झारखंड के मंत्री चंपई सोरेन बोले, स्वास्थ्य सुविधाओं के विकास को लेकर सरकार गंभीर

Jharkhand News Hindi Samachar Health Facilities चंपई सोरेन ने कहा कि श्रमिकों पर अधिक फोकस है। ग्रामीण क्षेत्र में लोग संयमित हैं। इसके कारण अधिक परेशानी नहीं है। आपात स्थिति में लोगों को स्वास्थ्य सहूलियत का पूरा ध्यान रखा गया है।

Sujeet Kumar SumanMon, 26 Apr 2021 07:00 PM (IST)
Jharkhand News, Hindi Samachar, Health Facilities आपात स्थिति में लोगों को स्वास्थ्य सहूलियत का पूरा ध्यान रखा गया है।

रांची, राज्य ब्यूरो। Jharkhand News, Hindi Samachar, Health Facilities झारखंड सरकार ने स्वास्थ्य के बेहतर संसाधन विकसित किए हैं। प्राथमिकता भी स्वास्थ्य सुविधाओं का विकास है। अनुसूचित जनजाति, अनुसूचित जाति, अल्पसंख्यक विभाग एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग एवं परिवहन विभाग के मंत्री चंपाई सोरेन के मुताबिक वे पूर्व से ही इसे लेकर गंभीर हैं। राज्य सरकार ने भी विपरीत परिस्थितियों में इतनी तेजी से ढांचा खड़ा किया है। इससे लोगों को तत्काल राहत मिल रहा है।

यह संसाधन आने वाले दिनों में अधिकाधिक सशक्त होगा। वे कहते है कि उनका इलाका जमशेदपुर से सटा है और श्रमिक इधर-उधर करते हैं। इससे श्रमिकों को स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने पर अधिक फोकस करना पड़ता है। बीमारी की चपेट में वही ज्यादा आ रहे हैं। उन्हें पर्याप्त सुविधाएं उपलब्ध कराने का निर्देश औद्योगिक समूहों को दिया गया है। स्वास्थ्य सुविधाओं में बढ़ोतरी और मरीजों को तत्काल राहत पहुंचाने के लिए राज्य सरकार ने कोविड सर्किट का भी निर्माण किया है।

इससे लोगों को राहत मिल रहा है। आपात स्थिति में लोगों को स्वास्थ्य सहूलियत का पूरा ध्यान रखा गया है और स्थिति लगातार बेहतर हो रही है। मंत्री का कहना है कि ग्रामीण क्षेत्र में कोरोना पूरी तरह नियंत्रित है। इसकी कई वजहें हैं। गांव में बाहरी लोगों का आना-जाना कम होता है। इसके अलावा ग्रामीण शहर के लोगों के मुकाबले संयमित जीवन जीते हैं। इससे कोरोना को नियंत्रित करने में सफलता मिली है। हालांकि लोगों को इस संबंध में जागरूक करने का कार्य उनके स्तर से चल रहा है।

लोग कोरोना से बचाव के लिए सारे जरूरी निर्देशों का पालन करें, इसके लिए भी लगातार प्रयास चल रहा है। रोजाना प्रशासनिक अधिकारियों से बातचीत कर वे स्वयं स्थिति की जानकारी लेते हैं। कोरोना महामारी ने इस ओर भी ध्यान दिलाया है कि स्वास्थ्य संसाधनों का लोगों की जरूरत के लिहाज से ढांचा उपलब्ध हो। राज्य सरकार ने अपने बजट में इसका प्रावधान किया है।

सभी जनप्रतिनिधि भी अपनी निधि से इसमें सहायता कर रहे हैं। उनका ध्यान भी स्वास्थ्य को प्राथमिकता के स्तर पर रखने का है। उन्होंने स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह की सराहना करते हुए कहा कि राज्य सरकार ने लोगों के हित में निर्णय किया है। इससे जीविका और जीवन दोनों को बचाने में मदद मिलेगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.