सरायकेला में विश्वकर्मा पूजा पर रहा उत्सव का माहौल Saraikela News

सरायकेला (जागरण संवाददाता)। सरायकेला आसपास के क्षेत्रों में प्रतिवर्ष की भांति मंगलवार को काफी हर्षोल्लास के साथ उत्सव के रुप में विश्वकर्मा पूजा का आयोजन किया गया। सीनी में रेलवे इंजीनियरिंग कारखाना समेत दक्षिण-पूर्व रेलवे के कई यांत्रिक संस्थान है जहां काफी धूमधाम के साथ देव शिल्पी भगवान विश्वकर्मा पूजा उत्सव का आयोजन किया जाता है। प्रतिवर्ष की

भांति सोमवार को रेलवे इंजीनियरिंग कारखान के विभिन्न कर्मशाला एवं कई विभाग के वरीष्ट अनुभाग अभियंता कार्यालय में प्रतिमा स्थापित कर काफी धूमधाम व हर्षोल्लास के साथ देव शिल्पी भगवान विश्र्वकर्मा की पूजा समारोह का आयोजन किया गया। इंजीनियरिंग कारखाना के मशीन शॉप, मोटर शॉप, एलाई शॉप, विद्युत्त शॉप, ब्रीज शॉप आदि विभिन्न कर्मशाला में आकर्षक पंडाल में प्रतिमा स्थापित कर भगवान विश्वकर्मा की पूजा-अर्चना की गई।

सोमवार को सीनी में रेलवे के उपरी उपस्कार अनुसंरक्षण डिपो, रेलपथ वरीष्ट अनुभाग अभियंता कार्यालय, कार्य विभाग के वरीष्ट अनुभाग अभियंता कार्यालय, विद्युत्त विभाग कार्यालय एवं वरीष्ट अनुभाग अभिंयता संकेत कार्यालय में रंग-बिरंगे विद्युत्त प्रकाश से सुसज्जित पंडाल निर्माण कर भगवान विश्वकर्मा पूजा का आयोजन किया गया जहां मंगलवार को दिन भर पूजा की धूम रही और स्थानीय एवं दूरदराज के श्रद्धालुओं ने आकर भगवान विश्वकर्मा को माथा टेकते हुए प्रसाद ग्रहण किया। प्रसाद लेने के लिए सबसे अधिक भीड़ कार्य विभाग के वरिष्‍ठ अनुभाग अभियंता कार्यालय में देखी गई जहां खिचड़ी प्रसाद वितरण किया गया। इस मौके पर कारखाना में लोगों की काफी भीड़ रही जो कारखाना के विभिन्न कार्मशाला का भ्रमण करते हुए प्रसाद ग्रहण कर रहे थे।

कारखाना गेट पर लगा मेला 

कारखाना गेट में मेला लगाया गया था जहां लोगों की काफी भीड़ रही। रेलवे संस्थान के अलावे सीनी में टेंपो स्टैंड, हरिजन टोला एवं आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों में छोटे-बड़े निजी यांत्रिक प्रतिष्‍ठान व दुकानों में भी विश्वकर्मा पूजा का आयोजन किया गया। सीनी में दिन भर उत्सव का माहौल रहा और सभी पूजा पंडालों में लोगों की भीड़ उमड़ी। इधर कोलाबीरा स्थ्सि राम कृष्णा फोर्जिंग लिमिटेट में भी काफी हर्षोल्लास के साथ विश्वकर्मा पूजा का आयोजन किया गया जहां कामगारों ने भगवान विश्वकर्मा का माथा टेकते हुए सुख-शांति व समृद्धि की कामना की

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.