top menutop menutop menu

एचईसी की जमीन पर कब्जा कर रहे भूमाफिया पर कार्रवाई करे पुलिस

जागरण संवाददाता, रांची : लॉकडाउन के दौरान एचईसी की जमीन पर अतिक्रमण के मामले काफी ज्यादा बढ़े हैं। कई बार कोशिशों के बाद भी एचईसी के सुरक्षा गार्ड के द्वारा स्थिति पर काबू नहीं पाया जा सका है। इसे देखते हुए एचईसी के सुरक्षा प्रभारी अरविद कुमार सिन्हा ने डीआइजी और एसएसपी को पत्र लिखकर भूमाफिया युवराज झा के खिलाफ कार्यवाई करने की अपील की है। पत्र में बताया गया कि उसके खिलाफ धुर्वा थाने में कई प्राथमिकी भी दर्ज है। इसके बाद भी उसका एक गैंग एचईसी के जमीन पर रात में निर्माण करता है। उसने घर बनाकर कई झारखंड पुलिस के कर्मचारी, सीआइएसएफ व सेना जवान, वकील आदि को बेचा है। इससे वहां खाली कराना मुश्किल हो रहा है। कंपनी ने बताया है कि पिछले महीने भी कब्जा खाली कराने गये एचईसी के सुरक्षा गार्ड के साथ उसने मारपीट की थी। इस मामले में भी एक एफआईआर 119/20 धुर्वा थाने में दर्ज की गयी है। इसके अलावा सरकारी जमीन कब्जा करने, मारपीट और धोखाधड़ी के कई मामलों के साथ एफआईआर संख्या 196/19 और 197/19 भी दर्ज है। कैसे काम करता है गैंग::

युवराज झा के गैंग में करीब 30 के आसपास लोग काम करते हैं। इसमें ज्यादातर लोग मजदूर का काम करते हैं। वो खुद बालू, ईट और सीमेंट का कारोबार करता है। रात के आठ बजे के बाद या सरकारी अवकाश वाले दिन गैंग सक्रिय होता है। रातों रात कब्जा की गयी जमीन पर ईंट, बालू और सीमेंट गिराई जाती है। इसके बाद मजदूर तेजी से काम करते हैं। कोशिश होती है कि एक काम में बेस, दूसरी रात में लिंटर और तीसरे रात में छत डाल दी जाये। काम इतनी तेजी और गोपनीय तरीके से होता है कि किसी को कुछ खबर ही नहीं लगती है। जो व्यक्ति किसी तरह की रोक टोक करता है उसपर पूरा गैंग एक साथ हमला करता है। इससे आसपास के लोगों में भी दहशत रहती है। लॉकडाउन में ओल्ड एसटी के इलाके में युवराज झा के लोगों के द्वारा करीब 25 पक्के घरों का निर्माण किया गया है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.