News For Teachers: नई बहाली में कम होगा शिक्षकों का वेतनमान... सरकार लेने जा रही बड़ा फैसला

News For Teachers आने वाले दिनों में हजारों पदों पर होने वाली नई बहाली में प्राथमिक शिक्षकों का वेतनमान कम होगा। वे अब सहायक अध्यापक कहलाएंगे। राज्य सरकार प्राथमिक शिक्षक नियुक्ति प्रक्रिया में बदलाव करने जा रही है। अभी प्राथमिक शिक्षक इंटर प्रशिक्षित या स्नातक प्रशिक्षित शिक्षक कहलाते हैं।

Alok ShahiPublish:Wed, 17 Nov 2021 12:00 AM (IST) Updated:Wed, 17 Nov 2021 12:03 AM (IST)
News For Teachers: नई बहाली में कम होगा शिक्षकों का वेतनमान... सरकार लेने जा रही बड़ा फैसला
News For Teachers: नई बहाली में कम होगा शिक्षकों का वेतनमान... सरकार लेने जा रही बड़ा फैसला

रांची, [नीरज अम्बष्ठ]। राज्य में प्राथमिक शिक्षकों की नियुक्ति में बड़ा बदलाव किया जा रहा है। अब प्राथमिक शिक्षकों की नियुक्ति नए वेतनमान में होगी जो पूर्व के वेतनमान से कम होगी। साथ ही अब प्राथमिक शिक्षक अब सहायक अध्यापक कहलाएंगे। वर्तमान में प्राथमिक स्कूलों में कार्यरत शिक्षक इंटर प्रशिक्षित या स्नातक प्रशिक्षित शिक्षक कहलाते हैं। राज्य सरकार प्राथमिक शिक्षकों की नियुक्ति नियमावली में यह संशोधन करने जा रही है। इसका प्रस्ताव विभागीय मंत्री जगरनाथ महतो की स्वीकृति के लिए भेजा गया है।

अबतक प्राथमिक शिक्षकों की नियुक्ति 9300-34800 वेतनमान में होती थी। साथ ही इंटर प्रशिक्षित शिक्षकों (कक्षा एक से पांच) को 4200 तथा स्नातक प्रशिक्षित शिक्षकों (कक्षा छह से आठ) को 4600 ग्रेड पे दिया जाता था। अब वेतनमान घटाकर 5200-20200 किया जा रहा है। कक्षा एक से पांच के लिए नियुक्त होनेवाले सहायक अध्यापकों को अब 2400 तथा कक्षा छह से आठ के लिए नियुक्त होनेवाले सहायक अध्यापकों को 2800 ग्रेड पे देय होगा। बता दें कि राज्य सरकार प्राथमिक शिक्षकों के लगभग 70 हजार नए पद सृजित करने जा रही है। इन पदों पर नियुक्ति संशोधित नियमावली के तहत ही होगी।

झारखंड से दसवीं व बारहवीं उत्तीर्ण होना अनिवार्य

प्राथमिक शिक्षकों की नियुक्ति में भी अनारक्षित श्रेणी के अभ्यर्थियों को राज्य के मान्यता प्राप्त संस्थानों से मैट्रिक तथा इंटरमीडिएट उत्तीर्ण होना अनिवार्य होगा। संशोधित नियुक्ति नियमावली में इसका भी प्रविधान किया गया है। बता दें कि राज्य सरकार ने तृतीय व चतुर्थ श्रेणी में नियुक्ति के लिए झारखंड से मैट्रिक एवं इंटरमीडिएट उत्तीर्ण होना अनिवार्य किया है। आरक्षित श्रेणी के अभ्यर्थियों के लिए इस अनिवार्यता को शिथिल किया गया है। साथ ही अभ्यर्थियों के लिए स्थानीय रीति रिवाज, भाषा एवं परिवेश की जानकारी अनिवार्य की गई है।

झारखंड कर्मचारी चयन आयोग आयोजित करेगा परीक्षा

प्राथमिक शिक्षकों की नियुक्ति के लिए जहां शिक्षक पात्रता परीक्षा उत्तीर्ण होना अनिवार्य होगा, वहीं अभ्यर्थियों को अब एक और परीक्षा उत्तीर्ण करना होगा। यह परीक्षा झारखंड कर्मचारी चयन आयोग द्वारा आयोजित की जाएगी। वर्तमान में प्राथमिक शिक्षकों की नियुक्ति जिला स्तर पर शिक्षक पात्रता परीक्षा के अंकों व अकादमिक अंकों के आधार पर मेधा सूची बनाकर की जाती है। नई बहाली में यह व्यवस्था भी बदल जाएगी।