World Brain Tumor Day 2021: हर सिरदर्द और मिर्गी के लक्षण को पेन किलर खाकर दबाने की ना करें गलती

ब्रेन ट्यूमर एक खतरनाक बीमारी है। लेकिन कई दफा देखा गया है कि सिरदर्द या मिर्गी का लक्षण समझ कर पेन किलर की दवा खाकर रोग को दबाने की कोशिश करते हैं। ऐसा करना जानलेवा साबित हो सकता है। इसलिए ऐसे लक्षण मिलने पर तत्काल न्यूरो फिजीशियन से संपर्क साधें।

Vikram GiriTue, 08 Jun 2021 09:51 AM (IST)
World Brain Tumor Day 2021: सिरदर्द और मिर्गी के लक्षण को पेन किलर खाकर दबाने की ना करें गलती। जागरण

रांची, जासं । ब्रेन ट्यूमर एक खतरनाक बीमारी है। लेकिन कई दफा देखा गया है कि सिरदर्द या मिर्गी के लक्षण समझ कर पेन किलर की दवा खाकर रोग को दबाने की कोशिश करते हैं। ऐसा करना मरीज के लिए जानलेवा साबित हो सकता है। इसलिए ऐसे लक्षण मिलने पर तत्काल न्यूरो फिजीशियन से संपर्क साधें। इसे हल्का फुल्का लक्षण समझने की गलती ना करें। क्योंकि ऐसे अधिकतर मरीज एडवांस स्टेज पर चिकित्सक के पास इलाज के लिए पहुंचते हैं। इसके लिए शुरुआती चरण में ब्रेन ट्यूमर की पहचान होने पर इलाज आसानी से हो सकता है।

2 वर्षों में रिम्स में हो चुके हैं 450 ब्रेन ट्यूमर की सर्जरी

प्रदेश के विभिन्न जिलों से कई मरीज ब्रेन ट्यूमर के रिम्स में इलाज कराने के लिए पहुंचते हैं। वर्ष 2018 और 2019 में अब तक फिर 450 मामले ब्रेन ट्यूमर के आ चुके हैं। जिसमें अधिकतर मरीजों की सफल सर्जरी हो सकी है। कुछ मामलों में यह कैंसर का स्वरूप ले लेता है जिसमें सर्जरी के बाद रेडिएशन और कीमोथेरेपी मरीजों को दी जाती है। हालांकि बीते 2 वर्षों में कोरोना के कारण रिम्स में अधिकतर दिनों तक ओपीडी सेवा प्रभावित रही है इस वजह इन मरीजों की संख्या में कमी देखने को मिली है।

क्या है ब्रेन ट्यूमर

''ब्रेन ट्यूमर'' एक खतरनाक बीमारी है।जब मानव शरीर में कोशिकाओं की अनावश्यक वृद्धि हो, लेकिन शरीर को इन अनावश्यक वृद्धि वाली कोशिकाओं की आवश्यकता न हो, तब इस अवस्था को ही कैंसर के नाम से जाना जाता है। ब्रेन के किसी हिस्से में पैदा होने वाली असामान्य कोशिकाओं की वृद्धि ब्रेन ट्यूमर के रूप में प्रकट होती है। समय रहते इलाज नहीं कराया गया तो यह जानलेवा साबित हो सकता है।

क्या है ब्रेन ट्यूमर के लक्षण

ब्रेन ट्यूमर होने पर आम लक्षण जो शरीर में दिखाई देते हैं उनमें धीरे- धीरे सिरदर्द का बढ़ना, उल्टी, घबराहट , धुंधली या दोहरी दृष्टि या दृष्टि की हानि, रोजमर्रा के मामलों में उलझन, व्यवहार में बदलाव, बोलने और सुनने में कठिनाई आदि लक्षण आम हैं। ब्रेन ट्यूमर के लक्षण वैसे तो हर पीड़ित के शरीर में एक से दिखाई दें, ये तो कोई जरूरी बात नहीं है।

पोस्ट कोविड मरीजों में ब्लैक फंगस से बढ़ जाता है ब्रेन ट्यूमर का खतरा

पोस्ट कोविड मरीजों में ब्लैक फंगस के संक्रमण का खतरा देखा जा रहा है। इस ब्लैक फंगस से ब्रेन ट्यूमर होने का खतरा बना रहता है। रिम्स के न्यूरोलॉजिस्ट डॉ सीबी सहाय बताते हैं कि कोरोना के संक्रमण के बाद सबसे बड़ी समस्या ब्लैक फंगस के रूप में ब्रेन ट्यूमर के मरीज सामने आ रहे हैं। ऐसे मरीजों को काफी सावधानी बरतने की जरूरत है। इस तरह के मरीजों के इलाज में भी काफी कॉन्प्लिकेशन आता है। कोरोना नेगेटिव होने के बाद लोगों को गंदगी से दूर साफ सफाई पर विशेष ध्यान देने की जरूरत होती है।

अभी अस्पतालों में पोस्ट को भीड़ मरीजों की समस्या काफी अधिक आ रही है। इसमें बीपी और मधुमेह रोगियों में अचानक ब्रेन ट्यूमर बातें एम आर आई जांच के बाद सामने आ रही है। करीब 30 से 35 प्रतिशत मामले पोस्ट कोविड मरीजों में ब्रेन ट्यूमर के रूप में देखा जा रहा है।

ब्लैक फंगस की समस्या को दूर कर ब्रेन ट्यूमर से बचा जा सकता है। इसके लिए सबसे जरूरी है कि पुराने मास का इस्तेमाल बिल्कुल ना करें। साथी यदि मास्क साथ ही यदि मास अंधेरे में रखा हुआ है या नमी में रखा हुआ है तो उसका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। अगर फिर भी किसी मजबूरी में ऐसे मास्क का इस्तेमाल करना हो तो उसे गर्म पानी से जरूर साफ कर किया जा सकता है। इसके अलावा डायबिटीज मरीजों को अधिक सावधानी बरतते हुए खानपान में सुधार लाने की जरूरत है जिसमें घर का खाना और ताजा भोजन शामिल हो। साथ ही फ्रीज में अधिक समय तक रखी गई सब्जियों का भी इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

रोग की पहचान अगर समय पर हो जाए, तो मरीज की जान बचाई जा सकती है। इसलिए सिर दर्द और मिर्गी का लक्षण समझकर ब्रेन ट्यूमर को हल्के में लेने की गलती ना करें। क्योंकि कई दफा अस्पतालों की ओपीडी में ऐसे मामले देखने को मिलते हैं। - डॉ संजय कुमार, न्यूरो सर्जन, रांची

ब्रेन ट्यूमर के मरीज को अगर कोरोना हो जाए तो मरीज मुश्किलें और बढ़ जाती है। ऐसे मरीजों को होने में थोड़ा और वक्त लगता है। कैंसर की स्थिति में यह ज्यादा खतरनाक हो जाती है। - डॉक्टर अनिल कुमार, विभागाध्यक्ष, न्यूरो सर्जरी

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.