Ranchi RIMS: इनकी हिम्मत तो देखिए..रिम्स से ग्रिल, रॉड, फेंसिंग की तारें बोरे में भरकर दिनदहाड़े कर रहे चोरी

Ranchi RIMS रिम्स से दिनदहाड़े सामानों की चोरी हो रही है लेकिन इसे रोकने वाला कोई नहीं है। हर दिन करीब 20 से 30 हजार रुपये के सामान गायब कर दिए जा रहे। बिल्डिंग मेटेरियल से लेकर रास्तों की बैरिकेडिंग व फेंसिंग भी चुरा लिया जा रहा है।

Mon, 06 Dec 2021 09:00 AM (IST)
Ranchi RIMS: इनकी हिम्मत तो देखिए..रिम्स से ग्रिल, रॉड, फें¨सग की तारें बोरे में भरकर दिनदहाड़े कर रहे चोरी

रांची(अनुज तिवारी)। Ranchi RIMS: रिम्स से दिनदहाड़े सामानों की चोरी हो रही है, लेकिन इसे रोकने वाला कोई नहीं है। हर दिन करीब 20 से 30 हजार रुपये के सामान गायब कर दिए जा रहे। यहां बिल्डिंग मेटेरियल से लेकर जितने भी रास्तों की बैरिकेडिंग व फेंसिंग की की गई है उसे ही चुरा लिया जा रहा है। रिम्स परिसर में खुलेआम चोरी पिछले कई सप्ताह से चल रही है, लेकिन इन पर निगाह रखने वाले सुरक्षाकर्मियों को भनक तक नहीं लग पा रही। आलम यह है कि चोर आराम से हर सामानों की रेकी करते हैं और बेखौफ होकर सामान उड़ा रहे हैं। चोरी के सामान को किस रास्ते से ले जाना है इसकी भी पूरी तरह से तैयारी की गई है। इसके लिए खास पगडंडी बनायी गई है जो रिम्स के स्टेडियम के पीछे से होते हुए जाती है और दीवार के पार सामान मौका देख फेंक दिया जाता है।

अभी तक लाखों रुपये की चोरी हो चुकी है यहां से :

रिम्स परिसर में अभी तक लाखों रुपये तक की चोरी यहां से हो गई है। हर दिन यहां से सरिया के छोटे टुकड़ें, एलुमिनियम के पाट््र्स, कङ्क्षटग ब्लेड सहित अन्य सामान जो भवन निर्माण के लिए मंगवाया गया है उनकी चोरी हो रही है। इसके साथ ही परिसर में प्रयोग में लायी गई बैरिकेङ्क्षडग को भी धीरे-धीरे कर गायब कर दिया जा रहा है। दूसरी ओर मिनी ऑडिटोरियम के रिनोवेशन में जितने भी स्क्रैप निकला व फेंङ्क्षसग में लगाए गए सामान की चोरी की जा रही है।

पूरा गिरोह देता है अंजाम, गिरोह में अधिकतर महिलाएं :

इस काम के लिए पूरा गिरोह काम करता है। इस गिरोह में करीब 20 सदस्य हैं, जिसमें अधिकतर महिलाएं शामिल हैं जो बारी-बारी कर इसकी चोरी को अंजाम देता है। गिरोह के सभी सदस्य रिम्स में बन रहे भवनों के चारों ओर घूमते रहते हैं। मौका मिलते ही सामान गायब हो जाता है। जो भी लोहे के सामान मिलते हैं उसे ये आराम से बोरे में भरकर उसे अपने साथ ले जाते हैं।

इधर, यहां से सड़क पर खड़ी गाड़ी में सामान लोड कर बरियातू रोड की ओर निकल गए। यह घटना हर दिन घटती है लेकिन कोई भी सुरक्षा कर्मी परिसर कर पेट्रोङ्क्षलग नहीं करते।

क्या कहते हैं निदेशक:

रिम्स के निदेशक डा कामेश्वर प्रसाद ने बताया कि अगर इस तरह की चोरी हो रही है तो इसकी जांच करायी जाएगी। साथ ही रिम्स की सुरक्षा में लगे सुरक्षाकर्मियों से पूछताछ की जाएगी। हर एक चोरी का हिसाब को देना होगा। परिसर की सुरक्षा और सु²ढ़ की जाएगी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.