top menutop menutop menu

झारखंड के बाहर से आने वाले अनिवार्य रूप से रहेंगे क्वारंटाइन : उपायुक्त

संवाद सहयोगी, रामगढ़ : झारखंड से बाहर से जिले में आने वाले लोगों की अनिवार्य रूप से सैंप्लिग ली जाएगी। साथ ही अनिवार्य रूप से क्वारंटाइन में रहेंगे। पड़ोसी राज्यों से आने वाले लोगों की जानकारी ली जा रही है। लोगों की जवाबदेही बनती है कि अगर वे दूसरे राज्य से जिले में आए हैं तो इसकी तत्काल जानकारी प्रशासन को दें। कहीं से भी शिकायत आती है कि संबंधित लोगों ने जानकारी छिपाई है, उनके विरुद्ध भादवि की सुसंगत धाराओं में कार्रवाई की जाएगी। बाहर से आने वाले आगंतुकों की भी जवाबदेही है कि वे अपना विवरण दें, जांच रिपोर्ट आने के बाद ही घर जाएं। दूसरे राज्यों से कहीं से भी आएंगे उन्हें जांच कराना अनिवार्य है। यह बातें बुधवार को उपायुक्त संदीप सिंह ने कही। अपने कार्यालय कक्ष के सभागार में पत्रकारों से बातचीत में उपायुक्त ने कहा कि जिले में क्रास इंफेक्शन की स्थिति नहीं है। पिछले पांच सात सात दिनों में अचानक से संक्रमितों की संख्या बढ़ी है। पतरातू में बाहर से जिले में आए 13 सीआइएस जवान संक्रमित पाए गए हैं। शहर में एएनएम बगैर सूचना के अवकाश लेकर बिहार गईं। उन्होंने प्रोटोकॉल का पालन नहीं किया। इसके कारण एक परिवार के 12 लोग संक्रमित हुए। उपायुक्त संदीप सिंह ने स्पष्ट कहा कि दोषी कर्मियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। सिविल सर्जन को जांच कर उन्हें रिपोर्ट देने का निर्देश दिया गया है। जिले में संक्रमितों के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि जिले में 156 केस मिले हैं। इनमें 123 ठीक होकर अपने-अपने घर चले गए हैं। इसके अलावा 33 एक्टिव केस हैं, जिनका इलाज कोविड अस्पताल में चल रहा है।

------

बगैर मास्क लगाए खरीदारी करने वालों को नहीं दें सामान

रामगढ़ : उपायुक्त ने जिले के दुकानदारों को स्पष्ट निर्देश दिया है कि जो भी ग्राहक अगर बगैर मास्क लगाए खरीदारी करने उनके प्रतिष्ठान में आते हैं तो उन्हें सामान देने से स्पष्ट मना कर दें। अगर इसमें दुकानदार लापरवाही बरतेंगे तो वैसे दुकानदारों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करते हुए उनकी दुकानों को सील करने की कार्रवाई की जाएगी।

------------------

निजी अस्पताल व क्लीनिकों को देनी होगी मरीजों की जानकारी

रामगढ़ : जिले में निजी अस्पताल व क्लीनिक संचालकों को संभावित कोरोना के लक्षण वाले मरीज मसलन सर्दी , खांसी, बुखार, श्वास लेने में तकलीफ आदि आने पर, उसकी सूचना तुरंत सिविल सर्जन को देना है। न कि लक्षण दिखने पर उसे दूसरे अस्पताल में रेफर करना है। इस संबंध में उपायुक्त ने कहा कि कई अस्पतालों द्वारा इससे संबंधित जानकारी जिला कार्यालय सदर अस्पताल को नहीं दी जाती है इससे संक्रमण बढ़ने का खतरा रहता है। इससे जिला प्रशासन को अधिक संख्या में कंटेनमेंट जोन व बफर जोन बनाना पड़ रहा है व बड़ी संख्या में लोगों के संक्रमण का खतरा पैदा हो रहा है। आदेशों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्ती से कार्रवाई की जाएगी।

--------------

सर्दी, खांसी बुखार से संबंधित दवाइयां लेने वालों की देनी होगी जानकारी

रामगढ़ : जिले में सर्दी, खांसी, बुखार से संबंधित दवाईयों लेने वालों की जानकारी प्रशासन को देनी होगी। इसके लिए जिले के जिले के सभी दवा दुकानदारों को आदेश निर्गत किया गया है। इस बाबत उपायुक्त ने आदेश निर्गत कर दिया है। कोरोना लक्षण के लिए दवा खरीदने वाले व्यक्तियों की पहचान हो ताकि समय पर उनकी सही जांच व कोरोना वायरस संक्रमण के रोकथाम के लिए आवश्यक कार्रवाई की जा सके।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.