की जाएगी। अगर अभी से दरारें आ रही है तो विभाग को इसकी सूचना दी जाएगी।

- समीर रेनियर खलखो, बीडीओ, मंझारी। - इस तरह अगर दरारें आ गई है तो इसकी उच्च स्तरीय जांच कराई जाएगी। अनियमितता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। गुणवत्ता पूर्ण कार्य होने पर ही इसे हैंड ओवर लिया जाएगा। अन्यथा दोषियों पर कार्रवाई की मांग की जाएगी।

- निरल पुरती, विधायक मझगांव विस।

---------------

-

पूर्ण होने से पहले ही टूटने लगी तोरलो नहर व पड़ने लगीं दरारें

घटिया निर्माण की खुल रही पोल, दो साल से हो रहा निर्माण

----------

2019 में तत्कालीन सांसद लक्ष्मण गिलुवा ने रखी थी पक्कीकरण को लेकर आधारशिला

2 साल से चल रहा नहर के पक्कीकरण का निर्माण कार्य

54 करोड़ की लागत से त्रिवेणी कंस्ट्रक्शन कंपनी करा रही निर्माण

34 किमी लंबी नहर का किया जा रहा है निर्माण

25 हजार एकड़ जमीन की होगी सिंचाई मंझारी व तांतनगर के किसान होंगे लाभांवित