दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

Jharkhand Lockdown E-Pass: ई-पास के बिना पकड़े गए तो FIR, पुलिस से उलझे तो जेल...

Jharkhand Lockdown Travel Guidelines: अगर आपके पास ई-पास नहीं है तो पकड़े जाने पर पुलिस आपके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करेगी।

Jharkhand Lockdown Travel Guidelines अगर आपके पास ई-पास नहीं है और आप वाहन लेकर घर से निकले हैं तो बच के। पकड़े जाने पर पुलिस आपदा प्रबंधन कानून व धारा 188 भादवि के तहत आपके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करेगी।

Alok ShahiSun, 16 May 2021 12:26 AM (IST)

रांची, राज्य ब्यूरो। Jharkhand Lockdown Travel Guidelines अगर आपके पास ई-पास नहीं है और आप वाहन लेकर घर से निकले हैं तो बच के। पकड़े जाने पर पुलिस आपदा प्रबंधन कानून व धारा 188 भादवि के तहत आपके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करेगी। इसके अलावा अगर आपने मास्क या फेसकवर नहीं पहना है तो 500 रुपये का जुर्माना अलग से देना पड़ेगा। पकड़े जाने पर पुलिस से उलझे तो सरकारी कार्य में बाधा से संबंधित धारा अलग से लगाई जाएगी। नियम-कानून की अनदेखी करने वाले जेल भेजे जाएंगे।

आज 1.2 लाख पास बने, महज 2075 इंट्री पास

राज्य में शनिवार को एक लाख 20 हजार से अधिक पास बनवाए गए जिनमें से सर्वाधिक आंकड़ा रांची और जमशेदपुर का रहा। रांची में कुल 37394 लोगों ने पास बनवाए और जमशेदपुर में 27693 लोगों ने पास बनवाए हैं। इस प्रकार दो जिलों का आंकड़ा मिलाकर ही आधे से अधिक के करीब हो गया। 64 हजार लोगों ने इन दो जिलों से पास बनवाए जबकि शेष 22 जिलों से 54 हजार के करीब लोगों ने पास बनवाए हैं। कुछ दिक्कतों को छोड़कर पास बनवाने की प्रक्रिया आसान ही रही।

रांची-जमशेदपुर के लोगों ने बनवाए 64 हजार पास, बाकी 22 जिलों में 54 हजार

झारखंड से इंटर स्टेट पास बनवानेवालों की संख्या 4567 रही है जबकि एक जिले से दूसरे जिले में जाने के लिए 25770 लोगों ने पास बनवाए हैं। अपने ही जिले की सीमाओं में आने-जाने के लिए 88244 लोगों ने पास बनवाए हैं। इसके अलावा 2075 लोगों ने इंट्री पास बनवाए हैं। इतने लोग विभिन्न सीमाओं से राज्य में प्रवेश करेंगे। राज्य में सबसे कम पास सिमडेगा से बना है जहां इंटर स्टेट आवेदनों की संख्या 35 रही और इंटर-डिस्ट्रिक्ट आवेदनों की संख्या 113 जबकि जिले में ही आने-जाने के लिए 180 लोगों ने आवेदन किया है। इस प्रकार कुल 328 लोगों के नाम पास निर्गत किया गया है। जामताड़ा (424), लातेहार (482), पाकुड़ (427), खूंटी (844) आदि कुछ जिलों में आवेदनों की संख्या कम रही है।

लोगों को परेशानी भी हुई

पहले दिन पास के लिए आवेदन करने में लोगों को परेशानियों का भी सामना करना पड़ा। कुछ इलाकों में सर्वर बहुत स्लो चलने की शिकायत मिली तो शाम के वक्त एकदम जाम जैसा माहौल रहा। घंटों मशक्कत के बाद लोगों का ई-पास बन पाया। अपर बाजार के राहुल कुमार ने बताया कि लगातार दो घंटे मशक्कत करने के बाद पास बन पाया। कोकर के सुमन ने भी बहुत धीमा रफ्तार और बीच में जाकर सर्वर के हैंग करने की शिकायतों के बारे में बताया। अब वे रविवार को इसके लिए आवेदन करेंगे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.