BJP ने कहा- झारखंड में भय का माहौल, कांग्रेस बोली- बड़ी जल्‍दी भूल गए मॉ‍ब लिंचिंग...

Jharkhand Politics News in hindi हेमंत सोरेन और बाबूलाल मरांडी।

Jharkhand Politics News in Hindi भाजपा के प्रदेश अध्‍यक्ष दीपक प्रकाश ने कहा है कि बदहाल कानून व्यवस्था से राज्य में भय और आतंक का वातावरण कायम हो गया है। कांग्रेस ने पलटवार करते हुए पूर्व सीएम रघुवर दास के शासनकाल में मॉब लिंचिंग की याद दिलाई।

Alok ShahiSat, 27 Feb 2021 05:54 AM (IST)

रांची, राज्य ब्यूरो। Jharkhand Politics News in hindi भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने कानून व्यवस्था की स्थिति को लेकर एराज्य सरकार को घेरा है। गुमला जिले के कामडारा प्रखंड के आमटोली टोले से लौटकर आए दीपक प्रकाश ने वहां घटी घटना को लेकर राज्य सरकार पर निशाना साधा। बीते मंगलवार को इस गांव में एक परिवार के पांच लोगों की हत्या कर दी गई थी।

दीपक प्रकाश ने कहा कि हेमंत सरकार में सबसे ज्यादा दलित और आदिवासी समाज के लोग प्रताड़ित हो रहे हैं। पूर्व में घटी घटनाओं का भी उन्होंने जिक्र किया। कहा कि ये सभी घटनाएं राज्य के हालात को बताने के लिए काफी हैं। राज्य में बड़े पैमाने पर घटित होने वाली घटनाओं में महिलाएं और बेटियां प्रभावित हुई हैं।  कामडारा में एक ही परिवार के पांच लोगों की नृशंस हत्या सुनियोजित तरीके से की गई है।

इस घटना को अंजाम देने के पूर्व गांव में अपराधियों ने बैठक कर योजना बनाई। खुफिया तंत्र पूरी तरह से विफल हो चुका है। आज अपराधियों के डर से क्षेत्र में भय और दहशत का माहौल है। पुलिस प्रशासन केवल डायन बिसाही के नाम पर घटना की लीपापोती करने में लगा है। जिस परिवार में तीन पीढियों की हत्या एक साथ कर दी गई हो, उस घर में केवल एक छोटी बच्ची जीवित है। राज्य सरकार उसकी जिम्मेवारी लेने की घोषणा करे।

लिंचिंग वाले दिन क्यों भूल गई भाजपा : कांग्रेस

झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता राकेश सिन्हा ने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश के उस बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है जिसमें उन्होंने प्रदेश में कानून व्यवस्था पर सवाल उठाया है। उन्होंने कहा कि महागठबंधन की सरकार में अविलंब अपराधियों की गिरफ्तारी की जा रही है। भाजपा अध्यक्ष को अपनी सरकार में विधि-व्यवस्था कैसी रही, इसका भी चिंतन करना चाहिए।

कांग्रेस ने कहा कि उनके शासनकाल में मुख्यमंत्री निवास के पास हत्या होती थी। अंधविश्वास के कारण पूर्व विधानसभा अध्यक्ष के क्षेत्र में पांच लोगों की हत्या, खूंटी में सात लोगों की हत्या, गोरक्षा के नाम पर दलितों की पीट कर हत्या रघुवर दास के शासनकाल में हुई। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मॉब लिंचिंग वाले वो दिन भूल गए हैं। हत्या पर राजनीति करने की पुरानी आदत भारतीय जनता पार्टी के नेताओं से छूट नहीं रही है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.