कार्य में सुधार लाएं संवेदक नहीं तो होगी कार्रवाई

लीड--------- जागरण प्रभाव कार्यपालक अभियंता ने ली पुल निर्माण और डायवर्सन की जानकारी ज

JagranThu, 17 Jun 2021 10:33 PM (IST)
कार्य में सुधार लाएं संवेदक नहीं तो होगी कार्रवाई

लीड---------

जागरण प्रभाव कार्यपालक अभियंता ने ली पुल निर्माण और डायवर्सन की जानकारी जासं,सिमडेगा: झारखंड को ओड़िशा राज्य से जोड़ने वाले एनएच 143 पर पंडरीपानी के समीप पुल निर्माण में विलंब एवं असुरक्षित डायवर्सन की खबर दैनिक जागरण में प्रकाशित होने के बाद गुरुवार को कार्यपालक अभियंता रामेश्वर शाह ने मौके पर पहुंचकर वस्तुस्थिति से अवगत हुए।इस दौरान उन्होंने कार्य करा रहे संवेदक को भी फटकार लगाई व कार्य में सुधार लाने का निर्देश दिया। अन्यथा एफआईआर कराने की बात कही। उन्होंने संवेदक को कहा कि डायवर्सन को और मजबूत बनाने का कार्य करें। साथ ही अपातकालीन व्यवस्था भी पूरी तरह तैयार रखने को कहा।कार्यपालक अभियंता ने कहा कि पुल को अब बरसात के पहले पूर्व कराना मुश्किल है। ऐसे में डायवर्सन को ही और मजबूत कर

उसे दुरुस्त कराया जाएगा। उन्होंने बरसात होने के कारण डायवर्सन पर कालीकरण नहीं होने

की बात कही।इधर संवेदक ने भी बताया कि चूंकि पुल निर्माण से पहले नदी में मौजूद पत्थर की

तोड़ने के लिए अनापत्ति लेने में विलंब हुआ।जिसके कारण पुल के निर्माण कार्य में विलंब हुआ।

वहीं डायवर्सन पर कालीकरण नहीं होने की सवाल पर कहा कि चूंकि रैयत की जमीन होने की

वजह से व उनके द्वारा विरोध करने के कारण कालीकरण नहीं कराया जा सका।इधर कार्यपालक

अभियंता के निर्देश के बाद डायवर्सन को मजबूत करने की दिशा में कार्य शुरू कर दिया गया था

। कार्यपालक एवं सहायक अभियंता को स्पष्टीकरण

सिमडेगा:पुल निर्माण में विलंब होने व डायवर्सन को लेकर लापरवाही बरतने पर कार्यपालक अभियंता, सहायक अभियंता को स्पष्टीकरण पूछा गया है।अनुमंडल पदाधिकारी महेन्द्र कुमार ने बताया कि उपायुक्त सुशांत गौरव के निर्देशानुसार मौजा टुकुपानी में एनएच143 में हो रहे पुल निर्माण का निरीक्षण करते हुए कार्य की ‌र्प्रगति, गुणवता को देखते हुए पुल निर्माण के दिशा में महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश एनएच के कार्यपालक अभियंता एवं सहायक अभियंता को दिया गया था। परंतु जांच में पुल निर्माण में अपेक्षित सुधार नहीं पाए जाने पर अभियंता पर कार्रवाई करते हुए स्पष्टीकरण की मांग की गई है। उन्होंने बताया कि मानसून को देखते हुए देर रात तक काम कर एक महीने के अंदर कार्य पूर्ण करने, डायवर्सन में अविलंब प्रावधानों के अनुरूप कालीकारण कराने,डायवर्सन के दोनों छोरों में दो-दो अतिरिक्त मेंट लगाने के निर्देश दिए गए थे।पर अबतक इस दिशा में कोई कार्य नहीं किया गया है। उन्होंने कहा कि एनएच 143 पर निर्माण कार्य में गुणवता की कमी पाये जाने पर दुबारा निर्माण कार्य संवेदक के द्वारा कराया जाएगा।वहीं एनएच

के कार्यपालक अभियंता रामेश्वर शाह ने स्पष्टीकरण मिलने की बात स्वीकारते हुए इसे अनुचित

बताया है। उन्होंने कहा है कि एसडीओ उनसे स्पष्टीकरण नहीं पूछ सकते।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.