बस किराया भुगतान नहीं होने पर करेंगे चरणबद्ध आंदोलन

बस किराया भुगतान नहीं होने पर करेंगे चरणबद्ध आंदोलन

सिंहभूम बस आनर एसोसिएशन का सरकारी कार्य में उपयोग की गई बसों का किराया लगभग एक करोड़ बकाया है।

Publish Date:Tue, 01 Dec 2020 06:41 PM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, चाईबासा : सिंहभूम बस आनर एसोसिएशन का सरकारी कार्य में उपयोग की गई बसों का किराया लगभग एक करोड़ बकाया है। इसके लिए एसोसिएशन ने राज्य निर्वाचन आयोग में शिकायत कर भुगतान की मांग की है। इसमें भी कोई सुनवाई नहीं होने पर एसोसिएशन की ओर से चरणबद्ध आंदोलन किया जाएगा। इस संबंध में जानकारी देते हुए एसोसिएशन के अध्यक्ष प्रदीप कुमार अग्रवाल ने कहा कि कोरोना महामारी की वजह से बस मालिकों की आर्थिक स्थिति चरमरा गई है। अब बस मालिकों का सब्र का बांध टूट चुका है। सरकार ने जब चाहा बस मालिकों से बस सेवा ली। कभी मुख्यमंत्री, कभी प्रधानमंत्री, पुलिस विभाग द्वारा सर्च अभियान, 15 अगस्त, 26 जनवरी, लोकसभा, विधानसभा चुनाव समेत अन्य कार्यक्रम में बसों का इस्तेमाल करती है लेकिन भुगतान का समय आने पर सभी विभाग हाथ खड़ा कर देते हैं। परिवहन विभाग में कई बार भुगतान के लिए मांग करने पर भी कोई सुनवाई नहीं होती है। अंत में राज्य निर्वाचन विभाग में एसोसिएशन के द्वारा मांग पत्र दिया गया है। जिसमें विभिन्न कार्यक्रमों में बसों के इस्तेमाल से लगभग एक करोड़ रुपये से अधिक बकाया है। जिसका भुगतान नहीं होने से बस मालिकों की हालत खराब हो गई है। रोड़ टैक्स, बढ़े हुए पा‌र्ट्स के दाम, डीजल के दाम में इजाफा समेत अन्य कारण से काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। झारखंड सरकार हमारी मांग को नहीं मानेगी तो मजबूरन हमें चरणबद्ध आंदोलन करने के लिए सड़क पर उतरना पड़ेगा। इस मौके पर उपाध्यक्ष मो. बारीक, दिलीप अग्रवाल, अशोक कुमार दास, मोहन लाल राठौर, सुरेश कुमार साव समेत अन्य मौजूद थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.