झारबेडा चौक के पास पत्थर से कूचकर युवक की हत्या

संवाद सूत्र, मनोहरपुर : आनंदपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत बुनुमदा गांव निवासी 22 वर्षीय सुदामा बड़ाईक की पत्थर से कूचकर निर्मम हत्या कर दी गई। घटना बुधवार रात की है। हत्या झारबेड़ा चौक के पास की गई। इस हत्या से क्षेत्र में भय का माहौल है। घटना की जानकारी मिलते ही आनंदपुर पुलिस ने घटनास्थल पहुंचकर शव का पंचनामा किया और पोस्टमार्टम के लिए चक्रधरपुर भेज दिया। सुदामा के शव के पास उसकी बजाज पल्सर बाइक खड़ी मिली और बाइक में चाबी लगी हुई थी। मृतक का मोबाइल मौके से बरामद नहीं हुआ। मृतक के पिता फागु बड़ाईक के बयान पर पुलिस दिलीप बड़ाईक, दीपक बड़ाईक व देवराम बड़ाईक के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई में जुट गई है। जानकारी के मुताबिक सुदामा की हत्या का मामला नंदकिशोर बड़ाईक हत्या कांड से जुड़ा हुआ है। बीते साल 22 मार्च की रात नंदकिशोर की हत्या के बाद पुलिस ने हत्या में दोषी रथु बड़ाईक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। नंदकिशोर के तीनों बेटे दिलीप बड़ाईक, दीपक बड़ाईक व देवराम बड़ाईक अक्सर सुदामा और उसके परिवार वालों को धमकी देते थे कि नंदकिशोर की हत्या में सुदामा का भी हाथ है। अत: वह भी सरेंडर कर दे। तीनों भाइयों की धमकी से तंग आकर सुदामा पत्नी संग हैदराबाद चला गया। सुदामा के जाने के बाद तीनों भाइयों ने सुदामा की मां और पिता फागु के साथ मारपीट भी की थी। फागु के बयान पर आरोपित तीनों भाइयों पर मामला दर्ज किया गया था। पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भी भेजा था। पुलिस ने बताया कि तीनों भाई अभी जमानत पर हैं और राउरकेला में रहते हैं। सुदामा दोस्त के साथ निकला था ओडिशा

मृतक की पत्नी ने पुलिस को बताया कि बुधवार को सुदामा अपनी बजाज पल्सर बाइक से दोस्त विजय तांती के साथ बारीलेप्टा (ओडिशा, नयागांव थाना) जाने के लिए निकला था। इस बीच दोस्त को उसके गांव गंजूर (ओडिशा) में उतारकर बारीलेप्टा मामा घर जाने की बात कही। वह मामा घर पैसे लाने गया था। पिता फागु ने बताया कि तीनों आरोपित दिलीप बड़ाईक, दीपक बड़ाईक व देवराम बड़ाईक की धमकी से तंग आकर पिछले एक माह से वे मनोहरपुर में रह रहे हैं। बुधवार को सुदामा के जाने के बाद वे अपने गांव बुनुमदा आ गए थे। शाम पांच बजे सुदामा ने पिता को फोन किया और राऊरकेला में होने की बात बताई। प्रथम दृष्टया हत्या का मामला नंदकिशोर हत्याकांड से जुड़ा लगता है। पुलिस सभी पहलुओं पर अनुसंधान कर रही है। आरोपितों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

- खुर्शीद आलम, इंस्पेक्टर, मनोहरपुर।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.