अनिश्चितकालीन हड़ताल पर गए जगन्नाथपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के 35 अनुबंधित पारा स्वास्थ्यकर्मी

अनिश्चितकालीन हड़ताल पर गए जगन्नाथपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के 35 अनुबंधित पारा स्वास्थ्यकर्मी

राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन (एनआरएचएम) कार्यक्रम के तहत अनुबंध पर वर्षों से कार्यरत स्वास्थ्य कर्मियों ने मंगलवार को सांकेतिक हड़ताल करने के बाद जब सरकार की ओर से कोई पहल होता नहीं देखा तो बुधवार से सभी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए।

Publish Date:Wed, 05 Aug 2020 07:20 PM (IST) Author: Jagran

संवाद सूत्र, जगन्नाथपुर : राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन (एनआरएचएम) कार्यक्रम के तहत अनुबंध पर वर्षों से कार्यरत स्वास्थ्य कर्मियों ने मंगलवार को सांकेतिक हड़ताल करने के बाद जब सरकार की ओर से कोई पहल होता नहीं देखा तो बुधवार से सभी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए। इस हड़ताल का असर अनुमंडल मुख्यालय के जगन्नाथपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भी दिखा। बुधवार को प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को सूचना देने के बाद यहां सीएचसी में अनुबंध पर कार्यरत 35 स्वास्थ्य कर्मी स्वास्थ्य केंद्र परिसर में दरी व तख्ती लगाकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं। जानकारी हो कि जगन्नाथपुर सीएचसी में करीब 80 फीसदी स्वास्थ्यकर्मी अनुबंध पर हैं। उनके हड़ताल पर चले जाने से यहां की स्वास्थ्य व्यवस्था चरमराने लगी है। कोविड सहित अन्य विभागों का काम भी प्रभावित हो रहा है। जगन्नाथपुर सीएचसी अंतर्गत एनआरएचएम के तहत अनुबंध पर कार्यरत एएनएम 26, जीएनएम 2, लैबटेक्नीशियन 2, बीपीएम 1, बीएएम 1 और 3 एमओ (मेडिकल अफसर) राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम (आरबीएसके) डॉ. रामनाथ शर्मा, डॉ. इकबाल और डॉ. निरोला महतो सहित अन्य अनिश्चितकालीन हड़ताल पर हैं। इसकी जानकारी देते हुए राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम (आरबीएसके) के मेडिकल ऑफीसर डॉ. रामनाथ शर्मा ने जानकारी दी कि जब तक झारखंड सरकारी मांगे पूरी नही करेगी वे हड़ताल पर डटे रहेंगे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.