चारदीवारी तोड़ने के मामले में 23 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी

चारदीवारी तोड़ने के मामले में 23 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी

जिले में भू माफियाओं ने प्रशासन को खुली चुनौती देने की ठान ली है।

Publish Date:Sun, 05 Jul 2020 08:57 PM (IST) Author: Jagran

संवाद सहयोगी, रामगढ़ : जिले में भू माफियाओं ने प्रशासन को खुली चुनौती देने की ठान ली है। उनका हौसला इतना बढ़ा हुआ है कि कुछ भी कर गुजरने की हिम्मत रखे हुए हैं। इसका ताजा उदाहरण जिले की एकमात्र सरकारी कॉलेज रामगढ़ महाविद्यालय है। यहां जमीन के विवाद में पहले तो भू-माफियाओं ने कॉलेज की चारदीवारी को पूरी तरह तोड़ दी। बाद में महाविद्यालय की ओर से लगाया गया करीब दस फीट का गेट भी चुरा कर चलते बने। रविवार को भू-माफियाओं ने प्रशासन की मौजूदगी में बनवाई गई कॉलेज की चारदीवरी को करीब पांच-छह घंटे भी नहीं टिकने दिया। घटना को लेकर कॉलेज प्राचार्य डॉ. मिथिलेश कुमार सिंह के निर्देश पर महाविद्यालय के सुरक्षा प्रभारी राजेश महतो व प्रकाश कुमार ने रविवार को रामगढ़ थाने में 23 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है। थाने में दी गई सूचना के अनुसार शनिवार की शाम अनुमंडल पदाधिकारी द्वारा नियुक्त किए गए दंडाधिकारी डांगूर कोडाह एवं अंचल अधिकारी भोला शंकर महतो ने कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच कॉलेज की क्षतिग्रस्त हुई बाउंड्री का निर्माण कराया था। शाम में करीब छह बजे अधिकारियों के वहां से निकलने के बाद मध्य रात बारह बजे माफियाओं ने निर्माण की गई चारदीवारी को पूरी तरह तोड़ डाली। सुरक्षा प्रभारी राजेश महतो ने बताया कि जब अचानक कॉलेज के दक्षिण दिशा में स्थित काजू बागान की ओर से बाउंड्री गिरने की आवाज उन्होंने सुनी, तो वे अपने सहायक प्रकाश कुमार के साथ वहां पहुंचे। वहां देखा कि मुर्राम कला निवासी शंकर महतो, सूबेदार महतो व टिकेश्वर महतो करीब 20 अन्य लोगों के साथ चारदीवारी को ध्वस्त कर तोड़ने का काम कर रहे हैं। जब सुरक्षा प्रहरियों ने उन्हें मना किया, तो चारदीवारी ध्वस्त कर रहे बदमाशों ने अचानक पथराव करना शुरू कर दिया। पत्थरबाजी होने के बाद वह वहां से भाग कर प्रशासनिक भवन की ओर आ गए। पूरे घटनाक्रम को लेकर थाना प्रभारी विद्याशंकर ने बताया कि इस पूरे मामले में छानबीन कर उचित कार्रवाई की जा रही है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.