Jharkhand Politics: हेमंत सरकार में शामिल कांग्रेस कोटे के मंत्रियों का आकलन करे पार्टी नेतृत्व, विधायक इरफान ने उठाई मांग

Jharkhand Politicsहेमंत सरकार में शामिल कांग्रेस कोटे के मंत्रियों का आकलन करने की मांग कांग्रेस के ही जामताड़ा विधायक डा. इरफान अंसारी ने उठाई है। उन्होंने मांग की है कि प्रदेश कांग्रेस प्रभारी आरपीएन सिंह और प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर मंत्रियों के परफार्मेंस का आकलन करें।

Vikas SrivastavaTue, 16 Nov 2021 04:25 PM (IST)
जामताड़ा विधायक डा. इरफान अंसारी ने कांग्रेस कोटे के मंत्रियों के आकलन की मांग की है।

रांची,जासं। राज्य में सत्तारूढ़ झामुमोनीत गठबंधन के अहम सहयोगी कांग्रेस में मंत्री पद को लेकर नए सिरे से खींचतान आरंभ होने के संकेत मिल रहे हैं। जामताड़ा के विधायक डा. इरफान अंसारी ने हेमंत सोरेन मंत्रिमंडल में शामिल कांग्रेस कोटे के मंत्रियों के परफार्मेंस पर ही सवाल खड़ा कर दिया है। उनका कहना है कि कांग्रेस कोटे के मंत्रियों का परफार्मेंस ठीक नहीं है। प्रदेश कांग्रेस प्रभारी आरपीएन सिंह और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजेश ठाकुर स्वयं इसका आकलन कर निर्णय लें।

उन्होंने दावा किया कि उनके साथकई और विधायक हैं जो चाहते हैं कि मंत्रियों के कामकाज का आकलन हो और इन चारों मंत्रियों के स्थान पर नए लोगों को मंत्रिमंडल में शामिल किया जाए। बकौल इरफान, इन मंत्रियों को काफी मौका मिल चुका है। अब समय आ गया है कि नए लोगों को भी काम करने का मौका दिया जाए। यह संगठन के व्यापक हित में होगा कि अन्य विधायकों को भी अपनी उपयोगिता साबित करने का अवसर मिलना चाहिए। प्रदेश कांग्रेस प्रभारी और प्रदेश अध्यक्ष को इस संबंध में निर्णय करें।

जल्द ही वे पार्टी के कई विधायकों के साथ नई दिल्ली जाएंगे और दल के वरिष्ठ नेताओं को भी अपनी भावनाओं से अवगत कराएंगे। इरफान ने कहा कि कांग्रेस कोटे के मंत्रियों का कामकाज और उपलब्धि ठीक नहीं है। भले ही सरकार में बैठे लोगों को ऐसा नहीं लग रहा है, लेकिन जनता के बीच जाना मुश्किल हो रहा है। यही स्थिति रही तो अगले चुनाव में काफी दिक्कतें पेश होगी। ऐसे में नेतृत्व को चाहिए कि अल्पसंख्यक, आदिवासी, पिछड़े समुदाय के साथ-साथ महिला विधायक को मौजूदा मंत्रियों के स्थान पर मौका दें। सरकार के दो साल पूरे होने जा रहे हैं। आधा कार्यकाल के लिए अन्य लोगों को अवसर देना न्यायोचित होगा।

ये हैं कांग्रेस कोटे के चार मंत्री

1. आलमगीर आलम - संसदीय कार्य विभाग, ग्रामीण विकास विभाग, (ग्रामीण कार्य, पंचायती राज एवं एनआरइपी विशेष प्रमंडल सहित) 2. रामेश्वर उरांव - योजना सह वित्त विभाग, खाद्य, सार्वजनिक वितरण तथा उपभोक्ता मामले विभाग।3. बन्ना गुप्ता - स्वास्थ्य, चिकित्सा शिक्षा एवं परिवार कल्याण विभाग, आपदा प्रबंधन विभाग।4. बादल - कृषि, पशुपालन एवं सहकारिता विभाग।

प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर हैं फिलहाल दौरे पर

कांग्रेस कोटे के मंत्रियों को हटाने की उठी मांग के बीच प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजेश ठाकुर फिलहाल कोल्हान के दौरे पर हैं। वे केंद्र सरकार के खिलाफ जनजागरण अभियान के तहत कार्यक्रम कर रहे हैं। मंगलवार को उन्होंने चाईबासा, सरायकेला, घाटशिला, मुसाबनी आदि इलाकों का दौरा किया। उनके राजधानी वापस लौटने पर मंत्रियों को हटाने की मुहिम तेज हो सकती है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.