कोरोना वैक्‍सीन लेने पर इस विश्‍वविद्यालय के छात्रों को मिलेंगे पांच नंबर, कुलपति ने की घोषणा Hazaribagh News

Jharkhand Hindi News Vinoba Bhave University Hazaribagh हजारीबाग स्थित विनोबा भावे विवि के कुलपति ने कहा है कि अपने अभिभावकों के साथ वैक्सीन लेने वाले छात्रों को मेरिट कार्ड दिया जाएगा। अगले सेमेस्टर से यह नियम लागू होगा।

Sujeet Kumar SumanMon, 07 Jun 2021 04:22 PM (IST)
Jharkhand Hindi News, Vinoba Bhave University Hazaribagh अगले सेमेस्टर से यह नियम लागू होगा।

हजारीबाग, जासं।  कोरोना महामारी पर जीत हासिल करने का एकमात्र विकल्प वैक्सीन है। संक्रमण से बचाव को लेकर झारखंड सहित पूरे देश में वैक्सीनेशन चल रहा है। इस कड़ी को आगे बढ़ाते हुए विनोबा भावे विश्वविद्यालय के कुलपति डाॅ. मुकुल नारायण देव ने दैनिक जागरण के वेबिनार यस फॉर वैक्सीन में एक अहम घोषणा की है। उन्‍होंने कहा है कि अपने अभिभावकों के साथ वैक्सीन लेने वाले छात्रों को मेरिट कार्ड दिया जाएगा। इस मेरिट कार्ड को हासिल करने वाले विद्यार्थियों को आगामी परीक्षा में पांच अंक दिए जाएंगे। कुलपति मुकुल नारायण देव ने कहा कि अगले सेमेस्टर से यह नियम लागू होगा।

इसके लिए एकेडमिक काउंसिल में इसका प्रस्ताव भेजा गया है। वेबिनार के दौरान कुलपति ने बताया कि विभावि में वर्तमान में करीब ढाई लाख विद्यार्थी हैं। अगर इनके अभिभावकों को जोड़ दिया जाए तो सीधे तौर पर आठ से 10 लाख लोग विभावि परिवार से जुड़े हैं। विभावि की इस पहल से यहां पढ़ रहे विद्यार्थी अपने अभिभावकों को प्रेरित करेंगे। विद्यार्थी वैक्सीन को लेकर भ्रांतियां भी दूर कर सकेंगे। अगर यह अभियान सफल रहा तो हम बड़ी संख्या में वैक्सीनेशन कराने में कामयाब रहेंगे। कुलपति ने बताया कि वे जिला प्रशासन से आग्रह करेंगे कि विभावि कैंपस के अंदर वैक्सीनेशन को लेकर शिविर लगाया जाए।

एकेडमिक काउंसिल में भेजा गया प्रस्ताव

विभावि की इस पहल से जुड़े प्रस्ताव को एकेडमिक काउंसिल में भेज दिया गया है। इसमें छात्रों को अगले सेमेस्टर में उपस्थिति के स्थान पर वैक्सीनेशन के लिए अंक दिए जाएंगे। पहले उपस्थिति पर पांच अंक दिए जाते थे। विभावि के इस अभियान से हजारीबाग के अलावा कोडरमा, चतरा, रामगढ़ और गिरिडीह में वैक्सीनेशन अभियान को गति मिलेगी। इन जिलों के बड़ी संख्या में छात्र विभावि में अध्ययनरत हैं। कुलपति के अलावा विधायक मनीष जायसवाल ने वैक्सीन को अनिवार्य बनाने पर जोर दिया।

कहा कि कोरोना की दूसरी लहर ने हमें बता दिया है कि इसका एकमात्र विकल्प टीकाकरण है। ऐसे में टीकाकरण अनिवार्य होने से कोई भी टीका लेने से इन्‍कार नही कर सकेगा। उपायुक्त डाॅ. आदित्य कुमार आनंद ने कहा कि वैक्सीन को लेकर अंतिम व्यक्ति तक पहुंच बनाने के लिए प्रशासन संकल्पित है। मोबाइल वैन से लेकर हर प्रकार के जागरूकता कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। इनसे जुड़ी भ्रांतियों को भी दूर किया जा रहा है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.