आत्म संयम और व्यक्तिगत अनुशासन से ही कोरोना की रफ्तार पर लगेगा ब्रेक

आत्म संयम और व्यक्तिगत अनुशासन से ही कोरोना की रफ्तार पर लगेगा ब्रेक। जागरण

कोरोना संक्रमण के चेन को तोड़ने के लिए राज्य सरकार ने स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह की घोषणा की है। 22 अप्रैल की सुबह छह बजे से 29 अप्रैल की सुबह छह बजे तक यह प्रभावी रहेगा। इस दौरान बिना आवश्यक कार्य से सड़क पर निकलना वर्जित रहेगा।

Vikram GiriWed, 21 Apr 2021 04:32 PM (IST)

रांची, जासं । कोरोना संक्रमण के चेन को तोड़ने के लिए राज्य सरकार ने स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह की घोषणा की है। 22 अप्रैल की सुबह छह बजे से 29 अप्रैल की सुबह छह बजे तक यह प्रभावी रहेगा। इस दौरान बिना आवश्यक कार्य से सड़क पर निकलना वर्जित रहेगा। आवश्यक सेवाएं, अस्पताल, मेडिकल दुकानें आदि खुली रहेगी। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए आवश्यक है लोग अपने-अपने घरों में रहे। इससे कोरोना का चेन टूटेगा और संक्रमण के बढ़ते रफ्तार पर ब्रेक भी लगेगा।

लॉकडाउन का पालन न किया तो भुगतने होंगे गंभीर परिणाम:एसएसपी

राज्य सरकार ने आमलोगों की भलाई के लिए ही लॉक डाउन की घोषणा की है। कोरोना का चेन तोड़ने के लिए आवश्यक है कि लोग अपने-अपने घरों में ही रहे। किसी प्रकार के अफवाह पर ध्यान न दें। खुद की सुरक्षा के साथ-साथ परिवार और समाज की सुरक्षा का ख्याल रखते हुए रांची पुलिस आमलोगाें से विनम्र निवेदन करती है कि आवश्यक न हो तो घर से न निकले। आमलोगों की सहभागिता से ही लॉक डाउन का अनुपालन सुनिश्चित हो सकता है। रांची पुलिस आपलोगों के साथ सदैव तत्पर है। -सुरेंद्र झा, एसएसपी

अफरा-तफरी का माहौल न बनाये, लॉक डाउन का पालन करें: सांसद

कोरोना भयावह रूप ले चुका है। प्रतिदिन लोग अपनों को खो रहे हैं। इसके बावजूद सड़कों पर भीड़ कम न होना दुखद है। लोग कम से कम परिजनों की चिंता तो करें। बिना आवश्यक घर से न निकलने में ही भलायी है। कोरोना का चेन तोड़ने के लिए लॉक डाउन प्रभावी कदम है। हम सबको सरकारी निर्देश का पालन करना चाहिए। अफरा-तफरी का माहौल न बनाये। आवश्यक सेवाएं सुचारू से चलेगी। खाने पीने की चीजों की कोई समस्या नहीं होगी। घर में रहकर रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए योग-प्रणायाम करें। -संजय सेठ, सांसद

खुद सुरक्षित रहें, समाज के अन्य लोगों की करें चिंता: केशव राजू

दो मई से 18 वर्ष से ऊपर के लोगों को कोरोना के टीके लगाये जायेंगे। टीका लेने से न चूके। सामाजिक व धार्मिक संगठन भी आमलोगों को टीका के लिए प्रेरित करें। वर्तमान में झारखंड के गांव-गांव तक कोरोना का संक्रमण फैल गया। अंतिम विकल्प के रूप में लॉक डाउन का फैसला लिया गया है। इस समय खुद को सुरक्षित रखते हुए आसपास के लोगों की भी मदद करें। रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए अच्छा खानपान और नियमित रूप से योग प्राणायाम करते रहे। परिवार में अगर कोई संक्रमित हो गया हो तो घबराये नहीं संयम से काम लें। -केशव राजू, क्षेत्र संगठनमंत्री, विश्व हिंदू परिषद

आत्म संयम से कोरोना होगा काबू, लॉक डाउन का करें पालन: योग गुरु मुक्त रथ

कोरोना पर काबू पाने के लिए आत्म संयम आवश्यक है। यह समझें आखिर लॉकडाउन लगाने की आवश्यकता क्यों पड़ी। अगर हम अब भी नहीं चेते तो कईयों जान जायेगी। लॉक डाउन के दौरान खुद का ख्याल रखें। खाली समय अच्छी पुस्तकें पढ़े। सुबह शाम योग-प्राणायाम करें। इससे रोग प्रतिरोधक क्षमता में विकास होता है। कई योग गुरु इन दिनों ऑनलाइन योगा क्लास कराते हैं। इससे भी जुड़ सकते हैं। सकारात्मक विचार रखें। सकारात्मक बातें सोचेंगे तो मन के साथ सेहत भी दुरुस्त रहेगा।

योग गुरु मुक्त रथ

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.