पहाड़ी मंदिर के पिछले हिस्से में शरारती तत्व ने लगाई आग

पहाड़ी मंदिर के पिछले हिस्से में शरारती तत्व ने लगाई आग

सूचना मिलने पर फायर ब्रिगेड की टीम मौके पर पहुंची बुझाई आग।

JagranSun, 07 Mar 2021 08:17 AM (IST)

फायर ब्रिगेड की टीम मौके पर पहुंच बुझाई आग

जागरण संवाददाता, रांची: शनिवार को रात आठ बजे के आसपास पहाड़ी मंदिर के पिछले हिस्से के झाड़ी में शरारती तत्व ने आग लगा दी। गर्मी की वजह से आग तुरंत भड़क उठी। आसपास के लोगों ने तुरंत इसकी सूचना सुखदेवनगर थाना पुलिस को दी। पुलिस की सूचना पर फायर ब्रिगेड की दो गाड़ियां मौके पर पहुंची। समय रहते आग पर काबू पा लिया गया। पहाड़ी मंदिर विकास समिति के कोषाध्यक्ष अभिषेक आनंद ने कहा कि घास में आग लग गई थी। समिति की ओर से परिसर की साफ-सफाई की जाएगी।

बिजली विभाग ने शुरू की गर्मी की तैयारी, सभी ट्रांसफार्मरों का होगा निरीक्षण

झारखंड बिजली वितरण निगम लिमिटेड रांची में बिजली आपूर्ति के सुधार के लिए कवायद शुरू कर दी है। गर्मी में लोगों को परेशानी का सामना नहीं करना पड़े इसके लिए अब शट डाउन के नियम सख्त कर दिए गए हैं। दो घंटे से अधिक का शटडाउन अब अधीक्षण अभियंता की अनुमति के बिना नहीं लिया जा सकेगा। कम समय के शटडाउन के लिए जेई या एसडीओ की अनुमति पर्याप्त होगी। दो घंटे तक का शट डाउन कार्यपालक अभियंता की अनुमति के बाद ही दिया जा सकेगा।

सामान्य हालात में सुबह 11 बजे से सवा 11 बजे तक और रात को 10 बजे से सवा 10 बजे तक ही शट डाउन लिया जा सकेगा। ये नियम इसलिए बनाए गए हैं ताकि गर्मी में अधिक देर तक के शटडाउन से इलाके के लोगों को बिजली कटने पर परेशानी नहीं हो। ये फैसले शनिवार को विभाग के महाप्रबंधक प्रभात कुमार श्रीवास्तव ने लिए हैं। उन्होंने सभी कार्यपालक अभियंता, जेई और एसडीओ को इन फैसलों से अवगत करा दिया है।

----

शहर के ट्रांसफार्मरों में पखवारे भर में डाला जाएगा आयल

महाप्रबंधक ने शहर के सभी पावर ट्रांसफार्मर के आयल लेवल और ब्रेकर की अर्थिंग की जांच हफ्ते भर के अंदर पूरी कर लेने की बात कही है। ट्रांसफार्मर में अगर आयल डालने की जरूरत है तो पखवारे भर में ऐसा कर लेना है।

-----

जल्द शुरू होगी टहनियों की छंटाई

गर्मी के दिनों में पेड़ों की टहनियों की छंटाई का काम भी कराने का आदेश है। 33 केवी, 11 केवी और एलटी लाइन का निरीक्षण भी किया जाएगा। एक हफ्ते के अंदर यह निरीक्षण पूरा कर लेने के निर्देश हैं। कहीं अगर पेड़ की टहनियां लाइन में सटने की संभावना है तो वहां टहनी की छंटाई का काम किया जाएगा। यही नहीं, ट्रांसफार्मर के डबल पोल पर भी लतर को साफ करने की हिदायत दी गई है।

------

मार्च में एक अरब की वसूली का लक्ष्य

झारखंड बिजली वितरण निगम लिमिटेड ने राजधानी में मार्च महीने में एक अरब रुपये का बिजली का बिल बकाया वसूल करने का लक्ष्य निर्धारित किया है। झारखंड बिजली वितरण निगम लिमिटेड के महाप्रबंधक ने सभी कार्यपालक अभियंताओं को पत्र लिखकर उनके वसूली लक्ष्य से अवगत करा दिया है। निर्देश दिया गया है कि शहरी उपभोक्ताओं पर अगर 10 हजार रुपये से ज्यादा का बिल बकाया है, तो उनके कनेक्शन काट दिए जाएंगे। इसी तरह ग्रामीण उपभोक्ताओं पर अगर पांच हजार रुपये का बिल बकाया है तो बिल जमा नहीं करने पर विद्युत कनेक्शन काटा जाएगा। अगर यह लोग किस्त में रकम जमा करना चाहते हैं तो उनसे किस्त में रकम ली जाएगी। कार्यपालक अभियंताओं को निर्देश दिया गया है कि वह सरकारी विभागों के अधिकारियों से भी संपर्क स्थापित कर बिजली का बिल भुगतान कराएं। राजधानी के बड़े उपभोक्ताओं की बिलिग की निगरानी कार्यपालक करेंगे।

-----

किसे कितना मिला वसूली का लक्ष्य

डोरंडा-10 करोड़, कोकर-15 करोड़, न्यू कैपिटल- 10 करोड़, रांची सेंट्रल- 10 करोड़, रांची ईस्ट-20 करोड़, रांची वेस्ट-20 करोड़, रांची ईस्ट- 20 करोड़ और खूंटी- पांच करोड़।

---

लोहरदगा में टीआरडब्ल्यू में काम शुरू

लोहरदगा में टीआरडब्ल्यू यानि ट्रांसफार्मर रिपेयरिग व‌र्क्स में काम शुरू हो गया है। यहां 25, 63, 100 और 200 केवीए क्षमता का ट्रांसफार्मर बनाया जाएगा। ये टीआरडल्यू चालू होने से अब लोहरदगा की गुमला पर निर्भरता खत्म हो गई है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.