Hazaribagh Corona Update: हजारीबाग में तीसरी बार भागा कोरोना पॉजिटिव चोर, चिश्तिया मोहल्ले से पकड़ाया

Hazaribagh Corona Update: हजारीबाग में तीसरी बार भागा कोरोना पॉजिटिव चोर, चिश्तिया मोहल्ले से पकड़ाया

Hazaribagh Coronavirus News Update हजारीबाग में गुरुवार को फिर से 14 कोरोना संक्रमितों की पहचान की गई है। आज एक कोरोना पॉजिटिव एंबुलेंस का शीशा तोड़कर भाग निकला।

Publish Date:Thu, 16 Jul 2020 09:02 PM (IST) Author: Alok Shahi

हजारीबाग, जेएनएन। Hazaribagh Coronavirus News Update हजारीबाग में गुरुवार को फिर से 14 कोरोना संक्रमितों की पहचान की गई है। आज एक कोरोना पॉजिटिव एंबुलेंस का शीशा तोड़कर भाग निकला। दो थाने को सील कराने वाला और 29 पुलिसकर्मी व पदाधिकारियों को संक्रमित करने वाला चोरी का आरोपित कोरोना पॉजिटिव युवक एक बार फिर फरार हो गया है। इस बार आरोपित चोर एंबुलेंस से रांची जाने के क्रम में एंबुलेंस का शीशा तोड़कर फरार हुआ है। 

चिश्तिया मोहल्ले से पकड़ा गया कोरोना पॉजिटिव युवक

गुरुवार की रात एंबुलेंस का शीशा तोड़ फरार हुआ कोरोना संक्रमित आरोपित युवक को पुलिस ने पकड़ लिया है। आरोपित युवक को चिश्तिया मोहल्ले से लोगों के सहयोग से पकड़ा गया है। युवक की पहचान होने के बाद स्थानीय लोगों ने पुलिस को सूचना दी। बताया जा रहा है कि पूरी रात युवक मोहल्ले में ही घूम रहा था। ऐसे में पूरे मोहल्ले में डर का माहौल है। मालूम हो कि संक्रमित युवक चोरी का आरोपित है। इलाज के दौरान वह  तीसरी बार फरार हुआ था।

जानकारी के गुरुवार की शाम करीब करीब आठ बजे गाड़ी खाना चौक के पास वाहन धीमा होने के दौरान शीशा तोड़कर वह कूदकर फरार हो गया। इससे पूर्व कोरोना संक्रमित युवक दो बार मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल के कोरोना वार्ड से फरार हो चुका है। उसके फरार होने के बाद एक बार फिर से पुलिस महकमे में हड़कंप है। ज्ञात हो कि 10 दिन पूर्व उसे सारले विकास नगर में उसे 150 रुपये किराना दुकान से चोरी करते पकड़ा गया था।

कोरोना जांच के लिए उसे सदर थाने में रखा गया था । जांच में वह कोरोना संक्रमित पाया जाने के बाद उसे कोविड वार्ड में भर्ती कराया गया था। वही कोर्रा व सदर थाना के पदाधिकारियों को क्वारंटाइन  किया गया था। गुरुवार को  29 पुलिस कर्मी कोरोना पॉजिटिव भी पाए गए थे।  जानकारी के मुताबिक चोर सदर अस्पताल में भी लगातार परेशानी का सबब बना हुआ था। बताया जाता है कि उसे नशे की लत है। वह लंबे समय से खाना भी नही खा रहा था। दिया गया खाना फेंक दे रहा था।

अस्पताल से भी भागने की कोशिश

बताया जाता है कि लगातार बिगड़ती हालत की वजह से उसे रिम्स रेफर किया गया था। अस्पताल से एंबुलेंस में बैठाने के दौरान भी उसने भागने का प्रयास किया।  वहां पुलिस ने मौके पर पकड़ लिया। रस्सी से किसी तरह बांध कर उसे स्ट्रेचर पर लिटाया गया था। पुलिस की सुरक्षा में उसे रांची ले जाया जा रहा था। लेकिन, जैसे ही एंबुलेंस गाड़ी खाना चौक के पास पहुंची वह एंबुलेंस का शीशा तोड़कर फरार हो गया।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.