एक माह में हाटगम्हरिया-बरायबुरु सड़क सड़क नहीं बनी तो आर्थिक नाकाबंदी : मधु कोड़ा

जिस हाटगम्हरिया-बरायबुरु सड़क को लेकर 2004-05 में मधु कोड़ा की सरकार बनी थी। उसी सड़क को 17 साल बाद फिर एक बार पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा ने चर्चा में ला दिया है।

JagranTue, 07 Dec 2021 06:18 AM (IST)
एक माह में हाटगम्हरिया-बरायबुरु सड़क सड़क नहीं बनी तो आर्थिक नाकाबंदी : मधु कोड़ा

जासं, चाईबासा : जिस हाटगम्हरिया-बरायबुरु सड़क को लेकर 2004-05 में मधु कोड़ा की सरकार बनी थी। उसी सड़क को 17 साल बाद फिर एक बार पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा ने चर्चा में ला दिया है। सोमवार को कांग्रेस भवन में मीडिया को संबोधित करते हुए कोड़ा ने कहा कि चाईबासा से हाटगम्हरिया नेशनल हाईवे 75ई के निर्माण की मांग को लेकर कांग्रेस की लोकसभा सदस्य गीता कोड़ा संसद में आवाज उठा चुकी हैं। साथ ही पथ निर्माण मंत्री नितिन गड़करी से मुलाकात कर उक्त सड़क को जल्द बनवाने की मांग की है। मंत्री नितिन गड़करी से आश्वासन मिला। इसके बावजूद केंद्र सड़क पर ध्यान नहीं दे रहा है। वहीं जगन्नाथपुर विधायक सोनाराम सिकू ने विधानसभा में भी सड़क जीर्णोद्वार करने की मांग की है। राज्य सरकार भी मौन धारण किए हैं। सड़क से केंद्र व राज्य सरकार को प्रतिवर्ष हजारों करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त होता है। इस पर ध्यान नहीं देना इसकी उपेक्षा करना है। कोड़ा ने कहा कि एक माह के अंदर अगर चाईबासा-हाटगम्हरिया सड़क का जीर्णोद्वार नहीं होता है तो कांग्रेस सड़क पर उतर कर अनिश्चितकालीन आर्थिक नाकाबंदी करेगी। कोल्हान प्रमंडल की आर्थिक वृद्धि एवं लोगों की जीवन रेखा का मुख्य साधन है। ओडिशा एवं झारखंड की लौह अयस्क, मैगनीज अयस्क, लाइम स्टोन का परिवहन इसी सड़क से होता है। सड़क की स्थिति बद से बदत्तर हो गई है। आम जनता इस सड़क से गुजरना बंद कर दिये हैं। छोटे वाहन गुजरने लायक सड़क बची नहीं है। अब आर-पार की लड़ाई पार्टी लड़ने के लिए तैयार है।

---------------------

पश्चिम सिंहभूम के साथ केंद्र व राज्य सरकार कर रही भेदभाव

- पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा ने कहा कि केंद्र व राज्य सरकार को कई बार जानकारी देने के बाद भी ध्यान नहीं दिया जा रहा है। सरकार प्राथमिकता के साथ सड़क निर्माण करें हमारी यही मांग है। क्षेत्र से करोडों रुपये का राजस्व सरकार को मिल रहा है। पिछली बार की तरह राज्य सरकार को गिराने का कोई इरादा नहीं है लेकिन तीन-चार साल से सड़क की हालत खराब है। इसके बावजूद ध्यान नहीं देना सरकार की मंशा जाहिर होता है। क्षेत्र के साथ दोनों सरकार भेदभाव कर रही है। पथ निर्माण विभाग भी सड़क में एक-दो जगह गिट्टी गिरा कर अपनी जिम्मेदारी जैसा पूरा कर लिया हो लेकिन अब इस सड़क के लिए मधु कोड़ा फिर एक बार सड़क में उतर कर आंदोलन करेगा।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.