Para Teachers: परमानेंट करने पर अड़े पारा शिक्षक, 15 से घेरेंगे झारखंड विधानसभा...

Para Teachers Jharkhand स्थायीकरण, वेतनमान तथा अन्य मांगों को लेकर पारा शिक्षकों ने फिर आंदोलन शुरू की चेतावनी दी है।

Para Teachers Jharkhand स्थायीकरण वेतनमान तथा अन्य मांगों को लेकर पारा शिक्षकों ने फिर आंदोलन करने की चेतावनी दी है। एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा ने कहा कि उनकी मांगों पर 14 मार्च तक कार्रवाई नहीं हुई तो 15 से 19 मार्च तक पारा शिक्षक विधानसभा का घेराव करेंगे।

Alok ShahiSun, 28 Feb 2021 08:18 PM (IST)

रांची, राज्य ब्यूरो। Para Teachers Jharkhand स्थायीकरण, वेतनमान तथा अन्य मांगों को लेकर लगातार आंदोलन कर रहे पारा शिक्षकों ने एक बार फिर आंदोलन शुरू की चेतावनी दी है। एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा की राज्य कमेटी की शनिवार को रांची में हुई बैठक में निर्णय लिया गया कि उनकी मांगों पर 14 मार्च तक कार्रवाई नहीं हुई तो 15 से 19 मार्च तक पारा शिक्षक विधानसभा का घेराव करेंगे।

इनकी मांगों में स्थायीकरण करते हुए वेतनमान, अप्रशिक्षित/एनसी अंकित पारा शिक्षकों के 22 माह का बकाया मानदेय भुगतान, पलामू के छतरपुर, नौडीहा बाजार प्रखंड के 436 पारा शिक्षकों के बकाया मानदेय भुगतान, पूर्व सरकार द्वारा पारा शिक्षकों पर दर्ज मुकदमा वापस करने आदि शामिल हैं।

बैठक में तय हुआ कि विधानसभा घेराव कार्यक्रम में 15 मार्च को गिरिडीह, रामगढ़, देवघर, लोहरदगा तथा पूर्वी सिंहभूम, 16 मार्च को चतरा, गढ़वा, सिमडेगा, गोड्डा, पश्चिमी सिंहभूम, 17 मार्च को हजारीबाग, लातेहार, पाकुड़, रांची, खूंटी, 18 मार्च को पलामू, धनबाद, कोडरमा, सरायकेला खरसावां तथा 19 मार्च को गुमला, दुमका, जामताड़ा, साहेबगंज, बोकारो के पारा शिक्षक शामिल होंगे। बैठक में राज्य इकाई के ऋषिकेश पाठक, सिंटू सिंह, दशरथ ठाकुर, प्रमोद कुमार, मोहन मंडल आदि शामिल हुए।

सहयोगी-शिक्षा मित्र पारा शिक्षक संघ में फूट

एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा की एक इकाई झारखंड राज्य सहयोगी/शिक्षामित्र पारा शिक्षक संघ में फूट हो गई है। इस संघ के पूर्व अध्यक्ष विनोद तिवारी ने शनिवार को आनन-फानन में संघ का चुनाव करा लिया। इसमें वे प्रदेश अध्यक्ष निर्वाचित हो गए। वहीं, नरोत्तम सिंह मुंडा महासचिव तथा बैद्यनाथ महतो कोषाध्यक्ष निर्वाचित हुए। इधर, संघ के वर्तमान अध्यक्ष हृषिकेश पाठक की अगुवाई में शनिवार को ही रांची के मोरहाबादी मैदान में बैठक हुई जिसमें विनोद तिवारी को पांच साल तथा नरोत्तम सिंह मुंडा तथा बैद्यनाथ महतो को तीन साल के लिए संघ से निष्कासित कर दिया गया।

एक गुट ने आनन-फानन में करा लिया चुनाव

बैठक में कहा गया कि तीनों लगातार संघ विरोधी कार्य कर रहे थे तथा पारा शिक्षकों को दिग्भ्रमित कर संघ को तोड़ने का प्रयास कर रहे थे। हृषिकेश पाठक ने कहा है कि एक-दो प्रखंड के पारा शिक्षकों को बुलाकर निर्वाचन कराना वैध नहीं हो सकता। बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि संघ का चुनाव मार्च के अंतिम सप्ताह में करा लिया जाएगा। बता दें कि स्थायीकरण व वेतनमान की मांग को लेकर मुख्य आंदोलन एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा कर रहा है, जिसमें यह संघ भी प्रमुख रूप से शामिल है। इस संघ के फूट से मोर्चा के नेता भी चिंता में हैं। बता दें कि हाल ही में मोर्चा से अलग एक अन्य संघ झारखंड प्रशिक्षित पारा शिक्षक संघ भी गठित हो गया है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.