Jharkhand Coronavirus Update: झारखंड में आज मिले 44 कोरोना पॉजिटिव, 2 मौतें; जानें ताजा हाल

Jharkhand Coronavirus Update: रविवार को झारखंड में 44 कोरोना संक्रमित पाए गए।

Jharkhand Coronavirus Update रविवार को झारखंड में 9758 लोगों की कोराना जांच हुई जिनमें 44 संक्रमित पाए गए। रांची में 23 पूर्वी सिंहभूम में पांच खूंटी में तीन गुमला देवघर बोकारो हजारीबाग तथा रामगढ़ में दो-दो व चतरा कोडरमा तथा सरायकेला खरसावां में एक-एक मरीज की पहचान हुई।

Alok ShahiSun, 28 Feb 2021 10:02 PM (IST)

रांची, राज्य ब्यूरो। Jharkhand Coronavirus Update झारखंड में पिछले सात दिनों में छिटपुट ही सही तीन जिलों को छाेड़कर सभी जिलों में कोरोना के नए संक्रमित मिले हैं। सिर्फ गढ़वा, पाकुड़ तथा पलामू में ही नया संक्रमित नहीं मिला है। दूसरी तरफ, पुराने मरीजों के स्वस्थ होने से अधिक नए संक्रमित की पहचान हुई है। पिछले सात दिनों में पांच कोरोना मरीजों की मौत भी हुई है।

इधर, रविवार को राज्य के विभिन्न जिलों में 9,758 लोगों की कोराना जांच हुई, जिनमें 44 संक्रमित पाए गए। रांची में 23, पूर्वी सिंहभूम में पांच, खूंटी में तीन, गुमला, देवघर, बोकारो, हजारीबाग तथा रामगढ़ में दो-दो व चतरा, कोडरमा तथा सरायकेला खरसावां में एक-एक मरीज की पहचान हुई।

वहीं, राज्य में 24 घंटे के भीतर 40 मरीज स्वस्थ भी हुए। दूसरी तरफ, गढ़वा तथा रांची में एक-एक मरीज की मौत हो गई। गढ़वा में एकमात्र मरीज अभी भी संक्रमित था, जिसकी मौत हो गई। राज्य में कोरोना के सक्रिय मामले वर्तमान में 474 हैं।

बहुत जरूरी है बुजुर्गों और बीमारों के लिए टीका लेना

वैसे तो कोरोना के खात्मे के लिए सभी लोगों को कोराना का टीका लेना आवश्यक है, लेकिन बुज़ुर्गों और बीमारों के लिए तो यह टीका लेना और भी जरूरी है। इसका सबसे बड़ा कारण यह है कि कोरोना वायरस बुजुर्गों और बीमारों के लिए सबसे अधिक घातक साबित हुआ है। आंकड़ों के अनुसार, राज्य में 1,088 लोगों की जान कोरोना से गई है, जिनमें 831 मरीज (लगभग 76 फीसद) 50 वर्ष से अधिक आयु के थे। ऐसे में इस आयु वर्ग के लोगों के लिए उनका टीकाकरण बहुत जरूरी है।

बुजुर्गों और गंभीर रूप से बीमार लोगों के लिए सबसे अधिक घातक है कोरोना

बुजुर्गों एवं बीमार लोगों के सबसे अधिक जोखिम होने के कारण ही सरकार की प्राथमिकता में हेल्थ केयर वर्कर्स तथा फ्रंटलाइन वर्कर्स के बाद इनका टीकाकरण है। जब 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों का टीकाकरण होगा तो इन बीमारियों से ग्रसित 60 फीसद लोगों को ऐसे ही टीकाकरण हो जाएगा। गंभीर बीमारियों से जूझ रहे शेष 40 फीसद शेष लोग 45 से 59 वर्ष के हैं, जो हाई रिस्क जोन में हैं।

राज्य में कोरोना से मरनेवाले में 76 फीसद थे 50 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के

इनका भी कोराेना टीकाकरण उतना ही जरूरी है जितना कि 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों का टीकाकरण होना, क्योंकि जिन मरीजों की कोरोना से मृत्यु हुई है उनमें अधिसंख्य अन्य गंभीर बीमारियों से जूझ रहे थे। राष्ट्रीय स्वास्थ्य अभियान, झारखंड के निदेशक रविशंकर शुक्ला ने भी इस आयु वर्ग के लोगों के अलावा सभी स्वास्थ्य कर्मियों तथा फ्रंटलाइन वर्कर्स से अनिवार्य रूप से टीका लेने की अपील की है।

किस आयु में कितने मरीजों की हुई मौत

आयु - पुरुष - महिला - कुल

10 वर्ष से कम 02 02 0411 30 वर्ष 32 14 4631 50 वर्ष 154 52 20651 70 वर्ष 395 148 543 70 वर्ष से अधिक 233 55 288

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.