गठबंधन पर बोले प्रदीप यादव- जिसकी जितनी जमीन, उतना मिले प्रतिनिधित्व

रांची, राज्य ब्यूरो। झारखंड विकास मोर्चा (झाविमो) के नेता व पोड़ैयाहाट के विधायक प्रदीप यादव महीनों बाद सोमवार को पार्टी के डिबडीह स्थित कार्यालय पहुंचे। पार्टी की ही एक नेत्री से दुव्र्यवहार के मामले में हाल ही में जेल से रिहा हुए प्रदीप यादव ने कहा कि उनपर लगाए गए आरोप बेबुनियाद हैं। यह भी कहा कि जब पार्टी अथवा व्यक्ति कमजोर होता है, तो उसपर तरह-तरह के आरोप लगते हैं। कहा कि सक्रिय राजनीति से कुछ महीनों तक दूर था, अब दलों की मंशा टटोल रहा हूं।

पहले कांग्रेस से मुलाकात हुई थी, अभी नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन से मिल कर आ रहा हूं। यह पूछने पर कि गठबंधन का क्या स्वरूप होगा, उन्होंने कहा कि चुनाव की अधिसूचना जारी होते ही सब साफ हो जाएगा। हां, इतना जरूर है कि जिसकी जितनी जमीन हो, उतना प्रतिनिधित्व मिलना चाहिए। आसन्न विधानसभा चुनाव की तैयारियों और विपक्षी दलों से हुई वार्ता के नतीजे से संबंधित पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा कि सभी दल राज्य का भला चाहता है।

महागठबंधन समेत अन्य सभी मुद्दों पर दलों के साथ चर्चा हुई है। चर्चा का यह दौर अनवरत जारी रहेगा। सभी दल बहरहाल जनता के बीच है। झाविमो के सत्ताधारी दलों के साथ तथाकथित तौर पर बढ़ती नजदीकियों की चर्चा को उन्होंने सिरे से खारिज किया। कहा, हर जुल्म सहकर पिछले 10 वर्षों से सरकार की गलत नीतियों का विरोध करता आया हूं। अफवाह फैलाने वालों की कोई जात नहीं होती।

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.